Submit your post

Follow Us

देसी शेक्सपियर: कहानी रोम के राजा जूलियस सीजर की

181
शेयर्स

Flavius फजलू
Murellus महमूद
Caesar सीज़र
Cassius कमलेश्वर aka कमलू
Brutus बटुकेश्वर aka बटुक
Calpurnia कलावती
Antony अनंतनाथ

आज से लगभग 2060 साल पहले. सीज़र और पॉम्पे नाम के दो राजा थे. पार्टनरशिप में प्रजा की देख-रेख करते थे. किसी बात को लेकर दोनों के बीच हो गयी कहा-सुनी. इतिहास गवाह है, जब भी पार्टनरशिप का सीन आता है लड़ाई होना आम बात है.

रोम में भी लड़ाई छिड़ गई. सीज़र और पॉम्पे के बीच. उस लड़ाई में सीज़र जीत गया. उसका भौकाल टाइट था. वो जब जीत कर वापस आया तो लोग गाजे बाजे के साथ उसके वेलकम के लिए खड़े थे. और इसी समय शुरू होती है जूलिअस सीज़र की कहानी.

फजलू और महमूद इस बात से झल्लाए हुए हैं कि रोम के सारे लोग अपना काम-धाम छोड़ कर पार्टी करने में लगे हुए हैं. वो रोम के लोगों को खूब पेलते हैं. सीज़र सेना के साथ लौटता है. उसका जबरदस्त स्वागत होता है. इसी बीच एक फ़कीर सीज़र से कहता है कि वो आने वाली मार्च की पंद्रह तारीख़ से बच कर रहे. सीज़र फ़कीर को इग्नोर कर देता है.

पोम्पे से जीत कर लौटा सीज़र
पॉम्पे से जीत कर लौटा सीज़र

कहानी का असली विलेन है कमलू. वो सीज़र से खूब जलता है. बटुक सीज़र का दोस्त है. कमलू को पता है कि बटुक का देश प्रेम, दोस्ती से ज्यादा बड़ा है. इसलिए उसे सीज़र के खिलाफ भड़काना आसान है. कमलू बटुक को याद दिलाता है कि वो कितना कमाल का आदमी है. और रोम के सिंहासन पर सीज़र से ज्यादा बटुक का हक है. कमलू बटुक को प्रजा और देश की दुहाई देता है. जिससे बटुक, सीज़र को मारने की साजिश के लिए मान जाता है.

कमलू
कमलू

उसी रात रोम में भयंकर तूफ़ान आता है. और इसी के साथ आता है सीज़र की पत्नी कलावती को एक बुरा सपना. उधर बटुक को मिलते हैं कुछ ख़त जो रोम की जनता ने लिखे थे. उन खतों में सीज़र को जम के गरियाया गया था. असल में, सभी ख़त फर्जी थे और इन्हें खुद कमलू ने लिखा था. ताकि बटुक को ये विश्वास हो जाए कि सीज़र एक अच्छा राजा नहीं है. बस फिर क्या था, बटुक ने तय किया कि सीज़र को मरना ही होगा. कमलू सीज़र के ख़ास मंत्री अनंतनाथ को भी मार डालना चाहता है. पर बटुक दिल का अच्छा इंसान है. वो कहता  है कि खून उतना ही बहेगा जितना ज़रूरी होगा.

बटुक
बटुक

और आ जाती है मार्च की 15 तारीख़. पिछली रात के सपने से कलावती परेशान है. और सीज़र से कहती है कि वो आज महल से बाहर न निकले. सीज़र नहीं मानता. वो तैयार हो कर रोम की सड़कों से होकर जाता है संसद की ओर. वहां उसे कमलू और बटुक के साथ कुछ और मंत्री मिलते हैं. एक-एक करके सारे सीज़र को छुरा भोंक देते हैं.

caesar 4
सीज़र को छुरा भोंकने जाता बटुक

अनंतनाथ इन सब घटनाओं से बेखबर होता है. और रोम में वापस लौटता है. सीज़र की लाश देखकर वो उसके कातिलों को तबाह करने की कसम खाता है. वो सीज़र की लाश लेकर जनता के बीच जाता है. और उन्हें दिखता है कि किस तरह सीज़र ने अपनी वसीयत में सारी पर्सनल प्रॉपर्टी जनता के नाम कर दी है.

caesar 5
जनता को सीज़र की वसीयत सुनाता अनंत

जनता गुस्से में कमलू और बटुक को धक्के मार कर रोम के बाहर खदेड़ देती है. बटुक और कमलू अपनी सेना बना कर रोम पर अटैक करते हैं. पर अनंत की सेना से हार जाते हैं और आत्महत्या कर लेते हैं.

(सभी स्क्रीनशॉट BBC शेक्सपियर से)

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गंदी बात

'इस्मत आपा वाला हफ्ता' शुरू हो गया, पहली कहानी पढ़िए लिहाफ

उस अंधेरे में बेगम जान का लिहाफ ऐसे हिलता था, जैसे उसमें हाथी बंद हो.

PubG वाले हैं क्या?

जबसे वीडियो गेम्स आए हैं, तबसे ही वे पॉपुलर कल्चर का हिस्सा रहे हैं. ये सोचते हुए डर लगता है कि जो पीढ़ी आज बड़ी हो रही है, उसके नास्टैल्जिया का हिस्सा पबजी होगा.

बायां हाथ 'उल्टा' ही क्यों हैं, 'सीधा' क्यों नहीं?

मां-बाप और टीचर बच्चों को पीट-पीट दाहिने हाथ से काम लेने के लिए मजबूर करते हैं. क्यों?

फेसबुक पर हनीमून की तस्वीरें लगाने वाली लड़की और घर के नाम से पुकारने वाली आंटियां

और बिना बैकग्राउंड देखे सेल्फी खींचकर लगाने वाली अन्य औरतें.

'अगर लड़की शराब पी सकती है, तो किसी भी लड़के के साथ सो सकती है'

पढ़िए फिल्म 'पिंक' से दर्जन भर धांसू डायलॉग.

मुनासिर ने प्रीति को छह बार चाकू भोंककर क्यों मारा?

ऐसा क्या हुआ, कि सरे राह दौड़ा-दौड़ाकर उसकी हत्या की?

हिमा दास, आदि

खचाखच भरे स्टेडियम में भागने वाली लड़कियां जो जीवित हैं और जो मर गईं.

अलग हाव-भाव के चलते हिजड़ा कहते थे लोग, समलैंगिक लड़के ने फेसबुक पोस्ट लिखकर सुसाइड कर लिया

'मैं लड़का हूं. सब जानते हैं ये. बस मेरा चलना और सोचना, भावनाएं, मेरा बोलना, सब लड़कियों जैसा है.'

ब्लॉग: शराब पीकर 'टाइट' लड़कियां

यानी आउट ऑफ़ कंट्रोल, यौन शोषण के लिए आमंत्रित करते शरीर.

औरतों को बिना इजाज़त नग्न करती टेक्नोलॉजी

महिला पत्रकारों से मशहूर एक्ट्रेसेज तक, कोई इससे नहीं बचा.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.