कोरोना 2.0 में कौन सा मास्क बेस्ट?

भारत कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में है और ये पहले से कहीं ज्यादा खतरनाक है. खास बात ये है कि इस बार संक्रमण फैलने की दर  भी पहले से कहीं ज्यादा है.

कोरोना की इस दूसरी लहर में बचाव के लिए कई लोग डबल मास्क लगाएं दिखाई पड़ते हैं. सवाल उठता है कि बचाव के लिए कौन सा मास्क बेस्ट है.

डॉक्टर्स की माने तो कोरोना के कहर से बचने के लिए मास्क पहनना, हाथों को बार-बार धोना और सोशल डिस्टेंसिंग सबसे कारगर हथियार है.

मास्क के बारे में डॉक्टर्स का कहना है कि N-95 मास्क ही फर्स्ट प्रॉयरिटी होनी चाहिए. N-95 मास्क लगाने वालों को डबल मास्क की जरूरत नहीं है.

ऐसे लोग जिन्हें सांस की या किसी और तरह की परेशानी है और वो मास्क नहीं लगा पाते तो उन्हेंं कॉटन मास्क के साथ सर्जिकल मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए.

ऐसे लोग जिन्हें सांस की या किसी और तरह की परेशानी है और वो मास्क नहीं लगा पाते तो उन्हें कॉटन मास्क के साथ सर्जिकल मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए.

अगर आप किसी ऐसी जगह (बाजार) जा रहे हैं जहां ज्यादा लोग हो सकते हैं तो ऐसी जगह पर फिलहाल डबल मास्क का प्रयोग करें.

मास्क को सही तरह से लगाना बेहद ही ज़रूरी है. मास्क लगाने पर नाक, मुंह और चिन सब कवर होना चाहिए, मास्क को हर 6 घंटे पर बदलना ज़रूरी है.

रोचक ख़बरों का एक
मात्र ठिकाना