The Lallantop
Advertisement

जम्मू-कश्मीर में फिर से एनकाउंटर, तीन दिन में आतंकियों के साथ चौथी मुठभेड़

पिछले तीन दिनों में ये चौथी मुठभेड़ है और जम्मू संभाग के डोडा क्षेत्र में दूसरी. हालिया आतंकवादियों को खदेड़ने के लिए तलाशी और घेराबंदी अभियान चल रहा है.

Advertisement
jammu kashmir attack
जम्मू-कश्मीर में हो रहे हमलों की वजह से सुरक्षा बल की तैनाती बढ़ाई गई है. (फ़ोटो - PTI)
font-size
Small
Medium
Large
13 जून 2024
Updated: 13 जून 2024 09:52 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के डोडा ज़िले में सुरक्षा बलों और आतंकवादी गुटों के बीच फिर मुठभेड़ शुरू हो गई. हालिया अपडेट है कि इसमें एक जवान घायल हो गया है. पिछले तीन दिनों में ये चौथी मुठभेड़ है और जम्मू संभाग के डोडा क्षेत्र में दूसरी.

J&K पुलिस के एक बयान के मुताबिक़, हालिया आतंकवादियों को खदेड़ने के लिए तलाशी और घेराबंदी अभियान चल रहा है. इसके लिए अतिरिक्त बल तैनात किए गए हैं. ऐसा ही एक तलाशी दल भलेसा के घने जंगलों वाले कोटा टॉप इलाक़े में था, जब उन पर गोलियां चलने लगीं. सुरक्षा बलों ने जवाब दिया. मुठभेड़ के दौरान कॉन्स्टेबल फ़रीद अहमद घायल हो गए. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया और उनका इलाज चल रहा है.

डोडा-किश्तवाड़-रामबन रेंज के पुलिस उप महानिरीक्षक (DIG) श्रीधर पाटिल ने मीडिया को बताया,

पिछले कुछ दिनों से हमें ज़िला पुलिस की ख़ुफ़िया शाखा के ज़रिए आतंकवादियों की आवाजाही के बारे में जानकारी मिल रही थी. उसी के बाद सेना और पुलिस ने संयुक्त रूप से ऊंचाई वाले इलाक़ों में अस्थायी चौकियां स्थापित की हैं.

डोडा मुठभेड़ से ठीक दो दिन पहले कठुआ ज़िले में सुरक्षा बलों के साथ आतंकियों की मुठभेड़ रात भर चली थी. इसमें एक संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकवादी मारा गया था. इसी घटना में शामिल एक और आतंकवादी को बुधवार, 12 जून की सुबह मार गिराया गया. हालांकि, इसी ऑपरेशन में अर्धसैनिक बल का एक जवान शहीद हो गया था.

मंगलवार, 11 जून की शाम को डोडा के चटरगला के ऊपरी इलाक़ों में एक संयुक्त चौकी पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया था. इस हमले में राष्ट्रीय राइफल्स के पांच जवान और एक विशेष पुलिस अधिकारी (SPO) घायल हो गए थे.

ये भी पढ़ें - जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में सेना के तीन जवान शहीद, आतंकी चार AK-47 लेकर भाग गए 

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने डोडा ज़िले के हमलों में शामिल चार आतंकवादियों के स्केच जारी किए है. उनकी गिरफ़्तारी के लिए सूचना देने वाले को 20 लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की है. हर आतंकवादी की सूचना देने वाले को 5 लाख रुपये का नकद इनाम दिया जाएगा.

आतंकवाद से जुड़ी इन घटनाओं की इस हालिया सीरीज़ में सबसे पहला और ख़तरनाक़ हमला 9 जून को हुआ था. जम्मू-कश्मीर के रियासी में तीर्थयात्रियों को ले जा रही एक बस पर आतंकवादियों ने गोलियां चला दी थीं. ड्राइवर को गोली लगी और बस खाई में जा गिरी. इस हमले में नौ तीर्थयात्रियों की मौत हो गई और 33 घायल हो गए. 

वीडियो: कश्मीर में 72 घंटे में तीसरी बार आतंकी हमला, कठुआ में एक आतंकवादी ढेर

thumbnail

Advertisement

Advertisement