The Lallantop
Advertisement

बजट 2023 में देश के स्वास्थ्य का कितना ख्याल रखा गया, जानें

हेल्थ सेक्टर को क्या मिला इस बजट से?

Advertisement
Budget 2023-24
हेल्थ सेक्टर को लेकर बजट 2023-24 में बड़ी घोषणाएं (फोटो- इंडिया टुडे)
1 फ़रवरी 2023 (Updated: 1 फ़रवरी 2023, 13:54 IST)
Updated: 1 फ़रवरी 2023 13:54 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार, 1 फरवरी को बजट 2023-24 की घोषणा कर दी. ये मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आखिरी पूर्ण बजट है. इसमें वित्त मंत्री ने कई बड़ी घोषणाएं कीं. इनमें हेल्थ सेक्टर से जुड़ी कई बड़ी योजनाएं सरकार ने सामने रखीं.

‘सबका साथ सबका विकास’ की थीम के साथ हेल्थ सेक्टर से जुड़ी योजनाओं के बारे में वित्त मंत्री ने बताया.

- सिकल सेल एनीमिया मिशन: सिकल सेल एनीमिया को साल 2047 तक खत्म करने का टारगेट रखा गया है.
- देश में 157 नए नर्सिंग कॉलेज (Nursing College) बनाए जाएंगे. ये नर्सिंग कॉलेज 2014 के बाद से बने मेडिकल कॉलेज में ही बनाए जाएंगे.
- फार्मा में रिसर्च को बढ़ावा देने के लिए नया प्रोग्राम लॉन्च किया जाएगा.
- इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) में पब्लिक और प्राइवेट मेडिकल रिसर्च को बढ़ावा दिया जाएगा.  

बजट 2023-24 में 8 साल बाद आखिरकार इनकम टैक्स छूट की सीमा बढ़ी. वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण ने कहा कि नए टैक्स सिस्टम के तहत 7 लाख तक की आय पर अब कोई टैक्स नहीं लगेगा.

1 घंटा से ज्यादा की स्पीच में सीतारमण ने गरीबों के लिए बड़ा ऐलान किया. उन्होंने बताया कि गरीबों को मुफ्त अनाज की स्कीम एक साल और चलेगी.

इसके अलावा 50 नए एयरपोर्ट और हेलीपैड भी बनाए जाएंगे. युवाओं के लिए 30 इंटरनेशनल स्किल सेंटर्स बनेंगे. रेलवे के खर्च के लिए 2.40 लाख करोड़ दिए गए हैं. MSME को 9 हजार करोड़ की क्रेडिट गारंटी और ऊर्जा सुरक्षा के लिए 35 हजार करोड़ रुपए जैसे बड़े ऐलान किए.

युवा और रोजगार के लिए स्टार्टअप्स और शिक्षण संस्थानों के इनोवेशन और रिसर्च को सामने लाने के लिए नेशनल डेटा गवर्नेंस पॉलिसी लाई जाएगी. इससे महत्वपूर्ण डेटा तक सबकी पहुंच आसान बनेगी. युवा अंतरराष्ट्रीय अवसरों के लिए तैयार हो सकें, इसके लिए अलग-अलग राज्यों में 30 स्किल इंडिया इंटरनेशनल सेंटर बनाए जाएंगे. प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का चौथा फेज लॉन्च किया जाएगा.

बजट 2022-23: हेल्थ सेक्टर

साल 2022 में पेश किए गए बजट में हेल्थ सेक्टर के लिए सरकार ने कुल 86 हजार 200 करोड़ रुपये जारी किए थे. ये बजट साल 2021 के बजट के मुकाबले 16.5% ज्यादा था. साल 2021-22 के बजट में सरकार ने हेल्थ सेक्टर के लिए 73 हजार 932 करोड़ रुपये आवंटित किए थे.

इसमें से प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के लिए 10 हजार करोड़ रुपए व हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन के लिए 978 करोड़ रुपए जारी किए गए थे. बजट 2022 में नेशनल टेली मेंटल हेल्थ प्रोग्राम लॉन्च किया गया था. इसके अंतर्गत 23 टेली मेंटल हेल्थ सेंटर की स्थापना करने की बात की गई थी.

वीडियो: बजट कैसे बनाया जाता है, हलवा सेरेमनी के पीछे की पूरी कहानी

thumbnail

Advertisement