कमर, गर्दन दर्द   की वजह ये तो   नहीं!

अकसर लोग एक पैर पर भार देकर खड़े रहते हैं, यानि एक पैर को हल्का रखते हैं और दीवार या टेबल का सहारा लेकर खड़े हो जाते हैं.

लंबे समय तक इसी तरह से खड़े रहने से आपके मसल्स और बॉडी पार्ट पर असर पड़ सकता है. कई बार तो शरीर टेढ़ा दिखने लगता है.

दरअसल जिस भाग पर भार नहीं रहता, उससे संबंधित अंगों और मांसपेशियों में स्ट्रेचिंग होती है. मसल्स में ढीलापन आता है.

टेढ़ा खड़े होने की वजह से बॉडी का नॉर्मल अलाइनमेंट चेंज होता है और इसकी वजह से सिर, कमर और रीढ़ की हड्डी में समस्या होती है.

सबसे ज्यादा नुकसान स्पाइन (रीढ़ की हड्डी) को होता है, क्योंकि इससे स्पाइन के घुमाव में बदलाव आ जाता है.

टेढ़े खड़े होने की वजह से कमर दर्द होने लगता है और शरीर का तापमान बढ़ जाता है. इस कारण से पीठ में सूजन भी आ जाती है.

कई बार दर्द की गंभीरता जानने के लिए एक्स-रे, सीटी स्कैन, एमआरआई, डिस्कोग्राफी जैसी जांच तक करानी पड़ जाती है.

इसलिए कहीं पर लंबे समय पर खड़े ही रहना है तो शरीर का वजन दोनों पैर पर दें और साथ ही बीच-बीच में वॉक कर लें.

रोचक ख़बरों का एक
मात्र ठिकाना