The Lallantop
Advertisement

झारखंड: वासेपुर पिच्चर वाली फैमिली की राजनीति, 2014 में भाई एक दूसरे के खिलाफ लड़ गए थे

इस बार दोनों ओर से बहुएं मैदान में थीं.

Advertisement
font-size
Small
Medium
Large
26 दिसंबर 2019 (Updated: 26 दिसंबर 2019, 15:20 IST)
Updated: 26 दिसंबर 2019 15:20 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share
कोयलांचल की सबसे प्रभावशाली सीट. दो बहुए चुनावी मैदान में आमने सामने थीं. 2014 के विधानसभा चुनाव में दोनों के पति एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़े थे. भाजपा के संजीव सिंह अपने चचेरे भाई कांग्रेस के नीरज सिंह के खिलाफ चुनाव लड़े थे. संजीव सिंह को जीत मिली थी. हालांकि संजीव सिंह फिलहाल जेल में हैं. उन पर अपने चचेरे भाई नीरज सिंह की हत्या का आरोप है. इस चुनाव में भाजपा से संजीव की पत्नी रागिनी सिंह और कांग्रेस से नीरज सिंह की पत्नी पूर्णिमा सिंह मैदान में थीं. कहा जाता है कि यहां राजनीतिक लड़ाई सिंह मेंशन और रघुकुल परिवार में रही है.

thumbnail

Advertisement