The Lallantop
Advertisement

IPL मैच में 'लेखपाल भर्ती पूरी करो' का पोस्टर दिखाने वाले छात्र ने लल्लनटॉप को क्या बताया?

90 दिनों में भर्ती पूरी करने का वादा था. लेकिन मुख्य परीक्षा का रिजल्ट 8 महीने से लटका है. इस पर एक छात्र ने सरकार से सवाल किया तो जवाब क्या मिला?

Advertisement
UPSSSC Lekhpal Recruitment exam 2022
लेखपाल भर्ती परीक्षा का रिजल्ट जारी करने की मांग कर रहे हैं अभ्यर्थी. (फोटो-ट्विटर)
14 अप्रैल 2023 (Updated: 14 अप्रैल 2023, 21:43 IST)
Updated: 14 अप्रैल 2023 21:43 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा (Lekhpal Exam) से जुड़ा मुद्दा एक बार फिर चर्चा में है. बीते 9 महीने से लेखपाल भर्ती परीक्षा का रिजल्ट नहीं जारी हुआ है. भर्ती परीक्षा में शामिल उम्मीदवार परीक्षा के रिजल्ट को लेकर सोशल मीडिया पर #DECLARE_UPLEKHPAL_RESULT नाम से हैशटैग चला रहे हैं. हाल में रिजल्ट जारी करने की मांग एक IPL मैच के दौरान भी उठाई गई. हुआ ये कि कुछ उम्मीदवार IPL मैच के दौरान ‘लेखपाल भर्ती परीक्षा पूरी करो’ के पोस्टर लिए दिखे. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ.

उम्मीदवार कौन सी लेखपाल भर्ती परीक्षा को पूरा करने की बात कर रहे हैं और उनकी मांग क्या है, पूरा मामला डिटेल में समझते हैं.

UPSSSC लेखपाल भर्ती परीक्षा व PET-2021 परीक्षा

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) सरकारी विभाग में "Group C" और "Group D" के पदों पर भर्तियां निकालती है. इन्हीं भर्तियों की चयन प्रक्रिया में तेजी लाने और भर्तियों को नकल माफियाओं से बचाने के लिए साल 2021 में आयोग ने प्रीलिमनरी एलिजिबिलिटी टेस्ट (PET) कराने की घोषणा की थी. आयोग ने कहा था PET परीक्षा पास करने वाले अभ्यर्थियों को PET के अंतर्गत आने वाली विभिन्न भर्तियों की मुख्य परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाएगा. आसान भाषा में कहें तो अलग-अलग विभाग की भर्तियों के लिए एक कॉमन टेस्ट लागू कर दिया गया था. इसको पास करने वाले अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा में बैठने के लिए एलिजिबल होते हैं.

PET लागू करने के बाद आयोग ने कहा था कि वो छह से नौ महीने में भर्ती प्रक्रिया को पूरा कर लेगी. इसके बाद सेलेक्टेड अभ्यर्थियों को नियुक्ति दे दी जाएगी. लेकिन UPSSSC की लेखपाल भर्ती परीक्षा का रिजल्ट 9 महीने से लटका है.

UPSSSC ने 25 मई, 2021 को PET-2021 का नोटिफिकेशन जारी किया था. इसके साथ ही आयोग ने एक परीक्षा कैलेंडर जारी किया था. कैलेंडर में PET-2021 की परीक्षा के डेट के साथ-साथ राजस्व लेखपाल मुख्य परीक्षा की डेट के बारे में भी बताया गया था. लेखपाल भर्ती नवंबर, 2021 में प्रस्तावित थी.

आयोग ने PET-2021 परीक्षा का आयोजन 24 अगस्त, 2021 को कराया. इसमें 20 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल हुए थे. PET-2021 परीक्षा का रिजल्ट 28 अक्टूबर, 2021 को जारी किया गया. लेकिन आयोग ने राजस्व लेखपाल भर्ती का विज्ञापन जारी नहीं किया. जो कि आयोग के कैलेंडर के हिसाब से नवंबर, 2021 में होनी थी.

UPSSSC लेखपाल भर्ती परीक्षा, 2021

UPSSSC ने राजस्व लेखपाल भर्ती का नोटिफिकेशन 7 जनवरी, 2022 को जारी किया. लेखपाल भर्ती परीक्षा 31 जुलाई, 2022 को आयोजित कराई गई थी. परीक्षा प्रदेश के 12 जिलों के 501 केंद्रों पर कराई गईी. इसमें लगभग 2 लाख अभ्यर्थी शामिल हुए थे. परीक्षा के बाद पेपर लीक की भी खबरें आई थीं.

आजतक से जुड़े संजय शर्मा की रिपोर्ट के मुताबिक परीक्षा में कुछ सॉल्वर गैंग के शामिल होने की खबर थी. यूपी एसटीएफ एडीजी अमिताभ यश ने बताया था कि उनकी टीम को पहले ही पेपर लीक की सूचना मिली थी. पुलिस अधिकारी ने कहा था,

“STF को पहले ही जानकारी मिल चुकी थी कि कुछ सॉल्वर गैंग परीक्षा में गड़बड़ी की कोशिश करने वाले हैं. इसमें ब्लूटूथ डिवाइस का इस्तेमाल करने की कोशिश भी थी. जिसके बाद 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया था.”

पेपर लीक मामले में STF ने कुछ आरोपियों पर कार्रवाई करने के बाद भर्ती परीक्षा को क्लीन चिट दे दी थी.

परीक्षा की Answer Key जारी होने के बाद कोर्ट पहुंचा मामला

आयोग ने 31 जुलाई को आयोजित परीक्षा की आंसर की (Answer Key) अगस्त, 2022 को जारी की थी. जिसके बाद अभ्यर्थियों ने परीक्षा में पूछे गए कुछ सवालों के जवाब को लेकर आपत्ति जताई थी. इस पर आयोग ने कुछ प्रश्नों के जवाब बदले भी थे. लेकिन इसके बाद भी कुछ अभ्यर्थी संतुष्ट नहीं हुए तो उन्होंने कोर्ट में अर्जी दाखिल की.

कोर्ट ने फरवरी 2023 में मामले की सुनवाई की और भर्ती पर किसी भी तरह की रोक नहीं लगाने का फैसला किया. लेखपाल भर्ती परीक्षा देने वाले अभ्यर्थी दिव्य ने लल्लनटॉप से बात करते हुए बताया,

“भर्ती परीक्षा का रिजल्ट 8 महीने से भी ज्यादा समय से लटका है. कोर्ट ने भी भर्ती परीक्षा के रिजल्ट पर किसी भी तरह की रोक नहीं लगाई है. प्रदेश में लगभग सभी भर्ती परीक्षाओं में रिट के अधीन ही रिजल्ट जारी किए जाते हैं. एक भी भर्ती ऐसी नहीं जो कोर्ट के अधीन न हो. अभ्यर्थियों को गुमराह किया जा रहा है. परीक्षा का रिजल्ट जल्द जारी किया जाना चाहिए."

लेखपाल परीक्षा के इन सवालों को लेकर कोर्ट पहुंचे थे कुछ अभ्यर्थी.
सचिव बोले थे फरवरी, 2023 तक नियुक्त हो जाएगी

लेखपाल भर्ती परीक्षा 2021 से जुड़े अभ्यर्थियों ने कथित तौर पर बताया कि परीक्षा के बाद आयोग के तत्कालीन सचिव अवनीश सक्सेना ने मीडिया को बताया था कि तीन महीने में रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा. उन्होंने ये भी कहा था कि परीक्षा का फाइनल रिजल्ट मार्च, 2023 तक जारी कर अभ्यर्थियों को नियुक्ति प्रदान कर दी जाएगी. लेकिन परीक्षा आयोजित हुए 8 महीने से ज्यादा हो गया है. इतना समय बीतने के बाद भी लेखपाल मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी नहीं हुआ है. इसी को लेकर परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थी सोशल मीडिया से लेकर सरकार और IPL मैच तक अपनी मांगों को रख रहे हैं.

एक अभ्यर्थी ने लल्लनटॉप से बात करते हुए नाम न छापने की शर्त पर बताया,

“आयोग के सचिव अवनीश सक्सेना लगातार न्यूज पेपर के माध्यम से घोषणा करते रहे कि रिजल्ट अक्टूबर, 2022 में जारी कर दिया जाएगा. उसके बाद कहा कि रिजल्ट नवंबर-दिसंबर में जारी कर दिया जाएगा. उसके बाद बोले कि परिणाम जनवरी-फरवरी में जारी हो जाएगा. आखिर अभ्यर्थी कब तक बैठे रहेंगे. हमें इसके कारण मेंटल ट्रॉमा हो रहा है. कई अभ्यर्थी आर्थिक रूप से कमजोर हैं. उनके लिए नौकरी मायने रखती है. सरकार को ये सब समझना चाहिए.”

‘हमारी भर्ती 8 साल लटकी थी!’

परीक्षा में शामिल अभ्यर्थी आयोग के सचिव पर रिजल्ट न जारी करने का लेकर आरोप लगा रहे हैं. उन्होंने ये बात सरकार के सामने भी रखी. एक अभ्यर्थी के मुताबिक उसने सीएम ऑफिस पर फोन कर रिजल्ट के बारे में बात की. उस तरफ से कहा गया कि अभ्यर्थी आयोग से इसकी जानकारी लें. इस पर अभ्यर्थी ने कहा कि दो साल से भर्ती लटकी हुई है, तो सीएम ऑफिस के एक कर्मचारी ने जवाब दिया,

“हमारी भर्ती तो 8 साल तक लटकी रही थी. अभी भी मामला सुप्रीम कोर्ट में है. आप प्रताड़ित हुए हैं तो हम कितना प्रताड़ित हुए होंगे. 2010 का रिजल्ट 2018 में आया था. आप लोग अपना प्रयास करते रहिए. रिजल्ट जारी करने की प्रक्रिया चल रही है.”

कई अभ्यर्थियों ने बताया कि वो लेखपाल भर्ती रिजल्ट न जारी होने के कारण अवसाद से गुजर रहे हैं. उन्होंने विधायकों, सांसदों और मंत्रियों के पास जाकर रिजल्ट जारी करने के लिए ज्ञापन भी दिए हैं. लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है.

IPL मैच में भर्ती के रिजल्ट का पोस्टर लहराया

हाल ही में लखनऊ के इकाना स्टेडियम में IPL मैच में लेखपाल अभ्यर्थियों द्वारा ‘लेखपाल रिजल्ट जारी करो’ का पोस्टर लहराया दिया. परीक्षा में शामिल हुए गोविंद ने ये पोस्टर लहराया था. लल्लनटॉप से बात करते हुए गोविंद ने बताया,

“राज्य में लगभग 15 से 20 हजार लेखपाल के पद खाली हैं. एक-एक लेखपाल कम से कम 10-15 गांवों का काम संभाल रहा है. हम सरकार से यही मांग कर रहे हैं कि जल्द से जल्द मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी किया जाए.”

गोविंद ने बताया,

“मुख्य परीक्षा का रिजल्ट जारी होने में इतना समय लग रहा है. इसके बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होगा. उसमें भी समय लगेगा. उन्होंने आगे कहा कि ऐसे तो परीक्षा का फाइनल रिजल्ट जारी होने में सालों का वक्त और लग जाएगा. तब तक अभ्यर्थी क्या करेंगे? बैठे रहेंगे.”

लेखपाल भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों की मांगें

- प्रदेश में लेखपाल के कुल 30 हजार 837 पदों में से लगभग 50 प्रतिशत पद खाली हैं. इन पदों को जल्द से जल्द भरा जाए.
- एक-एक लेखपाल दो-तीन क्षेत्रों को देख रहा है, सरकार को इसको ध्यान में रखते हुए जल्द ही रिजल्ट जारी करना चाहिए. क्वालिफाई होने वाले अभ्यर्थियों को जल्द नियुक्ति दी जाए.
- जुलाई 2022 को आयोजित लेखपाल भर्ती मुख्य परीक्षा का परिणाम शीघ्र घोषित किया जाए, जिससे राजस्व विभाग को 8 हजार लेखपाल मिल सकें. 
- इसके साथ ही अभ्यर्थियों ने सरकार से निवेदन किया है कि वर्तमान में रिक्त लगभग 5 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया को जल्दी शुरू किया जाए.
- अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि सभी भर्तियां 90 दिनों में पूरी कराई जाएं और आयोग के अध्यक्ष व सदस्यों को बर्खास्त किया जाए.

वीडियो: मॉक इंटरव्यू लेने वाली तनु जैन ने बताया UPSC की तैयारी के लिए कोचिंग करनी चाहिए या नहीं

thumbnail

Advertisement