The Lallantop
Advertisement

सिपाही भर्ती के नाम पर बेच रहे थे लेखपाल का पुराना पेपर, UP पुलिस ने धर लिया!

UP Constable Exam: पुलिस ने जौनपुर से एक गैंग को गिरफ्तार किया है जो हो चुकी लेखपाल भर्ती का प्रश्न पत्र अभ्यर्थियों को Constable Recruitment के नाम पर बेच रही थी.

Advertisement
UP Constable Recruitment
सिपाही भर्ती परीक्षा में 48 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल हो रहे हैं. (सांकेतिक फोटो- आजतक)
17 फ़रवरी 2024
Updated: 17 फ़रवरी 2024 18:31 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तर प्रदेश में 60 हजार 244 पदों पर सिपाही भर्ती परीक्षा 17 फरवरी से शुरू हुई है. परीक्षा में 48 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल हो रहे हैं. इनमें से 6 लाख उम्मीदवार अन्य राज्य से हैं. परीक्षा को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड पर है. इस बीच पुलिस ने जौनपुर से एक गैंग को गिरफ्तार किया है, जो पहले ही हो चुकी लेखपाल भर्ती का प्रश्न पत्र अभ्यर्थियों को सिपाही भर्ती के नाम पर बेच रहा था.

अभ्यर्थियों की बड़ी संख्या को देखते हुए 75 ज़िलों में 2385 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. सुरक्षा केन्द्रों के अंदर-बाहर कड़ी सिक्योरिटी है.  इस बीच DGP प्रशांत कुमार परीक्षा केंद्रों का दौरा करने के लिए भी पहुंचे. उन्होंने बताया कि UP सिपाही भर्ती परीक्षा में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं और परीक्षा बिना किसी पेपर लीक के पूरी हो रही है. उनकी जानकारी के मुताबिक पूरे प्रदेश में सॉल्वर गैंग (ऑनलाइन हैकिंग के जरिये पेपर सॉल्व करने वाली गैंग) के परीक्षा में शामिल होने की कोई खबर नहीं है.

लेखपाल का पेपर बेचा

इस बीच UP के कई जिलों में परीक्षा में बाधा डालने और ठगने वालों की गिरफ्तारी हुई है. DGP प्रशांत ने बताया कि 17 फरवरी को जौनपुर से पुलिस ने एक गैंग को गिरफ्तार किया है जो 2023 में हो चुकी लेखपाल भर्ती परीक्षा का प्रश्न पत्र अभ्यर्थियों को सिपाही भर्ती के नाम पर बेच रहा था. उन्होंने बताया कि ऐसे तमाम लोग जो फर्जी पेपर बेचकर परीक्षा अटकाने की कोशिश कर रहे है, उन्हें UP पुलिस गिरफ्तार कर रही है.

अभी तक 40 से ज्यादा लोग अरेस्ट

DGP प्रशांत कुमार ने बताया कि UP पुलिस इस परीक्षा को बिना किसी बाधा के पूरा करने के लिए हर परीक्षा केंद्र पर मौजूद है, सुरक्षा का भी पूरा ख्याल रखा जा रहा है. पहली शिफ्ट की परीक्षा के बाद प्रदेश भर से हुए 44 लोग अरेस्ट हो चुके हैं. पकड़े गए सभी आरोपी अभ्यार्थियों को फर्जी पेपर बेच रहे थे और पैसा ऐंठ रहे थे. अभी तक जौनपुर से 2, मऊ से 8 लोग अरेस्ट हुए हैं. कानपुर STF ने UP पुलिस भर्ती में सेंध लगाने की कोशिश में जुटे दो 2 युवकों को भी दबोचा. दोनों युवक फोन कॉल करके पुलिस भर्ती में नौकरी लगवाने की बात कर रहे थे. वहीं झांसी, मऊ, वाराणसी समेत कई जिलों में STF और जिला पुलिस कार्रवाई कर रही है. कुल मिलाकर पहली शिफ्ट की परीक्षा में 40 से ज़्यादा लोगों को प्रदेश भर में पकड़ा गया.

ये भी पढ़ें: UP लेखपाल भर्ती: जिस कैंडिडेट को रंगे हाथों नकल करते पकड़ा गया, वो 'पास' कैसे हो गई?

वीडियो: लेखपाल पेपर लीक मामले में सॉल्वर गैंग ने 10 लाख रुपए में पेपर पास करने का फैलाया था जाल

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement