Submit your post

Follow Us

कौन रोकेगा शाहरुख़ के कपड़े उतरने से, हिलेरी या ट्रम्प?

229
शेयर्स

हिलेरी क्लिंटन डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से अमेरिकी प्रेसिडेंट पद की उम्मीदवार बन गई हैं. डॉनल्ड ट्रम्प पहले ही रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार बन चुके हैं. अब सवाल ये है कि दोनों में से कौन इंडिया के लिए बेहतर साबित होगा? कौन होगा जो न्यूयॉर्क एअरपोर्ट पर शाहरुख़ खान के कपड़े उतरवाने से रोक देगा?

ट्रम्प के थूक से भरे भाषण देख के ऐसा लगता है कि उनका जीतना बाज़ार में ‘गोमांस’ बिकने के बराबर है. एकदम हर तरफ लोग पगला जायेंगे. किसी को कुछ समझ ही नहीं आएगा कि क्या हो रहा है. और कई जगह काली पोलीथिन में मुर्गा ले जाने वाले भी पिट जायेंगे.

हिलेरी की बेसाख्ता हंसी भी बहुत प्यारी नहीं है. उनकी कहानी उन चुड़ैलों की कहानी की तरह है जो सुन्दर साड़ी में लिपटी लम्बे बालों वाली कन्या की तरह हैं. पास जाने पर पता चलेगा कि उसके पैर पीछे की तरफ हैं.

तो होगा क्या? ये हम लोग अब तथ्यों के आधार पर देखेंगे. कि कहां-कहां इंडिया और अमेरिका उलझ रहे हैं:

1. कश्मीर: कश्मीर के मुद्दे पर अमेरिका कभी भी इंडिया के पक्ष में नहीं रहा है. साफ-साफ पाकिस्तान के पक्ष में. पर ट्रम्प के अलग विचार हैं. अलग आदमी ही है वो. ट्रम्प के पाकिस्तान पर वो विचार हैं, जो इंडिया सुनना चाहता है. आतंकवाद पर बहुत पिनका हुआ है. यहां वो पाकिस्तान के खिलाफ हो सकता है. बिजनेस का आदमी है, पाकिस्तान से कोई लेना-देना नहीं. वहीं हिलेरी की पार्टी भीतरघाघ है. हां, हां करेंगे. पर आग में घी डालते रहेंगे.

फोटो क्रेडिट: REUTERS
कश्मीर फोटो क्रेडिट: REUTERS

2. व्यापार: इसमें कई पेच हैं. ट्रम्प को अमेरिका में काम कर रहे सस्ते इंडियन नापसंद हैं. इस H-1B वीजा के मामले में ट्रम्प भारतीय लोगों को जहाज पर बैठा के भेज सकते हैं. वहीं हिलेरी की पार्टी भी इसमें बिना बोले यही काम करती है. ओबामा ने पूरे वक़्त भारत के सॉफ्टवेयर इंजीनियर समुदाय को तंग किया. बस बोला नहीं.

ट्रम्प खुद को इकॉनोमिस्ट समझते हैं. उनकी अपनी थ्योरी है. पर वो जो भी धमकी देते हैं, वो पूरी नहीं हो सकती. सुनने में अच्छी लगती है. अमेरिका व्यापार के मामले में साउथ एशिया पर बहुत ज्यादा निर्भर होता जा रहा है. सारे रिश्ते तोड़ लेना संभव नहीं है. धमकी देना संभव है. हालांकि इंडिया के राष्ट्रवादी इस बात से खुश हैं कि अगर ट्रम्प ने सुन्दर पिचाई को अमेरिका से इंडिया भेज दिया तो हमारा अपना गूगल हो जायेगा.

sundar

3. हथियार: इस मामले में ट्रम्प ने अपने पत्ते खोले नहीं हैं. पर व्यापारी आदमी ठहरे. हथियार बेचने जाना ही है. ‘इस्लाम’ से दिक्कत है. तो पाकिस्तान को थोड़ा कम देंगे. हो सकता है कि इंडिया को थोड़ा सस्ते में बेच दें. हिलेरी अपनी पार्टी से अलग नहीं जाएंगी. इनको भारत और पाकिस्तान दोनों को बेचना है. ओबामा इंडिया आये थे F-22 बेचने. फिर अमेरिका जा के पाकिस्तान को F-16 बेच दिया.

obama

4. अनुभव: इस मामले में ट्रम्प निल बटे सन्नाटा लगते हैं. उनका विदेशी अनुभव वही है कि मिस यूनिवर्स और मिस वर्ल्ड को पार्टी पर बुलाते रहते हैं. बाकी दुनिया के नेताओं को नाम ले के गाली दे देते हैं. बाद में कहते हैं कि I was just joking. अभी रूस से रिश्ते सुधरने के चक्कर में कहा है कि दम है तो हिलेरी का ईमेल अकाउंट हैक कर के दिखाएं.

पर हिलेरी को अच्छा-ख़ासा अनुभव है. अपने पति बिल क्लिंटन के साथ ‘राष्ट्रपति आवास’ में रह चुकी हैं. सारी राजनीति पता है. बिल ने ही भारत और अमेरिका के सम्बन्ध को आगे बढ़ाया था. फिर अमेरिका को दुनिया में झंझट बढ़ाने से भी रोका था. तो हिलेरी क्लिंटन हैं क्लिंटन 2.0. अपनी आत्मकथा में भी उन्होंने एशिया से रिश्ते सुधारने पर बड़ा फोकस किया है.

अब कोई कहे कि बिल क्लिंटन लड़कियों के मामले में फंसे थे. तो हमको उससे क्या? उनका प्राइवेट मैटर था.

बिल और हिलेरी क्लिंटन
बिल और हिलेरी क्लिंटन

5. बात Vs. काम: यहां पर जटिल हो गया है मामला. ट्रम्प बोलते तो बहुत फटहा हैं, पर उतने फुद्दू हैं नहीं. बिजनेस सेंस बहुत तगड़ा है. मुंबई में इनका ट्रम्प टावर भी है. रियल एस्टेट के भूखे हैं. तो इंडिया के साथ बिजनेस जम सकता है. बिजनेस के अलावा कभी कुछ किया नहीं है.

हिलेरी का अलग अंदाज है. अमेरिका के बिजनेस को वो एशिया में फैलाना चाहती हैं. अच्छी-अच्छी बातें बोलती हैं. पर उनके बिजनेस के अंदाज को समझना थोड़ा मुश्किल है. एक तरफ अमेरिका के बड़े बिजनेस हिलेरी की ओर देख रहे हैं.

दूसरी तरफ उनके पति बिल क्लिंटन के संगठन को सऊदी अरब और क़तर से फंडिंग मिलने के आरोप हैं. उन देशों पर आतंकवादियों को भी फंडिंग करने के आरोप हैं. तो कहीं ऐसा ना हो कि बिजनेस में ही मामला हाथ से निकल जाए.

ट्रम्प टावर,मुंबई
ट्रम्प टावर,मुंबई

अब अगर भारत अमेरिका के राष्ट्रपति को लेकर बहुत उत्तेजित है, तो एक सच्चाई याद कर लेते हैं:

1999 में जॉर्ज बुश से पूछा गया कि भारत के प्रधानमंत्री का नाम क्या है? तो जवाब आया: ‘इंडिया के नए प्रधानमन्त्री… नहीं याद है.’

पाकिस्तान के मामले में तो बुश ने अति कर दी. भविष्यवाणी कर दी जो सच हो गई. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का नाम बताते हुए कहा: ‘वो जनरल है वहां….’

उस वक़्त नवाज शरीफ प्रधानमंत्री थे. पर कुछ समय बाद जनरल परवेज मुशर्रफ ने सत्ता हथिया ली.

जो भी हो अमेरिका का चुनाव मजेदार तो होता ही है. हर चार साल में ये त्योहार एक बार आता है. पर उसके बाद स्थिति वही रही रहती है. इस बार देखना है क्या बदलता है. वो तो शाहरुख़ के अमेरिका जाने के बाद ही पता चलेगा.

पढ़िए हिलेरी क्लिंटन के बारे में:

अमेरिकी प्रेसिडेंट रहे बिल क्लिंटन की जमकर धुनाई करती थीं हिलेरी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गंदी बात

'इस्मत आपा वाला हफ्ता' शुरू हो गया, पहली कहानी पढ़िए लिहाफ

उस अंधेरे में बेगम जान का लिहाफ ऐसे हिलता था, जैसे उसमें हाथी बंद हो.

PubG वाले हैं क्या?

जबसे वीडियो गेम्स आए हैं, तबसे ही वे पॉपुलर कल्चर का हिस्सा रहे हैं. ये सोचते हुए डर लगता है कि जो पीढ़ी आज बड़ी हो रही है, उसके नास्टैल्जिया का हिस्सा पबजी होगा.

बायां हाथ 'उल्टा' ही क्यों हैं, 'सीधा' क्यों नहीं?

मां-बाप और टीचर बच्चों को पीट-पीट दाहिने हाथ से काम लेने के लिए मजबूर करते हैं. क्यों?

फेसबुक पर हनीमून की तस्वीरें लगाने वाली लड़की और घर के नाम से पुकारने वाली आंटियां

और बिना बैकग्राउंड देखे सेल्फी खींचकर लगाने वाली अन्य औरतें.

'अगर लड़की शराब पी सकती है, तो किसी भी लड़के के साथ सो सकती है'

पढ़िए फिल्म 'पिंक' से दर्जन भर धांसू डायलॉग.

मुनासिर ने प्रीति को छह बार चाकू भोंककर क्यों मारा?

ऐसा क्या हुआ, कि सरे राह दौड़ा-दौड़ाकर उसकी हत्या की?

हिमा दास, आदि

खचाखच भरे स्टेडियम में भागने वाली लड़कियां जो जीवित हैं और जो मर गईं.

अलग हाव-भाव के चलते हिजड़ा कहते थे लोग, समलैंगिक लड़के ने फेसबुक पोस्ट लिखकर सुसाइड कर लिया

'मैं लड़का हूं. सब जानते हैं ये. बस मेरा चलना और सोचना, भावनाएं, मेरा बोलना, सब लड़कियों जैसा है.'

ब्लॉग: शराब पीकर 'टाइट' लड़कियां

यानी आउट ऑफ़ कंट्रोल, यौन शोषण के लिए आमंत्रित करते शरीर.

औरतों को बिना इजाज़त नग्न करती टेक्नोलॉजी

महिला पत्रकारों से मशहूर एक्ट्रेसेज तक, कोई इससे नहीं बचा.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.