Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

दो नेता अपनी बेटियों पर बात कर रहे हैं, एक को सुन घिन आती है

एक वीडियो आया है. दुनिया के चौधरी अमेरिका के दो राष्ट्रपतियों पर. बराक ओबामा और डोनाल्ड ट्रंप. इन दो राष्ट्रपतियों की सोच कितनी अलग है इसका एक नमूना भर है ये. जहां एक तरफ बराक ओबामा फैमिली मैन के तौर पर जाने जाते हैं, वहीं अपनी एंटी-वुमन कमेंट्स के लिए ट्रंप अच्छे खासे बदनाम हैं. पूरी दुनिया में उनकी इस बात को लेकर आलोचना होती रही है कि वो औरतों को एक ऑब्जेक्ट की तरह देखते हैं. इस वीडियो में भी उनका ये टैलेंट ख़ूब सामने आ रहा है.

ट्रंप और ओबामा दोनों से उनकी बेटियों के बारे में पूछा जा रहा है. जहां एक तरफ ओबामा एक मुहब्बत से लबरेज़ पिता के लहज़े में अपनी बेटियों के बारे में बात करते हैं. वहीं ट्रंप की बातों से उनकी महिलाओं के लिए सिंगल ट्रैक सोच बार-बार झलकती है.

ओबामा गर्व भरे लहज़े में बता रहे हैं कि उनकी बेटियां बहुत विनम्र और दयालु हैं. ट्रंप अपनी बेटी के बारे में कहते हैं, ‘अगर ये मेरी बेटी नहीं होती तो मैं इसे डेट कर रहा होता.’

ओबामा अपनी बेटियों के गुणों की तारीफ़ करते नहीं थकते. उनका पूरा ज़ोर बेटियों के फनी, स्मार्ट और नर्मदिल होने पर है. एक प्राउड पिता की झलक उनकी हर बात से दिखाई देती है.

वहीं जब ट्रंप से पूछा गया कि उनकी बेटी ‘टिफनी’ में उन जैसा और उनकी पत्नी जैसा क्या है तो उनका जवाब था, ‘उसकी टांगें मार्ला जैसी है.’ इसके बाद वो अपने दोनों हाथ छाती की तरफ ले जाते हैं और कहते हैं,  ‘मैं इस हिस्से के बारे में श्योर नहीं हूं.’

एक और इंटरव्यू में जब ट्रंप और उनकी बेटी से पूछा गया कि आप दोनों की कॉमन फेवरेट चीज़ कौन सी है तो बेटी का जवाब था या तो रियल एस्टेट या गोल्फ. वहीं ट्रंप कहते हैं, ‘मैं सेक्स कहने जा रहा था.’

डोनाल्ड ट्रंप इस मामले में बेहद बदनाम हैं कि औरतों के लिए उनका नज़रिया हमेशा आपत्तिजनक रहा है. चाहे महिला पत्रकार पर भद्दे कमेंट्स हो या महिला पॉलिटिशियन को गाली देने की हिमाकत!

ये आदमी दुनिया के सबसे ताकतवर देश का राष्ट्रपति है.


ये भी देखिये

टाइम मैगजीन ने ट्रंप से बदला चुकाया है

पाकिस्तान शानदार देश है, नवाज़ से बात कर पुराना याराना लगा : ट्रंप

इस कॉमेडियन ने ट्रंप के बेटे से कहा, ‘मैं मुसलमान हूं और किसी से नहीं डरता’

 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

BHU के इन 10 विवादों को जानेंगे तो खुदहै कहेंगे- वीसी साहब, तुमसे न हो पाएगा

वीसी गिरीश चंद्र त्रिपाठी नवंबर 2014 से वाइस चांसलर हैं.

कामयाब एक्टर बनने के बाद भी अखबार बेचते थे प्रेम चोपड़ा

बंबई के गेस्ट हाउसों में एक कमरे में चार-पांच लोगों के साथ रहते थे.

अजय देवगन की इस भुतही कॉमेडी फिल्म का ट्रेलर आ गया है

इस फिल्म में उनके साथ परिणीती चोपड़ा और तब्बू भी नजर आएंगी

ये पांच बातें बताती हैं कि राहुल गांधी अपनी गलतियों से सीख रहे हैं

अमेरिकी दौरे पर कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कई मुद्दों पर बात कर लोगों को लुभाया.

रीडर्स की चीख़ें निकाल देने वाले स्टीफन किंग की लिखी ये 6 फिल्में मस्ट वॉच हैं!

इनके नॉवेल पर आधारित 'इट' इस महीने रिलीज हुई और सबसे ज्यादा कमाई करने वाली हॉरर फिल्म बन गई है.

लकी अली के वो पांच गाने, जिन्हें अक्खा इंडिया गुनगुनाता है

लकी अली ने इंडियन पॉप म्यूजिक की नींव में ईंटे रखी हैं.

48 फिल्म स्टार्स जो अपना असली नाम नहीं बदलते तो बॉलीवुड में नहीं चलते

इनमें साउथ के सितारे भी शामिल हैं. जानें क्या हैं सबके असली नाम. कुछ नाम कल्पना से परे हैं.

हार्दिक पंड्या जब छक्के मारना शुरू करता है, तो मारता ही चला जाता है

एक ही ओवर में तीन-तीन, चार-चार सिक्सर ठोक देता है.

शबाना आज़मी: जिससे नाराज़ नहीं ज़िंदगी, हैरान है!

18 सितंबर यानी शबाना आज़मी का बर्थडे. जानिए क्यों हैं वो आज भी बेमिसाल...

पोस्टमॉर्टम हाउस

फ़िल्म रिव्यू : भूमि

संजय दत्त की रिहाई के बाद आई उनकी पहली फ़िल्म.

खुशखबरी : अगले ऑस्कर के लिए इंडिया से न्यूटन भेजी जाएगी

जिसमें एक आर्मी का अफ़सर कहता है कि ये वोटिंग मशीन एक खिलौने जैसी है.

वो 2 वजहें कि संजय भंसाली की 'पद्मावती' को अब विरोधी ही हिट करवाएंगे

जो बहाना लेकर भंसाली को पीटा गया, फिल्म का सेट तोड़ा गया वो झूठा साबित हो जाएगा.

कमज़ोर सी 'लखनऊ सेंट्रल' क्यों महान फिल्मों की लाइन में खड़ी होती है!

फिल्म रिव्यूः फरहान अख़्तर की - लखनऊ सेंट्रल.

फ़िल्म रिव्यू : सिमरन

दो नेशनल अवॉर्ड विनर्स की एक फ़िल्म.

देवाशीष मखीजा की 'अज्जी' का पहला ट्रेलरः ये फिल्म हिला देगी

इसमें कुछ विजुअल ऐसे हैं जो किसी इंडियन फिल्म में पहले नहीं दिखे.

इस प्लेयर ने KKR के लिए जैसा खेला है वैसा इंडिया के लिए खेले तो जगह पक्की हो जाये

टीम में फिनिशर की कमी है. ये पूरा कर सकता है. हैप्पी बड्डे बोल दीजिए.

फ़िल्म रिव्यू : समीर

मुसलमानों की एक बड़ी मुसीबत को खुले में लाती फ़िल्म.

फ़िल्म रिव्यू : डैडी

मुंबई के गैंगस्टर अरुण गवली के जीवन पर बनी फ़िल्म.