गर्मी का किडनी स्टोन से है ये रिश्ता...

गर्मियां अपने चरम पर हैं और इसका सबसे बुरा असर उन लोगों पर पड़ता है जिन्हें किडनी स्टोन की समस्या है.

असल में गर्मियों में लोग पानी के अलावा सोडा, कोल्ड ड्रिंक या अन्य शुगर युक्त ड्रिंक्स का सेवन ज्यादा करते हैं, साथ ही पसीना निकलने के कारण डिहाइड्रेशन की समस्या बढ़ जाती है.

डिहाइड्रेशन के कारण यूरिन आउटपुट भी प्रभावित होता है जिसकी वजह से किडनी में क्रिस्टल बनने लगते हैं, जिससे हमें पथरी ( Kidney Stones) की समस्या हो जाती है.

यही वजह है कि गर्मियों में किडनी की पथरी के केस ज्यादा देखने को मिलते हैं, इसलिए बचाव के तरीकों के बारे में भी जान लें.

गर्मी के मौसम में नमक या अधिक कैफीन वाली चीजों का सेवन कम करें, नमक से पेशाब में अधिक कैल्शियम बनता है और यह भी पथरी का रिस्क बढ़ाता है.

इस मौसम में बाकी ड्रिंक्स के अलावा पानी खूब पियें. यूरीन आउटपुट बढ़ता है. फल का जूस भी पी सकते हैं लेकिन उनमें नमक या आर्टीफीशियल स्वीटनर का इस्तेमाल न करें.

मैग्नेशियम स्टोन को बनने से रोकता है, इसलिए आप खाने में मैग्नीशियम रिच चीजें खाएं. चाहें तो मैग्नीशियम सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं.

खुद को पथरी से बचाना चाहते हैं तो एक ग्लास में एक नींबू निचोड़ कर रोजाना पीना शुरू कर दें, दर्द होने पर हर आधे घंटे में नींबू पानी पियें जब तक दर्द खत्म न हो जाए.

रोचक ख़बरों का एक
मात्र ठिकाना