The Lallantop
Advertisement

झारखंड की तमाड़ विधानसभा, जहां से सुपारी देने के आरोपी, सुपारी लेने के आरोपी और जिनकी सुपारी दी गई उनके बेटे मैदान में थे

दो उम्मीदवार जेल से चुनाव मैदान में उतरे थे.

Advertisement
font-size
Small
Medium
Large
26 दिसंबर 2019 (Updated: 26 दिसंबर 2019, 09:55 IST)
Updated: 26 दिसंबर 2019 09:55 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share
तमाड़. ये विधानसभा सीट इसलिए चर्चा में रही क्योंकि कि यहां सुपारी देने के आरोपी, सुपारी लेने के आरोपी और जिनकी सुपारी दी गई उनके बेटे मैदान में थे. मधु कोड़ा सरकार में मंत्री रहे रमेश सिंह मुंडा की हत्या कर दी गई थी. हत्या की सुपारी देने का आरोप लगा राजा पीटर पर है. वह अर्जुन मुंडा की सरकार में उत्पाद एवं मद्य निषेध मंत्री भी रह चुके हैं. एनसीपी के टिकट पर मैदान में थे. सुपारी लेने के आरोपी पूर्व नक्सली कमांडर और 15 लाख रुपए का इनामी कुंदन पाहन ने जेल से चुनाव लड़ा. रमेश सिंह मुंडा जिनकी हत्या हुई उनके बेटे विकास सिंह मुंडा इस विधानसभा क्षेत्र के वर्तमान विधायक हैं. विकास जेएमएम के टिकट पर चुनाव मैदान में थे.

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement