The Lallantop
Advertisement

सीट पर कब्जा, गंदगी और बवाल... ये ऐप डाउनलोड कीजिए, रेलवे वाले दौड़े चले आएंगे!

ऐप गूगल प्ले और ऐप स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है तो इसका वेब वर्जन भी है. माने कि वेबसाइट से भी एक्सेस किया जा सकता है.

Advertisement
Rail Madad App: How to lodge complaints and track them in real time
IRCTC का है 'रेल मदद' ऐप. (सांकेतिक तस्वीर)
17 जुलाई 2023 (Updated: 17 जुलाई 2023, 13:38 IST)
Updated: 17 जुलाई 2023 13:38 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

आप बाकायदा रिजर्वेशन करवा कर ट्रेन में चढ़े लेकिन पता चला सीट पर कोई और काबिज है. आपने दरख्वास्त से लेकर पूरी मान मनौवल कर ली लेकिन बात नहीं बन रही. किस्मत खराब है और टीटी की सीटी भी नहीं बज रही मतलब उसका पता ठिकाना नहीं मिल रहा. अब क्या करेंगे? झगड़ा...नहीं जनाब, क्योंकि ‘IRCTC’ ने इसके लिए बढ़िया प्रबंध किया है. प्रबंध का नाम है रेल मदद (Rail Madad) ऐप. सीट पर बेजा कब्जे से लेकर और भी बहुत काम आता है. बोले तो आपके सफर को अंग्रेजी के ‘Suffer’ से बचाता है. कैसे, वो हम बता देते हैं.

रेल मदद ऐप करेगा आपकी हेल्प

IRCTC के तमाम ऐप्स में से एक है 'रेल मदद' ऐप. ऐप गूगल प्ले और ऐप स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है तो इसका वेब वर्जन भी है. माने कि वेबसाइट से भी एक्सेस किया जा सकता है. ऐप रियल टाइम में यात्रियों की समस्याओं को सुलझाने का काम करता है. जैसे सीट पर बेजा कब्जा होने पर परेशान होने की जरूरत नहीं. ऐप ओपन कीजिए और स्क्रीन पर दिख रहे जरूरी डिटेल्स भर दीजिए.

रेलवे से जुड़े संबंधित अधिकारी मसलन, टीटी से लेकर रेलवे पुलिस तुरंत कार्यवाही करते हैं. ऐप की सबसे अच्छी बात ये है कि अपनी शिकायत दर्ज करवाने के लिए आपको लॉगिन की प्रोसेस से नहीं गुजरना पड़ता. इसके साथ शिकायत के लिए जो डिटेल्स भी मांगे जाते हैं वो बेहद बेसिक टाइप के हैं. मसलन कंप्लेंट क्या है, कंप्लेंट की तारीख और समय. इसके साथ ही PNR नंबर की जानकारी. अगर संभव है तो इमेज भी अटैच कर सकते हैं.

इमेज लगाना जरूरी नहीं है लेकिन अगर आपके पास है तो बहुत बढ़िया. उदाहरण के लिए आपके कोच या सीट पर गंदगी है तो इमेज से बढ़िया कुछ नहीं होगा. आप ट्रेन में सफर के दौरान शिकायत कर सकते हैं तो स्टेशन से जुड़ीं शिकायतों के लिए भी यही माध्यम है. ऐप का बेसिक यूजर इंटेरफेस इसके इस्तेमाल को आसान बनाता है. अगर आपको मेडिकल हेल्प की जरूरत है तो ऐप से ही सीधे हेल्पलाइन 139 पर कनेक्ट किया जा सकता है. शिकायत रियल टाइम की है तो उसकी प्रोसेस क्या है, वो जानने के लिए भी ऐप में ट्रैकिंग का फीचर मौजूद है.

इसी के साथ हमारी यात्रा समाप्त हुई. लेकिन आप अपनी अगली रेल यात्रा के लिए 'रेल मदद' ऐप जरूर डाउनलोड कर लीजिए.  

वीडियो: वंदे भारत को लेकर रेलवे के इस फैसले से यात्रियों को बड़ा फायदा होने वाला है!

thumbnail

Advertisement