हार्ट पेशेंट्स के लिए ख़तरनाक है गर्मी का मौसम!

गर्मी का मौसम अभी शुरू ही हुआ है और लोगों की हालत अभी से खराब है, कोई भी इस मौसम में घर से बाहर नहीं निकलना चाहता.

गर्मियां दिल के मरीजों के लिए बेहद खतरनाक होती है, दरअसल नींद की कमी, बेचैनी और प्यास से उनके दिल की धड़कन बढ़ सकती है. कई बार हालत जानलेवा हो जाती है.

गर्मी और लू के कारण शरीर में पानी, सोडियम और पोटैशियम की कमी हो सकती है, जिसके कारण डिहाइड्रेशन हो सकता है, मेडिकेशन लेने वालों के लिए ये जानलेवा है

गर्मियों में पानी का रोल अहम है. पर्याप्त मात्रा में पानी पीना बेहद जरूरी होता है, ब्लड प्रेशर की दवाई लेने वाले किसी भी परिस्थिति में 1.25 लीटर से कम पानी न पिएं.

इस मौसम में चाय-कॉफी से परहेज करें, ये शरीर में पानी की कमी पैदा करते हैं. इन चीजों की तलब दूर करने के लिए छाछ, लस्सी, फलों का ताजा जूस पिएं.

कड़ी धूप से बचकर रहना ज़रूरी है. इस मौसम में घर से निकलने से बचें, ज़रूरी हो तो सिर को ढककर निकलें और छाता, पानी की बोतल जैसी चीजें ले जाना न भूलें.

ब्लड प्रेशर पर नज़र बनाए रखें. इसे रेगुलर चेक करते रहें. अगर किसी भी प्रकार की असुविधा या प्रॉब्लम हो तो बिना देरी के डॉक्टर से सलाह लें.

ज्यादा नमक खाना ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए नुकसानदायक होता है, इस मौसम में नमक का सेवन सावधानी से करें.

रोचक ख़बरों का एक
मात्र ठिकाना