The Lallantop
Advertisement

टाटा और सिंगापुर एयरलाइन की बड़ी डील, एयर इंडिया में मिल जाएगी विस्तारा

बताया जा रहा है कि इस डील के बाद एयर इंडिया 218 विमानों के संयुक्त बेड़े के साथ देश की अग्रणी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस कंपनी बन जाएगी.

Advertisement
air india vistara merger
(फाइल फोटो)
29 नवंबर 2022 (Updated: 29 नवंबर 2022, 22:58 IST)
Updated: 29 नवंबर 2022 22:58 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

टाटा ग्रुप (Tata Group) ने विस्तारा (Vistara) और एयर इंडिया (Air India) का विलय करने की घोषणा की है. इसके चलते अब एयर इंडिया 218 विमानों के संयुक्त बेड़े के साथ देश की अग्रणी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस कंपनी बन जाएगी. कंपनी ने कहा कि सभी जरूरी मंजूरियां मिलने के बाद विस्तारा का एयर इंडिया में विलय हो जाएगा. रिपोर्ट के मुताबिक सिंगापुर एयरलाइंस (SIA) एयर इंडिया में 2,059 करोड़ रुपये का निवेश करेगा और विलय के बाद एयर इंडिया में उसकी हिस्सेदारी 25.1 फीसदी हो जाएगी.

इस करार के संबंध में लेनदेन मार्च 2024 तक पूरा होने की संभावना जताई गई है. टाटा सन्स के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन ने कहा,

'एयर इंडिया को विश्व स्तरीय एयरलाइन बनाने की हमारी यात्रा में यह विलय एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है. हम ग्राहकों को शानदार अनुभव प्रदान करने के उद्देश्य से एयर इंडिया में बदलाव ला रहे हैं. इन बदलावों के तहत एयर इंडिया अपने नेटवर्क और बेड़े दोनों को बढ़ाने, सुरक्षा और विश्वसनीयता की ओर ध्यान केंद्रित कर रही है.'

उन्होंने आगे कहा,

'हम एक मजबूत एयर इंडिया बनाने के अवसर को लेकर उत्साहित हैं, जो घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मार्गों पर फुल-सर्विस और कम लागत वाली सेवा दोनों प्रदान करेगी.'

वहीं सिंगापुर एयरलाइन्स के सीईओ गोह चून फोन्ग ने कहा, 

'टाटा सन्स भारत में सबसे स्थापित और सम्मानित नामों में से एक है. साल 2013 में हमारे द्वारा मिलकर विस्तारा को स्थापित किया गया था. यह एक बड़ी एयलाइन्स बनकर उभरी है, जिसने कम समय में कई वैश्विक पुरस्कार जीते हैं.'

उन्होंने आगे कहा,

'इस विलय के चलते टाटा के साथ हमारे संबंध और मजबूत होंगे. साथ ही भारत के विमानन बाजार में सीधे भाग लेने का अवसर मिलेगा. हम एयर इंडिया में हो रहे बदलावों का सहयोग करेंगे, जिससे वैश्विक स्तर पर यह फिर बड़ी एयरलाइन्स के रूप में अपनी स्थिति वापस पा सकेगी.'

टाटा सन्स ने अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड के माध्यम से 27 जनवरी, 2022 को एयर इंडिया में 100 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल कर ली थी. विस्तारा में टाटा सन्स की 51 फीसदी और सिंगापुर एयरलाइंस की 49 फीसदी हिस्सेदारी है. यह एयलाइन्स मध्य पूर्व, एशिया और यूरोप में चलती है.

खर्चा पानी: चाइनीज मोबाइल कंपनी शियोमी को किस बात का डर सता रहा?

thumbnail

Advertisement