The Lallantop
Advertisement

Amazon से फोन लेना है तो ये पढ़ लीजिए, नहीं तो!

अब अगर आप Amazon से कोई मोबाइल खरीदते हैं और अगर वो डिलीवरी के वक्त भी खराब निकलता है या डिवाइस में कोई टूट-फूट होती है तो रिप्लेसमेंट के लिए कस्टमर को संबंधित कंपनी के कस्टमर केयर का रुख करना होगा. एमेजॉन कुछ नहीं करेगा.

Advertisement
The online retailer adds that only smartphone manufacturers will be eligible to receive replacement requests in the event that a device is defective.
Amazon से मोबाइल खरीदने पर दिक्कत हो सकती है (तस्वीर: Tenor)
12 फ़रवरी 2024 (Updated: 28 फ़रवरी 2024, 17:38 IST)
Updated: 28 फ़रवरी 2024 17:38 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

Amazon से मोबाइल खरीदने जा रहे हैं तो रुक जाइए! एक बेहद जरूरी बदलाव के बारे में जान लीजिए, नहीं तो आपको परेशान होना पड़ सकता है. दरअसल, एमेजॉन ने मोबाइल रिप्लेसमेंट से लेकर उसके टूटने फूटने के जुड़े नियम और शर्तों में बदलाव किए हैं. इनका सीधा असर आपके ऊपर पड़ेगा. हुआ ये है कि ई-कॉमर्स दिग्गज ने अपने आप को सिर्फ मोबाइल बेचने, डिस्काउंट और ऑफर देने तक सीमित कर दिया है. फोन की सर्विस, वारंटी-गारंटी, टूट-फुट, भूल-चूक लेनी देनी, सब कस्टमर और कंपनी के बीच में होगा. अभी से सारे बदलाव ऐप पर नजर आने भी लगे हैं.  

माने कि अब अगर आप एमेजॉन से कोई मोबाइल खरीदते हैं और अगर वो डिलीवरी के वक्त भी खराब निकलता है या डिवाइस में कोई टूट-फूट होती है तो कस्टमर को संबंधित कंपनी के कस्टमर केयर का रुख करना होगा. एमेजॉन कुछ नहीं करेगा.

7 दिन हैं आपके पास

अभी तक जब भी कस्टमर एमेजॉन से कोई मोबाइल खरीदते थे तो कंपनी रिप्लेसमेंट सर्विस देती थी. माने कि अगर डिवाइस में कोई दिक्कत है या फिर वो टूटा हुआ ही आया है तो एमेजॉन ही इसको वापस लेकर नया डिवाइस देता था. रिटर्न का कोई जुगाड़ नहीं था क्योंकि इसको तो कंपनी ने 2016 में ही बंद कर दिया था. हालांकि, रिप्लेसमेंट के लिए भी एक समय सीमा थी. मगर अब ऐसा नहीं होगा. रिपलेसमेंट से लेकर वारंटी के लिए कस्टमर को कंपनी के सर्विस सेंटर का रुख करना होगा.

ऐप पर साफ-साफ शब्दों में लिखा है,

Amazon may provide support 

मतलब, एमेजॉन सपोर्ट दे सकता है. देगा या नहीं उसकी गारंटी नहीं. अगर दिक्कत दूर नहीं हुई तो सर्विस सेंटर ही जाना होगा. यहां भी गरारी फंसी ही रहेगी. संबंधित कंपनी प्रोडक्ट बदलकर देगी, ठीक करके देगी. वो उसकी पॉलिसी के हिसाब से.

ये नए बदलाव किसी एक स्मार्टफोन मेकर के लिए नहीं हैं, बल्कि सभी के लिए हैं. जो आपने ओपन बॉक्स डिलीवरी का ऑप्शन लिया था और एक बार आपको प्रोडक्ट मिल गया तो फिर भूल ही जाइए. कोई रिटर्न नहीं होने वाला. मतलब, जब फोन आपके पास आए तभी उसको ओपन कीजिए. उसी समय लॉगिन कीजिए. बैकअप लीजिए. ठीक से चेक कीजिए. सब ठीक है, लेकिन घर के अंदर घुसते ही कुछ भी हुआ तो वो आप और कंपनी जाने.

ये भी देखें: Amazon Great Indian Festival की पूरी इनसाइड स्टोरी

परेशानी-ही-परेशानी

अब ये कोई छिपी हुई बात तो है नहीं कि ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर अधिकतर लोग मोबाइल खरीदने ही जाते हैं. वजह बढ़िया डिस्काउंट और सर्विस. मगर अब ये होगा नहीं. दूसरा सर्विस सेंटर भी कोई पास में होते नहीं. वहां जाना, लाइन में लगना अलग दर्द है. सर्विस सेंटर के ड्रामे तो अभी हमने गिनाए ही नहीं. ये हो गया, वो हो गया. ऐसा तो है ही नहीं वैसा तो था ही नहीं. 

इसके साथ में सर्विस सेंटर हर शहर में होंगे वो भी जरूरी नहीं. अगर सर्विस सेंटर आपके ठिकाने से कई किलोमीटर दूर है तो फिर क्या ही कहें. वैसे फ्लिपकार्ट में भी ऐसा ही होता है, मगर अब एमेजॉन भी इसमें शामिल हो गया है. 

देख लीजिए. कहीं ऑफर के चक्कर में परेशानी ना हो जाए!

वीडियो: Amazon और Flipkart बुरे फंसे, ऑनलाइन ड्रग्स बेचने पर पहुंच गया नोटिस, जानिए क्या हैं नियम?

thumbnail

Advertisement