The Lallantop
Advertisement

Physics Wallah: वीडियो में रोने लगे टीचर, 5 करोड़ लेने का आरोप, पूरा विवाद जानिए

वायरल वीडियो पर 'फिजिक्स वाला' ने क्या जवाब दिया?

Advertisement
PhysicsWallah teachers video
फिजिक्स वाला छोड़ने वाले टीचर्स (बाएं), फाउंडर अलख पांडे (फोटो- वीडियो स्क्रीनशॉट)
26 मार्च 2023 (Updated: 26 मार्च 2023, 16:42 IST)
Updated: 26 मार्च 2023 16:42 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

देश के सबसे बड़े एडटेक प्लेटफॉर्म 'फिजिक्स वाला' (Physics Wallah) में इन दिनों सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. 'फिजिक्स वाला' में पढ़ाने वाले कुछ टीचर्स इस प्लेटफॉर्म से अलग हो गए हैं. आप कहेंगे कि इसमें कौन सी बड़ी बात है. लोग इधर से उधर नौकरी तो पकड़ते रहते हैं. बड़ी बात इसलिए कि मामला “टीचर्स वर्सेज टीचर्स” हो गया है. 'फिजिक्स वाला' (PW) छोड़ने वाले इन टीचर्स का एक वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में टीचर्स रो रहे हैं, चिल्ला रहे हैं, बता रहे हैं कि प्लेटफॉर्म छोड़ने के बाद उनपर पैसे लेने के झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं.

वीडियो में जो तीन-चार टीचर्स नजर आ रहे हैं उनके नाम हैं- तरुण कुमार, मनीष दुबे, सर्वेश दीक्षित, आदित्य आनंद. इन सभी ने इसी महीने अपना एक अलग यूट्यूब चैनल 'संकल्प' बनाया है. इसी चैनल पर टीचर्स ने वीडियो अपलोड किया है. उनका कहना है कि 'फिजिक्स वाला' छोड़ने के बाद उनपर दूसरे प्लेटफॉर्म ‘अड्डा 247’ से 5 करोड़ रुपये लेने का आरोप लगाया जा रहा है और उन्हें बच्चों की नजर में बदनाम किया जा रहा है. हालांकि ‘फिजिक्स वाला’ का कहना है कि ये टीचर्स ही संस्थान को बदनाम कर रहे हैं. 

'फिजिक्स वाला' के फाउंडर अलख पांडे हैं. साल 2016 में, JEE, NEET की तैयारी के लिए एक यूट्यूब चैनल, 'फिजिक्स वाला' शुरू किया. बाद में GATE, UPSC, SSC, CA जैसे कई एग्जाम की तैयारी करवाने लगे. मामला इतना चल पड़ा कि यह एक यूनिकॉर्न कंपनी बन गई. अभी फिजिक्स वाला के 39 अलग-अलग यूट्यूब चैनल हैं और 1 करोड़ से ज्यादा ऐप डाउनलोड्स हैं.

क्यों छोड़ दिया 'फिजिक्स वाला'?

'फिजिक्स वाला' छोड़ने टीचर्स का कहना है कि उन्होंने एक-दो महीने पहले ही प्लेटफॉर्म छोड़ने के बारे में बता दिया था. साथ ही ये भी कहा था कि वे कोर्स पूरा करेंगे. तरुण कुमार, मनीष दुबे और सर्वेश दीक्षित का कहना है कि उन्होंने एक साथ इस्तीफा दिया था. कुछ दिन पहले 'संकल्प' चैनल पर इन टीचर्स के वीडियो आए. पहले जानिये, उन्होंने क्या कहा.

तरुण कुमार- मैं अब फिजिक्स वाला के प्लेटफॉर्म पर नहीं पढ़ाऊंगा. ये मेरे लिए काफी मुश्किल था. जिस प्लेटफॉर्म को मैंने अलख सर के साथ दिन-रात लगकर बनाया, उसे छोड़ना बहुत ही मुश्किल था. अब वहां का 'सिस्टम' वैसा नहीं रह गया था. एक और वीडियो में तरुण कुमार कहते हैं कि आपकी कंपनी (PW) 2 हजार करोड़ की है. 300 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ. ये पैसे बच्चों को दे दो. फ्री कर दो सबकुछ. ऐप पर फ्री में पढ़ाओ. मैं तैयार हूं पूरी जिंदगी फ्री पढ़ाने के लिए.

टीचर आदित्य आनंद वीडियो में चिल्लाते हुए कहते हैं- बच्चों, तुमलोगों को पता होगा मैंने 10 दिन क्लास नहीं लिया था. मैंने उनको  उसी टाइम बोला था कि कोटा में हंगामा हो रहा है, बच्चे मर रहे हैं. इन लोगों ने बच्चों के पैसों को बर्बाद कर दिया है. मैं पहला टीचर हूं. हमने खड़ा किया है प्लेटफॉर्म को. दम है किसी को तो बोलो. खत्म हो जाओगे तुम. एक रुपया नहीं लूंगा लेकिन बच्चों को पढ़ाऊंगा. एक-एक सबूत दिखाऊंगा, सब चीज (सबूत) है अलख सर (अलख पांडे), गलत कर रहे हो.

मनीष दुबे- मैंने भी ‘फिजिक्स वाला’ छोड़ दिया है. हमलोगों ने इस प्लेटफॉर्म को बनाने में खूब मेहनत की थी. स्वास्थ्य के साथ समझौता किया था. अब ऐसे लोग सिस्टम से जुड़े थे, जो पूरी तरह "प्रोफेशनल" थे. बहुत कम लोग थे जो भावनाओं के साथ जुड़े थे. जिस विजन को लेकर जुड़े थे लगा कि वो बदल रहा है. बच्चे जिस विश्वास के साथ आ रहे हैं, वो हम उनको दे नहीं पा रहे थे. राजनीति ज्यादा हो रही थी. जिस उद्देश्य से जुड़ा था, वही खत्म हो रहा था इसलिए अलग हो गया.

‘फिजिक्स वाला’ ने क्या जवाब दिया?

इस पूरे विवाद पर हमने फिजिक्स वाला के चीफ डिजिटल ऑफिसर संयम बडोला से बात की. उन्होंने दी लल्लनटॉप को बताया कि टीचर्स के जाने से उन्हें कोई आपत्ति नहीं है लेकिन जिस संस्थान में आपने पढ़ाया, उसी को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. आपने अड्डा 247 से एडवांस ले लिया, ये वीडियो में नहीं बताया. संयम बडोला का दावा है कि फिजिक्स वाला के कम से कम 20 फैकल्टी को पैसे देकर उधर जाने का ऑफर दिया गया. 

इन सभी टीचर्स ने 19 फरवरी को इस्तीफा दिया था. जब हमने पूछा कि ये दावा आप कैसे कर सकते हैं कि उन्हें करोड़ों रुपये दिये जा रहे हैं. तो संयम बडोला कहते हैं, 

“हमारे कई फैकल्टी को इस तरह एडवांस देने का ऑफर आया कि PW को छोड़कर आ जाओ. जो लोग नहीं गए, उन्होंने बताया कि ऐसा किया जा रहा है. ये साजिश के तहत की जा रही थी. क्योंकि ये सभी टीचर्स PW के नाम पर सफल हुए थे. अब वे वीडियो में रोकर छात्रों को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं.”

‘फिजिक्स वाला’ का कहना है कि पहले भी कुछ फैकल्टी जाते रहे हैं, लेकिन इस तरह से कोई बदनाम नहीं कर रहा था. उन्हें तो अच्छे करियर की शुभकामनाएं दी जाती थीं. संयम बडोला ने बताया कि साल 2020 में अनएकेडमी ने कई टीचर्स को तोड़ने की कोशिश की. कई टीचर्स गए भी. इस बार जिन्होंने वीडियो बनाया है उन्हें सबसे ज्यादा सैलरी दी जा रही थी. इसके बावजूद वे संस्थान को बदनाम कर रहे हैं.

वीडियो: रंगरूट: 'फिजिक्स वाला' अलख पांडे ने बताया कैसे बन गए इतने बड़े टीचर?

thumbnail

Advertisement