Submit your post

Follow Us

सचिन तेंदुलकर के टॉप 10 शॉट

18.69 K
शेयर्स

सचिन तेंदुलकर के बारे में कहा जाता है कि उनकी बैटिंग की ग्रामर एकदम दुरुस्त रही. शार्प शॉट खेलते थे. जितनी तेज गेंद फेंक लो, अगला जरा सा छुएगा और गैप से सनसनाती हुई गेंद सीमा पार.

सचिन के बारे में जो यादें हैं उनका उद्गम उनके सुंदर शॉट्स से है. शानदार फुटवर्क, बढ़िया हेड पोजीशन और कलाइयों का इस्तेमाल. जब भाई जवान था तो तेज गेंदबाजों पर भी बढ़-बढ़ के छक्के मारता था. कोहनी की इंजरी हो गई तो जमीनी शॉट ज्यादा खेले. ड्राइव्स बहुत नपी-तुली होती थीं.

सचिन को भगवान बनाया उनके शॉट्स ने और वे शॉट कौन से थे, ये हम बताते हैं. 24 साल का करियर, 34 हज़ार रन और छांटने को सिर्फ 10 शॉट. मछली हाथ से पकड़ना भी इससे कहीं आसान काम है. लल्लन ने फिर भी ट्राई किया है. नंबर 10 से शुरू करते हैं.


10.

माइकल क्लार्क की बॉल पर सुंदर रिवर्स स्वीप

सचिन क्लासिक बैट्समैन हैं. केपी या डिविलयर्स से काफी अलग. लेकिन 2008 सीबी सीरीज के इस मैच में उन्होंने माइकल क्लार्क की गेंद को शानदार रिवर्स स्वीप करके बता दिया कि गैरपारंपरिक माने जाने वाले शॉट्स पर भी उनकी मास्टरी है. हर लिहाज से कंप्लीट रिवर्स स्वीप.


9.

नुवान कुलाशेखरा को स्ट्रेट ड्राइव

एकदम सीधा बल्ला. एकदम सीधा. हल्की सी चोट. गेंद जिस सीधाई से आई, वैसे ही वापस. वर्ल्ड कप फाइनल 2011.


8.

शारजाह में कैस्प्रोविच को सीधा छक्का

सैंडस्टॉर्म इनिंग्स से मशहूर सचिन की इस पारी से शारजाह में धूल भरी और रन भरी आंधियां चल पड़ी थीं. मौका ऐसा कि सचिन का बड्डे था और माहौल ऐसा कि सीरीज़ का फाइनल. कहते हैं कि बड़े खिलाड़ी बड़े मौकों के लिए बने होते हैं. जब बाकियों के पांव कांपते हैं तो ये क्रीज़ से बाहर निकल-निकल कर छक्के जड़ते हैं. ऐसे ही जड़े तमाम छक्कों के बीच कैस्प्रोविच को जड़ा ये सर के ऊपर सीधा छक्का. टोनी ग्रेग माइक पर चीखने को मजबूर हो गए. ऑस्ट्रेलिया भी समझ गई कि मैच जीतना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है.


7.

इशांत शर्मा को हुक शॉट का पाठ पढ़ाते सचिन

इस शॉट के बाद हर्षा भोगले को कहना पड़ा था कि फर्क क्लास का नहीं, अनुभव का है. क्योंकि सचिन को गेंद फेंकने वाले इशांत सिर्फ एक साल के थे जब सचिन ने टेस्ट क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था. बल्ले पर गेंद पड़ने की आवाज़ इतनी कड़ाके की आती है कि मालूम होता है कहीं रॉकेट लॉन्च हुआ है.


6.

शेन वॉर्न की गेंद पर निकलकर छक्का

वॉर्न की लेग स्पिन. निकलकर टप्पे तक पहुंचे सचिन और छक्का एकदम स्ट्रेट. साल था 1999.


5.

इस शॉट को क्या नाम दूं

गेंद और बल्ले के संपर्क का आर्टिस्ट है अपना सचिन. अभी तक ऐसा था कि सीधे बल्ले से खेलने वाले को खिलाड़ी कहते थे और टेढ़ा-मेढ़ा खेलने वाले को अनाड़ी. लेकिन सचिन ऐसा खिलाड़ी निकला कि टेढ़ा-मेड़ा खेल के बड़े-बड़ों को अनाड़ी साबित कर दिया. साल था 1999.


4.

अपर कट

वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया की उछाल भरी पिच और ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाजों का भौकाल. पटकी गेंद के नीचे खड़े सचिन और ऐन मौके पे ऊपर किया गया बल्ला जिसने गेंद को उस हिस्से से चूमा जिसे क्रिकेट के कीड़े ‘स्वीट स्पॉट’ कहते हैं. फील्डर अनायास ही उछल पड़े. कैच लपकने नहीं, इस अचरज में कि ‘ऐसे भी कोई करता है भला?’

पीड़ित: ब्रेट ली, पीटर सिडल, जेम्स पैटिन्सन और फिडेल एडवर्ड्स


3.

ब्रेट ली की गेंद पर जादुई स्ट्रेट ड्राइव

ये कहना मुश्किल होगा कि गेंद फेंकने कि स्पीडज़्यादा थी या जिस स्पीड से गेंद वापस आई वो ज़्यादा थी.


2.

एंड्र्यू कैडिक की गेंद पर पुल

2003 वर्ल्ड कप. इंग्लिश टीम के तेज गेंदबाज थे एंड्र्यू कैडिक. हल्के में कह गए कि सचिन बाकी की तरह एक सामान्य बल्लेबाज हैं और उनके जैसे इंडियन टीम में कई हैं. सचिन छिछली बातों में पड़ते नहीं थे, बल्ले से बोलते थे. अगले ही मैच में कैडिक को बता दिया कि बेटा तुम अभी बालक हो. 50 गेंद पर 52 रन ठोंक डाले, जिसमें कैडिक की शॉर्ट बॉल पर यह शानदार पुल शॉट भी शामिल था. इस पारी में सचिन ने कैडिक की 19 गेंदों का सामना किया और इन पर 36 रन बजा मारे. प्रेम से बोलिए बांकेबिहारी लाल की जय.


1.

शोएब अख्तर की गेंद पर अपर कट

2003 वर्ल्ड कप में शोएब अख्तर की तूफानी और छोटी गेंद. इस पर सचिन का वो शॉट, जिसे किसी उत्साही ने सदी का सबसे शानदार शॉट कह डाला. इस आप दुनिया का सबसे ज़्यादा दोबारा जिया जाने वाला शॉट भी कह सकते हैं.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गंदी बात

'इस्मत आपा वाला हफ्ता' शुरू हो गया, पहली कहानी पढ़िए लिहाफ

उस अंधेरे में बेगम जान का लिहाफ ऐसे हिलता था, जैसे उसमें हाथी बंद हो.

PubG वाले हैं क्या?

जबसे वीडियो गेम्स आए हैं, तबसे ही वे पॉपुलर कल्चर का हिस्सा रहे हैं. ये सोचते हुए डर लगता है कि जो पीढ़ी आज बड़ी हो रही है, उसके नास्टैल्जिया का हिस्सा पबजी होगा.

बायां हाथ 'उल्टा' ही क्यों हैं, 'सीधा' क्यों नहीं?

मां-बाप और टीचर बच्चों को पीट-पीट दाहिने हाथ से काम लेने के लिए मजबूर करते हैं. क्यों?

फेसबुक पर हनीमून की तस्वीरें लगाने वाली लड़की और घर के नाम से पुकारने वाली आंटियां

और बिना बैकग्राउंड देखे सेल्फी खींचकर लगाने वाली अन्य औरतें.

'अगर लड़की शराब पी सकती है, तो किसी भी लड़के के साथ सो सकती है'

पढ़िए फिल्म 'पिंक' से दर्जन भर धांसू डायलॉग.

मुनासिर ने प्रीति को छह बार चाकू भोंककर क्यों मारा?

ऐसा क्या हुआ, कि सरे राह दौड़ा-दौड़ाकर उसकी हत्या की?

हिमा दास, आदि

खचाखच भरे स्टेडियम में भागने वाली लड़कियां जो जीवित हैं और जो मर गईं.

अलग हाव-भाव के चलते हिजड़ा कहते थे लोग, समलैंगिक लड़के ने फेसबुक पोस्ट लिखकर सुसाइड कर लिया

'मैं लड़का हूं. सब जानते हैं ये. बस मेरा चलना और सोचना, भावनाएं, मेरा बोलना, सब लड़कियों जैसा है.'

ब्लॉग: शराब पीकर 'टाइट' लड़कियां

यानी आउट ऑफ़ कंट्रोल, यौन शोषण के लिए आमंत्रित करते शरीर.

औरतों को बिना इजाज़त नग्न करती टेक्नोलॉजी

महिला पत्रकारों से मशहूर एक्ट्रेसेज तक, कोई इससे नहीं बचा.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.