The Lallantop
Advertisement

कई महिलाओं से मिलने के बाद बंदे ने ChatGPT से बात की, उसने लाइफ पार्टनर दिला दी

ChatGPT से दुल्हन मिलने का दावा किया है एलेक्जेंडर नाम के शख्स ने. इनका कहना है कि उन्होंने Artificial intelligence की मदद से पहले तो अपने लिए एक परफेक्ट पार्टनर सर्च की और फिर चैटबॉट के बताए शुभ मुहूर्त पर उनको शादी के लिए प्रपोज भी कर दिया.

Advertisement
The 23-year-old said that it was at the end of 2023 that ChatGPT recommended him to propose to Karina, explaining that "their relationship is balanced and strong".
सांकेतिक तस्वीर. (साभार: Unsplash)
2 फ़रवरी 2024 (Updated: 2 फ़रवरी 2024, 17:27 IST)
Updated: 2 फ़रवरी 2024 17:27 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

ChatGPT आपके लिए दुल्हनिया ढूंढ सकता है. और सिर्फ ढूंढ नहीं सकता, बल्कि ये भी बता सकता है कि आपको शादी के लिए कब पूछना चाहिए. वही जिसको अंग्रेजी में propose करना कहते हैं. आपको लगेगा कि हमें क्या हो गया जो बिना कोई भूमिका बनाए, बिना लाग-लपेट के एकदम छठवें गियर में सब बता रहे. अरे जनाब इतनी जरूरी बात है तो फिर क्यों भूमिका में टाइम खोटा करना. माने कि अभी तक सुना पढ़ा और जाना था कि Open AI और Microsoft का चैटबॉट ये कर सकता है, वो कर सकता है, लेकिन दुल्हन, ये तो वाकई में लेटेस्ट न्यूज है.

दरअसल ऐसा दावा किया है एक रशियन आदमी ने. दावा किया है इसलिए हम भी आपको ये पहले ही बता दिए. ताकि अगर आप अपने लिए ChatGPT से दुल्हन ढूंढने के लिए कहें और वो बोले जाओ नहीं करता तो हमसे गुस्सा मत होना.

अब रूस वाले भाईसाब का मामला समझते हैं. इनका नाम Alexander Zhadan. पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं. माने कि तकनीक के मामले में एक्सपर्ट टाइप. इनका कहना है कि इन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से पहले तो अपने लिए एक परफेक्ट पार्टनर सर्च की और फिर चैटबॉट के बताए शुभ मुहूर्त पर उनको शादी के लिए प्रपोज भी कर दिया.

ये भी पढें: तौबा-तौबा का मुकाम है! ChatGPT वाले सैम ऑल्टमैन अपना ही बनाया ऐप इस्तेमाल नहीं करते

रशियन न्यूज एजेंसी RIA Novosti की रपट के मुताबिक पहले-पहल ChatGPT और दूसरे AI बॉट को एलेक्जेंडर भाई की बात बिल्कुल समझ नहीं आई. कहने का सार कि जब उन्होंने इन प्रोग्राम को डेटिंग ऐप्स से उनके लिए एक पार्टनर सर्च करने को कहा तो बॉट के पास जवाब नहीं था. फिर एलेक्जेंडर ने इन बॉट को ट्रेंड किया. दरअसल एलेक्जेंडर इसके पहले तकरीबन 5000 महिलाओं से मिल चुके थे, इसलिए उन्होंने बॉट को बताया कि वो उनसे कैसे बात करते हैं. उनकी पसंद-नापसंद वगैरा-वगैरा.  

कुछ समय के बाद बॉट बाबू ट्रेंड हो गए और उन्होंने डेटिंग ऐप्स से उन प्रोफ़ाइल को अलग कर दिया जो एलेक्जेंडर की प्रोफ़ाइल से मैच नहीं करती थी. बॉट ने उनके कहने पर उनकी मीटिंग्स भी फिक्स कीं और फिर मिलीं उनकी सोलमेट 'Karina Imranovna'.

इसके बाद एलेक्जेंडर और करीना ने काफी दिनों तक डेट किया. हालांकि इस दौरान भी एलेक्जेंडर बाबू चैटबॉट को अपनी डेटिंग के अनुभव के बारे में बताते रहे. काहे, वो हमने पहले ही बताया. ताकि AI बॉट प्रपोज करने की सही तारीख और समय बता सके. ऐसा ही हुआ और साल 2023 के अंत में उन्होंने करीना को प्रपोज किया. अब वो उनकी दुल्हनिया हैं.

खबर समाप्त. मगर दो जरूरी बातें. पहली, हमने ट्रेंड को बोल्ड इसलिए किया क्योंकि AI चैटबॉट का असली खेल वही है. जितना इनपुट देंगे आउटपुट भी उतना अच्छा मिलेगा. दूसरी, जो आपको लगे कि क्या बॉट दूल्हा नहीं खोज सकता जो सिर्फ दुल्हनिया की बात बताई. पता नहीं दोस्त. आप पूछकर देखिए. फिर हमें भी बताना.    

वीडियो: मास्टर क्लास: ChatGPT-4 तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में बवाल मचा देगा, तस्वीर देख सब कर देगा!

thumbnail

Advertisement