The Lallantop
Advertisement

एयर टिकट की जानकारी X पर डाली, साइबर ठगों ने पैसेंजर और Indigo दोनों से खेल कर दिया

Indigo Airlines के एक कस्टमर के साथ गजब वाकया हुआ. अचानक से उनकी बुक की हुई 8 टिकटें कैंसिल हो गईं. कंपनी से संपर्क करने पर पहले-पहल पता चला कि गलती तो कस्टमर की है. मगर फिर कुछ अजीब हुआ.

Advertisement
Indigo's clarification comes after two incidents of fraud involving flyers' tickets being cancelled without their consent.
इंडिगो खबरों में बनी हुई है. (तस्वीरें: इंडिया टुडे और Unsplash.com)
1 फ़रवरी 2024 (Updated: 1 फ़रवरी 2024, 17:16 IST)
Updated: 1 फ़रवरी 2024 17:16 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

कल्पना कीजिए. अजी कीजिए भी, क्योंकि जो बताने जा रहे उसके लिए ऐसा करना जरूरी है. कल्पना कीजिए कि अल-सुबह अपने आपको पूरी ताकत लगाकर, बिस्तर से धक्का देकर, ओला-उबर वाले भैया से प्लीज-प्लीज बोलकर आप एयरपोर्ट पहुंचते हैं. इसके बाद बड़ी देर तक लंबी लाइन में लगकर आप एयरलाइन कंपनी के काउंटर पर पहुंचते हैं, इस उम्मीद से कि बस अब उड़ने का टाइम आ गया. मगर काउंटर पर आकर आपको पता चले कि आपकी फ्लाइट टिकट तो कैंसिल हो गए... हैं वाला मीम.

दुख प्लस जब कंपनी आपसे कहे कि ऐसा आपने खुद किया है. कल्पना खत्म, अब हकीकत बताते.

जो आपने कल्पना की वैसा हुआ एक कस्टमर के साथ. अंग्रेजीदा होकर कहें तो फ्लायर के साथ. कंपनी का नाम Indigo. वही इंडिगो जो आजकल गलत वजहों से ज्यादा चर्चा में रहती है. लेकिन हर बार के उलट इस बार कंपनी अपने कस्टमर के साथ खड़ी हुई. गलती मानी और पैसा भी वापस किया. इतना पढ़कर आप कह सकते हो, कंपनी और कस्टमर आपस में सुलट लिए फिर बीच में क्या हुआ. बीच में आए साइबर ठग. आप एकदम सही पढ़े. सारी खुराफात इन ठगों की.

कस्टमर का PNR लिया और टिकट कैंसिल कर दिए

ये सारा वाकया पेश आया Noida के Nishith Chaturvedi के साथ. निशित ने इंडिगो एयरलाइन से आठ टिकट बुक करवाए थे. इसके लिए उन्होंने 72 हजार 600 रुपये का भुगतान किया था. लेकिन अचानक से उनके सारे टिकट कैंसिल हो गए. और ऐसा तब हुआ जब किसी ने उनसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर टिकटों का पीएनआर नंबर शेयर करने के लिए कहा था. अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं है कि पीएनआर मांगने वाले ने अपने आपको इंडिगो का प्रतिनिधि बताया होगा.

ये भी पढें: दिल्ली हवाई अड्डे पर एक बार फिर इंडिगो एयरलाइंस को लेकर बवाल, इस बार...

साइबर ठग ने पीएनआर नंबर लिया. कस्टमर के डिटेल निकाले और फिर इंडिगो में फोन करके सारे टिकट कैंसिल कर दिए. यहां भी अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं है कि ऐसा उसने रिफ़ंड के पैसे लेने के लिए किया होगा. हालांकि अभी तक ये साफ नहीं है कि इंडिगो ने ठग को पैसा दिया या नहीं. मगर एक बात साफ है कि कंपनी ने निशित को पूरा पैसा वापस किया. यहां तक कि टिकट पर लगने वाला कैंसिलेशन चार्ज भी लौटाया. आमतौर पर एयरलाइन कंपनियां ऐसा करती नहीं हैं.

कंपनी इतनी मेहरबान क्यों हुई?

मनीकंट्रोल के मुताबिक जब निशित ने टिकट कैंसिल होने के बाद कंपनी से संपर्क किया तो कंपनी ने पहले-पहल तो इसको कस्टमर की गलती माना. मगर डिटेल में जांच करने पर कंपनी को पता चला कि गुल तो इंडिगो का नाम लेकर साइबर ठगों ने खिलाया है. जैसा हमने बताया, इसलिए कंपनी ने पैसे वापस किए और साथ में एक आग्रह भी.

अपना पीएनआर किसी से भी शेयर नहीं करें. मतलब सोशल मीडिया पर तो कतई नहीं. इंस्टा पर अपनी फ्लाइट टिकट डालकर स्टाइल मारने वालों. आप ध्यान से पढ़ लो. फिर मत कहना कि बताया नहीं.

thumbnail

Advertisement