The Lallantop
Advertisement

यौन उत्पीड़न के आरोपी को पकड़ने के लिए AIIMS के इमरजेंसी वार्ड में घुसी पुलिस की गाड़ी, VIDEO वायरल

दावा है कि Viral Video उस वक्त का है जब पुलिस Molestation Case में आरोपी नर्सिंग अफसर को अरेस्ट करने गई थी. मरीजों की जान को खतरे में डालते हुए पुलिस कथित तौर पर गाड़ी के साथ इमरजेंसी वार्ड में घुस गई.

Advertisement
aiims rishikesh molestation case accused arrested police vehicle enters hospital video viral
AIIMS ऋषिकेश में घुसी पुलिस की गाड़ी (फोटो- X)
23 मई 2024
Updated: 23 मई 2024 08:52 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

एम्स ऋषिकेश में महिला डॉक्टर के साथ यौन उत्पीड़न का मामला सामने आया (AIIMS Rishikesh Molestation Case) है. आरोपी नर्सिंग अफसर को अरेस्ट कर लिया गया है. इस बीच घटना से जुड़ा एक कथित वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. दिख रहा है कि पुलिस की गाड़ी अस्पताल के अंदर घुस रही है. आस-पास स्ट्रेचर पर मरीज लेेटे हुए हैं. कहा जा रहा है कि मरीजों की जान को खतरे में डालते हुए पुलिस गाड़ी के साथ अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में घुस गई.

वीडियो में दिख रहा है कि एक पुलिसकर्मी अस्पताल में एंटर कर रहा है और पीछे से सरकारी गाड़ी आ रही है. गाड़ी देखते ही वहां मौजूद मरीज, अस्पताल के कर्मचारी और सिक्योरिटी गार्ड्स के बीच अफरा तफरी मच जाती है. एक सुरक्षाकर्मी गाड़ी को रोकता है और उसके रास्ते पर आ रहे मरीजों के स्ट्रेचर्स को किनारे करता है. गाड़ी धीरे-धीरे आगे बढ़ती जा रही है.

सोशल मीडिया पर वीडियो को खूब शेयर किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि वीडियो उस वक्त का है जब पुलिस यौन उत्पीड़न मामले में आरोपी नर्सिंग अफसर को अरेस्ट करने गई थी. दावा है कि वीडियो अस्पताल के चौथे फ्लोर का है. गाड़ी वहां तक कैसे पहुंची इस बात की जानकारी सामने नहीं आई है.

मामले को लेकर एम्स चौकी प्रभारी विनेश कुमार ने एक मीडिया संस्थान को बताया कि वो एम्स के सिक्योरिटी गार्ड के बताए रास्ते पर ही अस्पताल में गाड़ी लेकर घुसे. बोले- इसमें क्या हो गया. दूसरी तरफ एम्स प्रबंधन जनसंपर्क अधिकारी संदीप कुमार सिंह ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि पुलिस की गाड़ी कहां से अस्पताल में एंटर हुई और निकली. उन्होंने कहा कि जानकारी जुटाने के बाद वो मामले पर कुछ कह पाएंगे. 

ये भी पढ़ें- AIIMS ऋषिकेश यौन उत्पीड़न केस: रेजिडेंट डॉक्टर्स के आंदोलन के बाद आरोपी नर्सिंग अफसर गिरफ्तार

क्या है यौन उत्पीड़न केस? 

पुलिस के मुताबिक, 19 मई की शाम अस्पताल में आरोपी नर्सिंग अफसर सतीश कुमार ने कथित तौर पर महिला डॉक्टर का यौन उत्पीड़न किया और उन्हें अश्लील SMS भी भेजे. रेजिडेंट डॉक्टर्स ने 20 मई को डीन एकेडमिक्स के ऑफिस के बाहर नारेबाजी और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. 

PTI के मुताबिक, डॉक्टर्स के विरोध प्रदर्शन के बाद ऋषिकेश कोतवाली में मामला दर्ज किया गया. पुलिस ने 21 मई को आरोपी नर्सिंग अफसर को अरेस्ट किया.

वीडियो: लल्लनटॉप चुनाव यात्रा: 'पांच दिन से पड़े हैं' एम्स भोपाल में लोगों की बात सुनकर दिल बैठ जाए!

thumbnail

Advertisement

Advertisement