Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

पाकिस्तान की बजबजाती गंदगी का ये एक नमूना है

वो लिखता रहा काफ़िर, काफ़िर, काफ़िर…! ये भी काफ़िर, वो भी काफ़िर! बिना किसी डर के कहता रहा. वो सोशल एक्टिविस्ट भी है. प्रोफेसर भी है और शायर भी. अब वो कहां हैं कोई कुछ बताने वाला नहीं. बीवी है. जो बार बार ये ही कह रही है. रात 8 बजे तक लौट आने को कहा था. इंतजार में 10 बज गए. मगर वो नहीं आए. रिश्तेदार ढूंढ रहे हैं. मगर ख़ूबसूरती से सबको काफ़िर बताकर ये शख्स कहां गायब हो गया. तीन दिन बीत गए. अभी तक पता नहीं चला. हमारे पास उनकी वो नज़्म है जिसने लोगों पर अमिट छाप छोड़ दी है. और वो नज़्म ‘काफ़िर’ ही है.

पाकिस्तान. हां ये पाकिस्तान में ही हुआ है. प्रोफेसर सलमान हैदर. शायर भी सोशल एक्टिविस्ट भी. कट्टरपंथियों को अच्छे से धोया. उनकी कट्टरता की धार को कुंद किया. फातिमा जिन्ना यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं. आखिरी बार इस्लामाबाद में दिखे थे. शुक्रवार की रात से लापता हैं. महज़ वो अकेले नहीं हैं. जिनको गायब किया गया है. उनके अलावा तीन और एक्टिविस्ट पाकिस्तान में गायब कर दिए गए. यानी पांच दिन में सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले चार लोगों को लापता कर दिया गया.

असीम सईद
असीम सईद

AFP एजेंसी को साइबर सिक्योरिटी NGO ने बताया कि वक़ास गोराया और असीम सईद 4 जनवरी से लापता हैं. अहमद रज़ा नसीर शनिवार से गायब हैं. ये सभी सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव थे. अहमद रज़ा नसीर के रिश्तेदार का कहना है वो तो पोलियो से पीड़ित हैं. आंतरिक मामलों के मंत्री चौधरी निसार का कहना है कि जांच एजेंसियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं लापता लोगों को खोज निकालने के लिए पुलिस जुटी हुई है.

अहमद वक़ास
अहमद वक़ास गोराया

एक सिक्योरिटी अफसर ने AFP को बताया कि चारों लोगों के गायब होने में इंटेलिजेंस सर्विस का हाथ नहीं है. पाकिस्तान में पत्रकारों, सोशल एक्टिविस्टों के लिए हालात बहुत बुरे हैं. कब कट्टरपंथियों का निशाना बन जाएं, नहीं पता. कट्टरपंथियों के मन की बात न होने पर उन्हें पीता जाता है. धमकाया जाता है. और क़त्ल कर दिया जाता है.

ये पाकिस्तान में आपातकाल है. विरोध स्वर का खामोश होना जम्हूरियत को मरते हुए देखना है. आज वो गायब हैं. कल किसी और का नंबर होगा. सिस्टम से सवाल किया जाना चाहिए आखिर कहां हैं ये ह्यूमन राइट्स की बात करने वाले.

अब तक ज्यादा जानकारी प्रोफेसर और शायर सलमान हैदर के बारे में ही मिली है. शुक्रवार की रात सलमान इस्लामाबाद के बानी गाला इलाके में अपने दोस्तों के साथ थे. उन्होंने अपनी बीवी को फ़ोन किया और कहा कि वह रात आठ बजे तक घर लौट आएंगे. सलमान जब रात 10 बजे तक घर नहीं लौटे तो उनकी बीवी ने फोन किया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला.

सलमान के भाई जीशान हैदर ने कहा, ‘सलमान की बीवी के मोबाइल पर एक मैसेज आया कि वह कोरल चौक इलाके से अपनी कार घर ले जाएं. वहां पुलिस के साथ पहुंचे तो कार तो थी. मगर सलमान का पता नहीं था.’

राइटर और एनालिस्ट रज़ा रूमी साल 2014 में खुद पर हुए हमले के बाद पाकिस्तान को छोड़ चुके हैं. उनपर एक गनमैन ने हमला किया था, जिसमें उनके ड्राईवर को गोली लगी थी और वो मर गया था. तभी से वो पाकिस्तान से बाहर रह रहे हैं. उन्होंने ट्वीट किया, ‘स्टेट ने टीवी को तो कंट्रोल कर लिया अब सोशल मीडिया पर फोकस किया जा रहा है.’

प्रोफेसर सलमान हैदर
प्रोफेसर सलमान हैदर

मैं भी काफ़िर, तू भी क़ाफ़िर

सलमान हैदर ने मुस्लिम उलेमाओं की कट्टरता पर तंज़ कसते हुए काफ़िर नज़्म लिखी थी. क्योंकि कहीं कोई बात हुई ये मौलवी लोग फ़ौरन काफ़िर का फतवा लांच कर देते थे. सलमान हैदर की कविताओं का तंज़ तिलमिला देने के लिए काफी है. तो आप खुद पढ़िए

मैं भी काफ़िर, तू भी क़ाफ़िर
मैं भी काफ़िर, तू भी क़ाफ़िर
फूलों की खुशबू भी काफ़िर
शब्दों का जादू भी काफ़िर
यह भी काफिर, वह भी काफिर
फ़ैज़ भी और मंटो भी काफ़िर

नूरजहां का गाना काफिर
मैकडोनैल्ड का खाना काफिर
बर्गर काफिर, कोक भी काफ़िर
हंसी गुनाह, जोक भी काफ़िर
तबला काफ़िर, ढोल भी काफ़िर
प्यार भरे दो बोल भी काफ़िर
सुर भी काफिर, ताल भी काफ़िर
भांगरा, नाच, धमाल भी काफ़िर
दादरा, ठुमरी, भैरवी काफ़िर
काफी और खयाल भी काफ़िर
वारिस शाह की हीर भी काफ़िर

चाहत की ज़ंजीर भी काफ़िर
जिंदा-मुर्दा पीर भी काफ़िर
भेंट नियाज़ की खीर भी काफ़िर
बेटे का बस्ता भी काफ़िर
बेटी की गुड़िया भी काफ़िर
हंसना-रोना कुफ़्र का सौदा
गम काफ़िर, खुशियां भी काफ़िर

जींस भी और गिटार भी काफ़िर
टखनों से नीचे बांधो तो
अपनी यह सलवार भी काफ़िर
कला और कलाकार भी काफ़िर
जो मेरी धमकी न छापे
वह सारे अखबार भी काफ़िर
यूनिवर्सिटी के अंदर काफ़िर
डार्विन भाई का बंदर काफ़िर
फ्रायड पढ़ाने वाले काफ़िर
मार्क्स के सबसे मतवाले काफ़िर

मेले-ठेले कुफ़्र का धंधा
गाने-बाजे सारे फंदा
मंदिर में तो बुत होता है
मस्जिद का भी हाल बुरा है
कुछ मस्जिद के बाहर काफ़िर
कुछ मस्जिद में अंदर काफ़िर
मुस्लिम देश में अक्सर काफ़िर
काफ़िर काफ़िर मैं भी काफ़िर
काफ़िर काफ़िर तू भी काफ़िर

पिछले साल एक एक्टिविस्ट को गोली मार दी गई

मई 2016 की खबर है. पाकिस्तान के जाने-माने पत्रकार और ह्यूमन राइट्स एक्टिविस्ट ख़ुर्रम ज़की को कराची में गोली मारी गई. इस गोली ने उन्हें दुनिया से रुखसत कर दिया था. इस हमले की ज़िम्मेदारी पाकिस्तान तालिबान ने ली और कहा, ‘इस्लामाबाद की लाल मस्जिद के इमाम अब्दुल अज़ीज़ के ख़िलाफ़ ख़ुर्रम ज़की के बयानों की वजह से उसको मार गया है.’

khurram
खुर्रम ज़की का जनाज़. source Reuters

ज़की और अन्य लोगों ने अब्दुल अज़ीज़ के ख़िलाफ़, शिया कम्युनिटी के लोगों के ख़िलाफ़ नफ़रत और हिंसा भड़काने का मामला दर्ज कराया था. हमलावरों ने जिस वक्त गोलियां चलाईं उस वक्त वो किसी के साथ खाना खा रहे थे. इस गोलीबारी में दो और लोग जख्मी हुए थे. ख़ुर्रम ज़ाकी ‘लेट अस बिल्ड पाकिस्तान’ वेबसाइट के एडिटर थे. ये वेबसाइट पाकिस्तान में सांप्रदायिकता की मुख़ालफ़त और डेमोक्रेसी की हिमायती है.

ये रहा वीडियो, सुन लो सलमान हैदर को

 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

गोरखपुर डीएम की जांच में कुछ और ही सामने आया है

डॉ कफील पर क्या कहा गया है?

सिर में बाउंसर लगने से पाकिस्तानी बल्लेबाज़ की मौत, क्रिकेट खेलते वक़्त ये गलती न करें

पाकिस्तान के इस खिलाड़ी की मौत ने कई खिलाड़ियों की मौतों का दर्द ताज़ा कर दिया.

परमाणु शक्ति से संपन्न भारत और चीन में 'पत्थर वॉर' शुरू हो गया है

नाथूला में मिठाई खिलाकर लद्दाख में भारतीय जवानों पर फेंके पत्थर, जवाब मिला तो भाग निकले

उम्मीद है लहराते तिरंगे की ये तस्वीरें प्रधानमंत्री मोदी तक जरूर पहुंचेंगी

स्कूल मास्टर और इन बच्चों की देशभक्ति को सलाम.

मोदी ने लाल किले पर वो किया, जो पिछले 3 साल से नहीं कर पाए थे

आखिर, लोगों की बात माननी ही पड़ी.

डीएम के मना करने के बावजूद, भागवत ने केरल में झंडा फहराया तो हंगामा हो गया

संघ और वामपंथी संगठनों के बीच हुई राजनैतिक हिंसाओं के बाद केरल पहुंचे आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने रोक के बाद भी एक स्कूल में तिरंंगा फहराया.

Sarahah पर आपको कौन मैसेज भेज रहा है, उसका नाम बताने का दावा कर रही है ये वेबसाइट

क्या सच में ये संभव है, हम बताते हैं आपको सच.

बिहार में बाढ़ है, सरकारी तैयारी फरार है

हर साल आने वाली आपदाओं से निपटने की हमारी तैयारी कमजोर क्यों साबित होती है?

टॉप खबर

इस बीजेपी नेता के बेटे से लड़की बिना रेप हुए वापस आ गई, सिर्फ इसलिए खुश है

आईएएस की बेटी ने अपने जो हालात बयां किए हैं, आपको विचलित कर देंगे.

पीएचडी कर रहे सफाईकर्मी को नौकरी से निकाल दिया, वजह जानकर सिस्टम को कोसेंगे

इतनी डिग्रियां होने के बावजूद नौकरी से निकाले जाने पर हैरानी होती है.

वैंकैया नायडू के देश के 13वें उपराष्ट्रपति चुने जाने का गणित ये है

राष्ट्रपति चुनाव के बाद विपक्ष के वोटों का कुल आंकड़ा 19 के आंकड़े से बढ़ा है.

उप-राष्ट्रपति उम्मीदवारों ने जो बोला, वो दिल खुश करने वाला है

वोटिंग जारी है. पीएम ने डाला पहला वोट.

सो रही लड़की की जांघ पर हाथ रखा, फिर लड़की ने जो किया, वो करना बहुत ज़रूरी था

16 साल की लड़की से की गई ये हरकत शर्मनाक है.

'बाबू मोशाय बंदूकबाज' की प्रोड्यूसर महिला है, तो सेंसर बोर्ड उसे तमीज सिखाएगा?

सेंसर बोर्ड के कई लॉजिक तो जाहिलपने की जिंदा मिसाल हैं.

पड़ोस में नवाज तो निपट गए, अपने यहां भी कुछ होगा क्या?

पनामा पेपर्स में कई भारतीयों के भी नाम हैं.

करगिल शहीद का बेटा, जिसने दुनिया में आकर Martyr का मतलब खोजा

जब मुकेश राठौर टाइगर हिल पर लड़ते हुए शहीद हुए तब ये पैदा भी नहीं हुआ था.

रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति चुनाव जीते, जानिए कहां-कहां हुई क्रॉस वोटिंग

कोविंद को 60.30% वोट मिलना तय माना जा रहा था, मिले 66% वोट.

भौंचक

बहू को बचाने वाली इस सास की कहानी आपको रुला देगी

शराब के नशे में उसका बेटा अपनी बीवी को बुरी तरह पीटता था.

इस आदमी की बेदिमागी देखिए, नन्ही बच्ची की जान खतरे में डाल दी है

इसे लोग दुनिया का सबसे बुरा बाप कह रहे हैं.

दुनिया का सबसे सस्ता फोन आ गया है, लेकिन आप खरीद नहीं पाएंगे!

इसे पाने की राह में एक बड़ा रोड़ा है.

इस लड़के को राक्षस कह स्कूल से निकालने वाले इसकी तकलीफ नहीं समझते

इसके हाथों की वजह से धीरे-धीरे सबने इस लड़के से दोस्ती तोड़ दी है...

सिलेंडर के बढ़े रेट से परेशान लोगों, यहां लोग टट्टी से खाना बनाने लगे हैं

इंसानी टट्टी की बात कर रहे हैं, मजाक नहीं है.

पाकिस्तान की सरकारी वेबसाइट पर ये तस्वीर देखकर आपको भारी खुशी होगी

ये देखकर पाकिस्तान सदमे में आ गया होगा.

बीच से अलग हो गई स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस, लेकिन एक अच्छी बात है

नई दिल्ली-लखनऊ शताब्दी की तस्वीरें हैं, देखके दिमाग घूम जाएगा.

भयानक वीडियो: गुस्साए आदमी ने कुत्ते को दांत से ऐसे काटा, देख कर डर जाएंगे!

कुत्ता बेचारा चार दिनों तक कराहता रहा.

प्लेन का मुंह भले पिचक गया, लेकिन पायलट की आप जी भरकर तारीफ करेंगे

इसकी ऐसी हालत खड़े खड़े नहीं हुई है.