The Lallantop
Advertisement

तारीख: लिपस्टिक का इतिहास क्या है? जब आदमी भी इसका इस्तेमाल करते थे

World War के दौरान का एक किस्सा है. युद्ध के दौरान ब्रिटेन में महिलाओं को Lipstick लगाने के लिए बढ़ावा दिया जाने लगा. बाकयदा ये नेशनल ड्यूटी समझा जाने लगा था. फाइटिंग रेड, पेट्रियट रेड, ग्रेनेडियर रेड- ये लिपस्टिक के रंगों के नाम हो गए थे. लेकिन क्यों?

Advertisement
font-size
Small
Medium
Large
22 फ़रवरी 2024
Updated: 22 फ़रवरी 2024 09:30 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

लिपस्टिक कहने को एक आधुनिक चीज लग सकती है. लेकिन होंठों को रंगने की प्रथा (history of lipstick) बहुत पुरानी है. ईसा से साढ़े ढाई हजार साल पहले मेसोपोटामिया में एक रानी हुईं- शुब-अद. 20 वीं सदी में शुब-अद की कब्र खोदी गई. पाया गया कि रानी के साथ कुछ मटके भी दफनाए गए थे. जिसमें सीसे यानी लेड और लाल पत्थर को पीस कर बनाया गया एक मिश्रण भरा गया था. रानी इस मिश्रण को अपने होंठों पर लगाती थी. ये लिपस्टिक का पुराना रूप था. लिपस्टिक का पूरा इतिहास जानने के लिए वीडियो देखें.

thumbnail

Advertisement

Advertisement

Advertisement