The Lallantop
Advertisement

मीडिया संस्थानों ने एग्जिट पोल जारी कर BJP की हार दिखाई? 1 जून की शाम तक सब झूठ

कुछ मीडिया संस्थानों के नाम पर ग्राफिक प्लेट और क्लिप शेयर करके दावा किया जा रहा कि चैनलों ने नतीजों से पहले परिणाम बता दिया है. हालांकि सच्चाई कुछ और है.

Advertisement
fake exit poll data of bbc and abp news viral on social media
कई मीडिया संस्थानों के फेक एग्जिट पोल सोशल मीडिया पर वायरल. (तस्वीर:सोशल मीडिया)
29 मई 2024 (Updated: 30 मई 2024, 15:41 IST)
Updated: 30 मई 2024 15:41 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

लोकसभा चुनाव 2024 के 6 चरणों का मतदान पूरा हो चुका है. सातवें और अंतिम चरण की 57 सीटों के लिए 1 जून को वोट डाले जाएंगे. चुनाव में ऊंट किस करवट बैठेगा इसका फैसला 4 जून को होगा. लेकिन उससे पहले राजनीतिक गलियारों, चौक-चौराहों से लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म तक पर कयासों का दौर शुरू हो चुका है. जनता अपने हिसाब से अनुमान लगा रही है. लेकिन इसी बीच कुछ मीडिया संस्थानों के नाम पर ग्राफिक प्लेट और क्लिप शेयर करके दावा किया जा रहा कि चैनलों ने नतीजों से पहले परिणाम बता दिया है. हम इन दावों की एक-एक करके पड़ताल करेंगे. उससे पहले दो टर्म को समझ लेते हैं जिनमें हमें कनफ्यूज नहीं होना है.

ओपिनियन पोल
यह सर्वे चुनाव से पहले होता है. इसमें हर किसी की राय ली जाती है, भले वो व्यक्ति मतदाता हो या न हो. बेसिकली इसमें मुद्दों पर फोकस रहता है. चुनाव शुरू होने से पहले ओपिनियन पोल के प्रसारण को लेकर कोई बाध्यता नहीं रहती है.

एग्जिट पोल
यह सर्वे वोटिंग के तुरंत बाद कराया जाता है. इसमें केवल वोटिंग करने वाले लोग ही शामिल होते हैं. इससे एक तरह से मोटा-माटी ये जानने का प्रयास होता कि जनता ने किस पार्टी के पक्ष में अपनी मुहर लगाई है. एग्जिट पोल का रिजल्ट मतदान पूरी तरह से समाप्त होने के बाद जारी किया जाता है.  

पहला दावा

फेसबुक पर एक मीडिया संस्थान का एक कथित ग्राफिक प्लेट वायरल है. इसमें ‘INDIA’ गठबंधन को 258-286 सीटें मिलते दिखाया गया है, जबकि NDA के खाते में 232-253 सीटें बताई गई हैं. साथ ही वायरल ग्राफिक में बीजेपी सांसद मनोज तिवारी की सीट खतरे में बताई गई है. दावा किया जा रहा है कि ‘ABP NEWS ने अपने एग्जिट पोल में INDIA गठबंधन को जीत दिला दी’.

सच्चाई

लेकिन क्या सच में ऐसा हुआ है? यह जानने के लिए हमने ABP News के यूट्यूब चैनल को खंगाला. यहां हमें 26 दिसंबर, 2023 को अपलोड किया एक वीडियो मिला, जिसमें लोकसभा चुनाव 2024 का ओपिनियन पोल दिखाया जा रहा था. इसे सर्वे को C Voter ने किया था. वीडियो के शुरुआती सेकेंड में ही वायरल एग्जिट पोल से मिलता-जुलता ग्राफिक प्लेट नज़र आता है. लेकिन इसमें स्थिति एकदम उलट है. यहां NDA को 295-335 और INDIA को 165-205 सीटें मिलती नज़र आ रही हैं. जबकि सांसद मनोज तिवारी की स्थिति ठीक-ठाक बताई गई है.

इसके अलावा ABP News ने भी अपने आधिकारिक फेसबुक हैंडल से 27 मई को एक पोस्ट किया, जिसमें वायरल एग्जिट पोल को फर्जी बताया गया है.

ABP News के फेसबुक पेज का स्क्रीनशॉट.

दूसरा दावा

कई यूजर्स ने ‘एक्स’ पर एक वीडियो शेयर करके दावा किया है कि बीबीसी ने अपना एग्जिट पोल जारी कर दिया है. वीडियो में एक महिला अंग्रेजी में सीटों की संख्या बता रही है. बीजेपी को 347 और कांग्रेस को 87 सीटें मिलने की बात हो रही है.

सच्चाई

तो सच क्या है? इसे जानने के लिए हमने वायरल वीडियो के एक कीफ्रेम को सर्च किया. हमें 23 मई 2019 को BBC News के चैनल पर अपलोड किया गया वीडियो मिला, जिसमें वायरल हो रहा हिस्सा नज़र आया. वीडियो 2019 लोकसभा चुनाव के दिए आए नतीज़ों को लेकर है. लेकिन इसके शुरुआती कुछ हिस्सों को हटा कर शेयर किया गया है. 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए को 353 और यूपीए को 91 सीटें मिली थीं. साफ है कि 5 साल पुराने वीडियो को हालिया चुनाव का बताकर भ्रम फैलाया जा रहा है.

BBC News के यूट्यूब चैनल पर 5 साल पुराने वीडियो का स्क्रीनशॉट.

यहां ध्यान देने वाली बात है कि चुनाव आयोग ने 19 अप्रैल 2024 की सुबह 7 बजे से 1 जून की शाम 6:30 बजे तक एग्जिट पोल जारी करने पर रोक लगाई है. यह रोक जन प्रतिनिधित्व कानून, 1951 की धारा 126(1) (b) के तहत लगाई गई है. यानी अगर आपको 1 जून की शाम 6:30 बजे से पहले लोकसभा चुनाव 2024 का कोई एग्जिट पोल दिखे तो उस पर यकीन करने से पहले पुनर्विचार कर लें.

पड़ताल की वॉट्सऐप हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.
ट्विटर और फेसबुक पर फॉलो करने के लिए ट्विटर लिंक और फेसबुक लिंक पर क्लिक करें.

वीडियो: पड़ताल: अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के बाद क्या बुर्ज खलीफ पर राम की तस्वीर बनाई गई?

thumbnail

Advertisement

Advertisement