The Lallantop
Advertisement

कर्नाटक: ईदगाह मैदान पर गणेश चतुर्थी मनाने को लेकर कटा था बवाल, अब चुनाव कौन जीता?

ईदगाह मैदान का मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया था.

Advertisement
Chamrajpet assembly karnataka
चामराजपेट में पिछले साल खूब विवाद हुआ था (फोटो- PTI)
13 मई 2023 (Updated: 13 मई 2023, 21:50 IST)
Updated: 13 मई 2023 21:50 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

सीट का नाम- चामराजपेट

कौन जीता- जमीर अहमद खान (कांग्रेस)

पिछला चुनावी रिजल्ट: जमीर अहमद खान ही जीते थे.

सेंट्रल बेंगलुरु की इस चामराजपेट सीट पर एक बार फिर कांग्रेस की जीत हुई है. कांग्रेस विधायक जमीर अहमद खान ने बीजेपी उम्मीदवार भास्कर राव को करीब 54 हजार वोट से हरा दिया. जमीर अहमद खान की ये लगातार पांचवी जीत है. 2004 से ही इस सीट से विधायक हैं. सेंट्रल बेंगलुरु में विधानसभा की कुल 8 सीटें हैं, जिनमें पांच पर कांग्रेस को जीत मिली है.

क्यों चर्चा में रही सीट?

चामराजपेट सीट इसलिए चर्चित रही है क्योंकि पिछले साल इसी जगह ईदगाह मैदान में गणेश चतुर्थी मनाने को लेकर खूब विवाद हुआ था. हिंदू संगठनों ने ईदगाह मैदान में गणेश उत्सव मनाने की मांग की थी. लेकिन मुस्लिम पक्ष ने इसका विरोध किया था. कर्नाटक वक्फ बोर्ड का कहना था कि पिछले 200 सालों में इस तरह का कार्यक्रम इस मैदान में नहीं हुआ. बोर्ड का कहना था कि राज्य सरकार उनकी मंजूरी के बिना ऐसे आदेश पारित नहीं कर सकती है. मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया था.

सबसे पहले कर्नाटक हाई कोर्ट में राज्य सरकार ने अपने फैसले को सही ठहराया था. दलील थी कि इस कार्यक्रम (गणेश चतुर्थी) के तहत कोई पक्की संरचना नहीं बनाई जाएगी.

जब सरकार के वकील ने कहा था कि अगर दो दिन के लिए इस जमीन पर गणेश चतुर्थी का आयोजन कर दिया जाता है, तो क्या ही हो जाएगा. इसपर वक्फ बोर्ड के वकील दुष्यंत दवे ने जवाब दिया था, 

"क्या कभी देश के मंदिरों में भी अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को प्रेयर्स करने की इजाजत दी जा सकती है?"

वक्फ बोर्ड ने तब कहा था कि इस प्रॉपर्टी पर किसी अन्य समुदाय का कोई धार्मिक कार्यक्रम कभी नहीं कराया गया है. इसे कानून के अनुसार वक्फ प्रॉपर्टी घोषित किया गया है. अब अचानक से 2022 में वो कहते हैं कि ये विवादित भूमि हैं और वे इस जगह पर गणेश चतुर्थी का कार्यक्रम करना चाहते हैं.

ये विवाद तब हो रहा था, जब पिछले साल कर्नाटक से सांप्रदायिक हिंसा के कई मामले सामने आ चुके थे. कर्नाटक हाई कोर्ट ने शुरू में इसकी इजाजत नहीं दी थी. लेकिन बाद में आदेश में दिया था कि मैदान को लेकर सरकार फैसला ले सकती है. इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई. सुप्रीम कोर्ट ने ईदगाह मैदान में गणेश चतुर्थी मनाने पर रोक लगा दी थी.

कांग्रेस ने 136 सीटें जीती

विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने भारी बहुमत से जीत हासिल की है. पार्टी को 136 सीटों पर जीत मिली. वहीं राज्य में सत्ताधारी बीजेपी की चुनाव में बुरी हार हुई. बीजेपी सिर्फ 65 सीटों पर सिमट गई. इस चुनाव में जेडीएस का भी बुरा हाल हुआ. देवगौड़ा की पार्टी को सिर्फ 19 सीटों के साथ संतोष करना पड़ा. 

वीडियो: PM Modi पर कर्नाटक चुनाव के बाद भूपेश बघेल ने और क्या कह दिया?

thumbnail

Advertisement