The Lallantop
Advertisement

केजरीवाल की नितिन गडकरी के साथ माफी मांगते हुए वायरल फोटो का सच

दावा है कि तस्वीर में केजरीवाल नितिन गडकरी से लिखित में माफी मांग रहे हैं.

Advertisement
arvind-kejriwal-mafi-nitin-gadkari
सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर.
31 मार्च 2023 (Updated: 31 मार्च 2023, 17:29 IST)
Updated: 31 मार्च 2023 17:29 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share
दावा

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को लेकर एक दावा सोशल मीडिया पर वायरल है. वायरल दावे में एक तस्वीर है, जिसमें अरविंद केजरीवाल के साथ केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी नज़र आ रहे हैं. तस्वीर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि 

ये फोटो तब खींची गई थी जब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी के पास लिखित में माफी मांगने गए थे.

ट्विटर यूज़र इंजी. राजेश सिंह ने वायरल फोटो ट्वीट कर लिखा, (आर्काइव)

इस फोटो में केजरीवाल जी के साथ "नितीन गडकरी "  जी है! अब आप ये ना सोचियेगा कि केजरीवाल जी दिल्ली के लिए कोई "सड़क परियोजना" पर चर्चा करने गए है! केजरीवाल जी नितीन गडकरी को लिखित में "माफी" मांगने गए है, गडकरी जी " माफ़ीनामा " पढ़ते हुए!

राजेश सिंह के ट्वीट का स्क्रीनशॉट.

फेसबुक यूज़र संतोष कुमार संगम ने वायरल तस्वीर शेयर कर लिखा,

इस फोटो में केजरीवाल जी के साथ "नितीन गडकरी " जी है ! अब आप ये ना सोचियेगा कि केजरीवाल जी दिल्ली के लिए कोई " सड़क परियोजना " पर चर्चा करने गए है ! केजरीवाल जी नितीन गडकरी को लिखित में "माफी" मांगने गए है, गडकरी जी " माफ़ीनामा " पढ़ते हुए !
(ख़ुद सजा होने से पहले माफ़ी माँग कर निकल लेता है, और राहुल को उकसा रहा है)

फेसबुक पोस्ट का स्क्रीनशॉट.
पड़ताल

'दी लल्लनटॉप' ने जब वायरल दावे की पड़ताल की तो दावा भ्रामक निकला. वायरल तस्वीर सही है लेकिन इसका माफी मांगने से कोई संबंध नहीं है. 
वायरल तस्वीर पर 'Getty Images' लिखा हुआ है. यहां से क्लू लेकर हमने कुछ कीवर्ड्स की मदद से तस्वीर को स्टॉक इमेजेस वेबसाइट 'Getty Images' पर सर्च किया. वेबसाइट ने फोटो के बारे में जानकारी देते हुए लिखा

फोटो 16 सितंबर 2014 की है, जब AAP नेता अरविंद केजरीवाल ने नई दिल्ली के ट्रांसपोर्ट भवन में नितिन गडकरी से मुलाकात की थी. इस दौरान दिल्ली में ई-रिक्शा से जुड़ी गाइलाइन्स पर चर्चा की थी. 

Getty Images पर मौजूद तस्वीर.

हमें केजरीवाल और गडकरी की मुलाकात को लेकर इंटरनेट पर मीडिया रिपोर्ट्स भी मिलीं. दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, 

पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ई-रिक्शा चालकों की समस्याओं के निदान को लेकर एक प्रतिनिधिमंडल के साथ केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की और उन्हें जल्द से जल्द ई-रिक्शा मामले में नया निगम लाने की मांग की, ताकि लाखों ई-रिक्शा चालकों की रोजी-रोटी चल सके. केजरीवाल ने चेतावनी दी है कि यदि दस दिनों के भीतर नियमों को अधिसूचित नहीं किया गया तो पार्टी इस मुद्दे को लेकर आंदोलन शुरू करेगी.

इसके अलावा न्यूज़ एजेंसी ANI ने भी इस मुलाकात को लेकर 14 सितंबर 2014 को ट्वीट भी किया था.

साल 2018 में माफी मांगी 

साल 2014 में अरविंद केजरीवाल ने देश के भ्रष्ट लोगों की एक लिस्ट जारी की थी. इस लिस्ट में केजरीवाल ने नितिन गडकरी का नाम भी शामिल किया था. इसके बाद गडकरी ने 2014 में ही केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था. फिर साल 2018 में केजरीवाल ने एक चिट्ठी लिखकर मामले पर खेद जताया था और केस बंद करने की गुजारिश की थी. इसके बाद गडकरी ने मुकदमा वापस ले लिया था. 

नतीजा

हमारी पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक साबित हुआ. अरविंद केजरीवाल की नितिन गडकरी से मुलाकात की तस्वीर का माफीनामा से कोई लेना-देना नहीं है. असल में केजरीवाल ने दिल्ली में ई-रिक्शा से जुड़ीं गाइलाइन्स को लेकर तत्कालीन केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की थी.

पड़ताल की वॉट्सऐप हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

ट्विटर और फेसबुक पर फॉलो करने के लिए ट्विटर लिंक और फेसबुक लिंक पर क्लिक करें. 

वीडियो: 'जब मोदी जाएंगे तो' केजरीवाल ने विधानसभा में ऐसी कामना क्यों की? ED,CBI पर भी फट पड़े

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement