Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

रातोरात 40 लाख लोग अंधेपन से मुक्त हुए, ऐसा क्या कर दिया मोदी सरकार ने

भारत में पिछले 40 सालों से चली आ रही अंधेपन की परिभाषा बदल गई है. अब ये डब्ल्यूएचओ की क्राइटेरिया के मुताबिक हो गया है. इस कदम से अचानक ही देश में दृष्टिहीनों की संख्या कम हो जाएगी. यूनियन हेल्थ मिनिस्ट्री ने इस बाबत नोटिफिकेशन जारी किया है.

अब इस नई परिभाषा के मुताबिक जो लोग 3 मीटर की दूरी पर दिखाई जा रही उंगलियों को नहीं देख सकते हैं वो दृष्टिहीन माने जाएंगे. देश में 1976 से लेकर अब तक ब्लाइंडनेस का पैमाना था: 6 मीटर पर रखी चीजों को न देख पाना.

newsflicks-apr13-9_650_040315103021
नई परिभाषा के मुताबिक 40 लाख लोग अब दृष्टिहीन की कैटेगरी से बाहर हो जाएंगे.

क्यों बनाई गई नई डेफिनिशन

इस नई डेफिनिशन से डेटा बनाने में मदद मिलेगी. ताकि 2020 तक ब्लाइंडनेस देश की कुल जनसंख्या के 0.3 फीसदी तक ही सीमित रह जाए. नेशनल ब्लाइंडनेस सर्वे के मुताबिक 2007 में देश में कुल 1.20 करोड़ लोग दृष्टिहीन थे. इसके बादअब देश में ब्लाइंड लोगों की संख्या घटकर 80 लाख हो जाएगी.

नेशनल प्रोग्राम फॉर कंट्रोल ब्लाइंडनेस की डिप्टी डायरेक्टर जनरल प्रोमिला गुप्ता के मुताबिक,

‘पुरानी परिभाषा से हम दुनियाभर के मानकों के हिसाब से दृष्टिहीनों के चार्ट में काफी नीचे थे. जिससे इंटरनेशनल फोरम पर एक खराब छवि बन रही थी. साथ ही हमारा डेटा WHO के ग्लोबल एस्टीमेट से मैच नहीं कर रहा था.’

sight-day-story_660_101112120843
भारत ग्लोबल ब्लाइंडनेस इंडेक्स में काफी पिछड़ा हुआ है.

एम्स के प्रोफेसर प्रवीन वशिष्ठ बताते हैं,

‘ये बदलाव जरूरी था. अब हम 2020 तक ब्लाइंडनेस इंडेक्स में अपनी रैंक सुधार सकते हैं. हम 40 लाख लोगों को ब्लाइंड की तरह ट्रीट कर रहे थे जबकि इन लोगों को रिफरेक्टिव एरर था. इसमें लोगों की आंखें लाइट को सही तरह से मिला नहीं पाती हैं. इसी वजह से उन लोगों को चीजें ब्लर दिखाई देती हैं.’

2020 वाले टारगेट को अचीव करने के लिए कई सारे बदलाव किए जा रहे हैं. इस स्कीम का नाम नेशनल प्रोग्राम फॉर कंट्रोल से बदलकर दि नेशनल प्रोग्राम फॉर कंट्रोल ऑफ ब्लाइंडनेस एंड इम्पेयरमेंट कर दिया गया है.


ये भी पढ़ें:

झूठ नहीं है तीसरी आंख का कॉन्सेप्ट, सबके पास होती है

ऐ तुम्हें पता है, तुम्हारी आंख तुम्हें उल्टा दिखा रही है

इस बच्चे की आंखों से खून निकला, फिर वे बाहर आ गईं, मदद चाहिए

बीजेपी के हिंदुत्व कैंपेन की भेंट चढ़ा शाहरुख का आई केयर कैंपेन!

जब आसमान में नजर आने लगी भगवान की आंखें

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कौन हैं सत्यदेव पचौरी जिन्होंने मोदी और योगी को अपमानित कर दिया

नेता जी ने बहुत ही अजीब बात कर दी.

309 रुपये में 8 महीने फ्री डेटा देगा जियो, लेकिन एक शर्त है

धन धनाधन से भी बड़ा फायदा.

आज़म खान, तीन तलाक़ मुद्ददे से बचने के लिए सती प्रथा का सहारा मत लीजिये

10 में से 9 बार बेतुकी बात ही बोलते हैं.

मेड को तंग किया, अब हिमांशु भाटिया देंगी 87 लाख रुपये

बहुत महंगा पड़ गया बुरा व्यवहार.

RTI के प्रोग्राम में मुस्लिम अफसर ने लगाए जय श्रीराम के नारे

'मुसलमानों को अपनी बात ढंग से रखने का शऊर नहीं है.'

रविंद्र गायकवाड़ की 'बहादुरी' का नया वीडियो आ गया है, ये देखो

इस बार एयर इंडिया नहीं, कोई और उनके कोप का भाजन बन गया.

कुछ नेताओं को सनी लियोन का ये वीडियो अश्लील लग रहा है, आपको क्या लगता है?

पार्टी सनी लियोन के खिलाफ़ लामबंद हो चुकी है.

आप जिससे नौकरी मांगेंगे, उसे आपकी सर्च हिस्ट्री दिखा देगा गूगल?

नौकरी खोजने वालों के लिए लिंक्डइन की तरह Hire ला रहा है गूगल, लेकिन क्या होगा नुकसान!

ये मुसलमान प्रिंसिपल योगी आदित्यनाथ का फ़ैन क्यों है?

उत्तराखंड के महायोगी गुरु गोरखनाथ डिग्री कॉलेज के प्रिंसिपल हैं आफताब.

कल्याण सिंह को कुछ तो किस्मत ने बचाया, कुछ मोदी सरकार ने

बाबरी विवादित ढांचे मामले में यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री बच गए हैं.

टॉप खबर

मेट्रो में सीट पाने वाले ऑस्ट्रेलियाई पीएम टर्नबुल एहसान भूले, भारत के साथ खेल कर दिया

यहां मंदिर में सीढ़ियों पर बैठकर फोटो खिंचाई थी. वहां पहुंचकर भारतीयों का पत्ता काट गए.

दो जगह हुई बछड़ोंं की मौत और पंचायत ने दिए दंग करने वाले फैसले

एक जगह दलित निशाना बना तो दूसरी जगह दो बच्चे.

क्या है कश्मीर में सैनिकों के अत्याचार के वीडियो का सच?

एक के बाद एक वीडियो वायरल हो रहा है. किसी वीडियो को शेयर करने से पहले इसे ज़रूर पढ़ें.

कॉलेज के कैंपस प्लेसमेंट से सरकारी नौकरी मिलनी बंद होने वाली है

कानून मंत्रालय का फैसला. 'डे फोर' तक रुको या सालभर कंपनी नहीं आएगी.

जिसे आप मशहूर हिरोइन समझते थे, वो तस्कर निकली

आंध्र के जंगल से हॉन्ग कॉन्ग पहुंचने तक लकड़ी की कीमत 20 गुना बढ़ जाती है.

अमेरिका ने अफगानिस्तान पर गिराया सारे बमों का बाप, जानें 5 बातें

इस एक बम की लागत होती है 110 करोड़ रुपये.

राजौरी गार्डन हार के बाद AAP को अगली बुरी खबर कुमार विश्वास से मिलेगी!

कुमार विश्वास की गतिविधियां इशारा कर रही हैं कि वह कोई बड़ा राजनीतिक फैसला ले सकते हैं.

उपचुनाव 2017ः दिल्ली में आम आदमी पार्टी की ज़मानत ज़ब्त

आठ राज्यों में उप चुनावों के रुझान आने शुरू हो गए हैं.

क्या सजा-ए-मौत के पहले ही पाकिस्तान ने कुलभूषण को मार डाला है?

क्या मौत की सजा सच्चाई को दफनाने के लिए एक ढोंग भर है?

पाकी टॉकी

जब आप भीड़ बनते हैं, तब आपके अंदर का राक्षस जल्दी बाहर आता है

पाकिस्तान में ईशनिंदा के शक़ में छात्र को पीट-पीट कर मार डाला गया.

यहां गलती मर्द करे, हर्जाना औरत या बच्ची को शादी करके चुकाना पड़ता है

क्या है ये 'वानी' रस्म, जिसमें अपनी घर की लड़की या बच्ची को दुश्मन के हवाले कर दिया जाता है

ये पाकिस्तानी बंदा कुलभूषण को फांसी के खिलाफ है और गाली खा रहा है

कहीं आप भी इस बंदे का मजाक तो नहीं उड़ाते थे?

पेट दर्द का बहाना लेकर देश से भाग जाने की फ़िराक में है पाकिस्तानी पीएम!

क्या सच में शरीफ बहाना ले रहे हैं.

अप्रैल फ़ूल पर सबसे गंदा मजाक पाकिस्तान के पूर्व मंत्री से हुआ है

एक साथ तीन लोगों के साथ कांड हो गया. आपको पता चला?

उसने कहा- हम पर ज़ुल्म हो रहा है, अगले दिन उसे मार दिया गया

इनके लिए खुद को मुसलमान कहने का मतलब है मौत को दावत देना.

इस पाकिस्तानी औरत का घर है या फिर 'मुग़ल गार्डन'?

लुबाबा अब्बास पौधों को ऐसे रखती हैं जैसे बच्चों को.

पाकिस्तान में एक खास तरह के पोस्ट डिलीट कर रहा फेसबुक

25 एक्सपर्ट्स की एक टीम लगी है काम पर.

भारत के खिलाफ पाकिस्तान में झूठ फैला रहे थे, इलाहाबाद पुलिस ने धो दिया

ट्वीट करने वाले साहब खुद को खैबर पख्तूनख्वा सरकार का चेयरमैन बताए हैं.

असली शेर पर सवार होकर बारात में पहुंचा दूल्हा, लेकिन एक लोचा हो गया

पूरा सोने के गहनों से लद फंद के छम्मा छम्मा करते हुए गए थे. वीडियो देखो.