The Lallantop
Advertisement

रोहित शेट्टी की पहली फिल्म के लिए प्लेन बनाया, शूटिंग से पहले ही परखच्चे उड़ गए

Rohit Shetty के सेट पर आगे भी एक बड़ा हादसा हुआ था. वो Shah Rukh Khan और Deepika Padukone को लेकर फिल्म बना रहे थे और स्टंटमैन की जान खतरे में आ गई थी.

Advertisement
rohit shetty
रोहित ने अजय देवगन को कई फिल्मों पर असिस्ट किया था.
font-size
Small
Medium
Large
4 मार्च 2024
Updated: 4 मार्च 2024 14:11 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

साल 1999 में Aamir Khan की फिल्म Sarfarosh रिलीज़ हुई. फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट रही. फिल्म के डायरेक्टर जॉन मैथ्यू ने सीक्वल बनाने का सोचा. वो दूसरे पार्ट के लिए कहानी खोजने लगे. ये खबर पहुंची सुपर्ण वर्मा तक. उन दिनों वो एक हाईजैक की कहानी लिख रहे थे. उनके दिमाग में था कि उसे ‘सरफरोश 2’ की तरह बनाया जाएगा. जॉन मैथ्यू को कहानी सुनाई. लेकिन जॉन का कहना था कि इसमें कोई विलन नहीं है. सुपर्ण ने विलन वाली समस्या फिक्स करने की कोशिश की लेकिन बात नहीं बन पाई. 

उसी दौरान सुपर्ण अजय देवगन के लिए ‘कयामत’ नाम की फिल्म भी लिख रहे थे. अजय ने सुपर्ण को अपने दोस्त रोहित शेट्टी के बारे में बताया. कहा कि अपने डायरेक्टोरियल डेब्यू के लिए रोहित एक कहानी ढूंढ रहे हैं. अजय और रोहित कई फिल्मों पर साथ काम कर चुके थे. अजय के पिता वीरू देवगन को रोहित अपना गुरु मानते थे. अजय ने सुपर्ण को रोहित से मिलवाया. सुपर्ण ने उनके सामने हाईजैक वाला आइडिया पिच कर दिया. रोहित को कहानी पसंद आई. उन्होंने इसी से डेब्यू करने का फैसला लिया.   

रोहित की पहली फिल्म ‘ज़मीन’ की कहानी कांधार हाईजैक पर आधारित थी. फिल्म में अजय देवगन, अभिषेक बच्चन, मुकेश तिवारी और बिपाशा बासु जैसे एक्टर्स थे. फिल्म की शूटिंग का पहला दिन था. एक बड़ा एयरप्लेन बनाया गया. प्लेन का सीक्वेंस शूट होना था. लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ जिसकी तैयारी किसी ने भी नहीं की थी. मुकेश तिवारी बताते हैं कि जैसे ही प्लेन वाला हिस्सा शूट होना था, तभी अचानक उसके परखच्चे उड़ गए. पहली फिल्म शुरू होते ही इतना बड़ा नुकसान हो गया. मुकेश बताते हैं कि रोहित ने कुछ ज़ाहिर नहीं होने दिया, लेकिन उनकी आंखों से दिख रहा था कि वो चिंता में हैं.
‘ज़मीन’ रिलीज़ हुई. बॉक्स ऑफिस पर नहीं चली. लेकिन टीवी प्रसारण के चलते खासी पॉपुलर हुई. ये इकलौता मौका नहीं था जब रोहित के सेट पर कोई हादसा हुआ हो. वो शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण को लेकर ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ बना रहे थे. एक स्टंट शूट होने वाला था कि तभी अचानक गाड़ी में आग लग गई. रोहित ने इस बारे में ‘द लल्लनटॉप’ के न्यूज़रूम में बताया था,   

हम स्टंट करने से पहले गाड़ियों का पेट्रोल टैंक निकाल देते हैं. जब एक टैंक हटाया जा रहा था तो गलती से थोड़ा पेट्रोल लीक होकर नीचे चेसी पर आ गया था. हम जिस कार का इस्तेमाल कर रहे थे वो एक इम्पोर्टेड कार थी, जिसमें एक रिजर्व टैंक भी था. इसके बारे में हमें पता नहीं था. हमने शूट खत्म किया और आग बुझाने चले गए. लेकिन एक चिंगारी उड़कर पीछे चली गई और कार में आग लग गई.

ड्राइवर शंकर अन्ना, जो मेरे पिताजी के साथ भी काम करते थे, वो कार के अंदर ही थे. उस शॉट में हमें बस गाड़ी को सीधा कर के शंकर अन्ना को बाहर निकालना था. तब अचानक एक चिंगारी उड़ी और गाड़ी ने आग पकड़ ली. चंद सेकंड्स में गाड़ी ने आग पकड़ ली थी. किस्मत से सेट पर फायर ब्रिगेड थी, वो लोग गाड़ी को सीधा नहीं कर सकते थे क्योंकि वो उल्टी थी. उन्होंने किसी तरह से आग बुझाई. गाड़ी का शीशा तोड़कर उन्हें किसी तरह से बाहर निकाला. उनका हाथ थोड़ा जल गया था. ये चौंकाने वाली घटना थी क्योंकि कई साल पहले पिताजी के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ था. इससे वो सब बातें याद आ गई थीं, जो मेरे पिता के सेट पर हुआ था. आधे घंटे के बाद मैंने खुद को संभाला. हम उन्हें अस्पताल ले गये. अब वो ठीक हैं.

रोहित के करीबी लोग बताते हैं कि वो अपनी टीम का बहुत ध्यान रखते हैं. मुकेश तिवारी ने बताया था कि शंकर अन्ना की इंजरी के बाद भी रोहित ने उन्हें हर दिन की फीस दी. उनका पैसा कटने नहीं दिया. वो कहते हैं कि उनकी टीम में एंट्री वन वे होती है. लोग रोहित की मर्ज़ी से आते हैं और जाते अपनी मर्ज़ी से हैं.     
 

वीडियो: दी सिनेमा शो : रोहित शेट्टी और शाहरुख खान ने चेन्नई एक्सप्रेस के बाद साथ में क्यों नहीं किया काम? डायरेक्टर ने वजह बताई है!

thumbnail

Advertisement