The Lallantop
Advertisement

कैराना से सपा-आरएलडी के उम्मीदवार नाहिद हसन गिरफ्तार

नाहिद हसन वर्तमान में विधायक हैं.

Advertisement
Img The Lallantop
विधायक नाहिद हसन को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. (फाइल फोटो-ANI)
font-size
Small
Medium
Large
15 जनवरी 2022 (Updated: 15 जनवरी 2022, 13:10 IST)
Updated: 15 जनवरी 2022 13:10 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share
नाहिद हसन. कैराना से सपा के विधायक और सपा-आरएलडी गठबंधन के प्रत्याशी. पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. आजतक के शरद मलिक की रिपोर्ट के मुताबिक, नाहिद ने खुद ही सरेंडर कर दिया. कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. नाहिद हसन ने शुक्रवार 14 जनवरी को अपना नामांकन दाखिल किया था. बताया जा रहा है कि नाहिद गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में फरार थे. गैंगस्टर एक्ट उन व्यक्तियों पर लगता है, जिन पर कम से कम एक साथ दो मुकदमे दर्ज हों. इस एक्ट के तहत न्यूनतम दो साल और अधिकतम 10 साल कैद की सजा का प्रावधान है. गैंगस्टर के आरोपियों की संस्तुति थानाध्यक्ष द्वारा की जाती है, जिसे सीओ और एसपी के अग्रसित करने के बाद जिलाधिकारी की तरफ से मंजूरी दी जाती है. 6 फरवरी 2021 को हसन और उनकी मां तबस्सुम हसन सहित 40 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में केस दर्ज किया गया था. जनवरी 2018 में हसन और उनकी मां पर जमीन के बैनामे में तकरीबन 80 लाख रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नाहिद हसन पर गैंगरेप पीड़िता के परिवार को धमकाने का भी आरोप लग चुका है. BJP ने साधा था निशाना नाहिद को फिर से टिकट दिए जाने पर बीजेपी ने समाजवादी पार्टी की आलोचना की थी. बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा था कि अखिलेश यादव ने अपनी सरकार में जिस कैराना से हिंदुओं को पलायन करने पर मजबूर किया था, आज उसी विधानसभा क्षेत्र से कुख्यात गैंगस्टर को प्रत्याशी बनाकर समाजवादी पार्टी कैराना को फिर से उसी कालखंड में ले जाना चाहती है! वहीं बीजेपी ने शनिवार 15 जनवरी को पहले और दूसरे चरण के लिए 105 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया. इससे पहले बीएसपी ने 53 नामों का ऐलान किया है. जबकि आरएलडी ने सात और नामों का ऐलान किया. प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों में से 58 के लिए पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होगा. दूसरा चरण की वोटिंग 14 फरवरी को होगी, जिसमें 55 सीटों पर चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों का भाग्य तय होगा. 59 सीटों के चुनाव लिए 20 फरवरी को मतदाता पोलिंग सेंटर पहुंचेंगे. फिर 23 फरवरी को चौथे चरण के तहत 60 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. पांचवें चरण में भी 60 सीटों पर वोटिंग होगी. तारीख है 27 फरवरी. इसके बाद 3 मार्च को छठवें चरण का मतदान होगा. इसमें 57 विधानसभा सीटें कवर की जाएंगी. सातवें और अंतिम चरण के मतदान के लिए 7 मार्च की तारीख तय की गई है. इसमें 54 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. तीन दिन बाद यानी 10 मार्च को परिणामों की घोषणा की जाएगी.

thumbnail

Advertisement