Submit your post

Follow Us

वेश्याओं का नारकीय जीवन: बच्चा पैदा करने के आधे घंटे बाद धंधे पर लौटी

सरकारी नियमों के मुताबिक़ इंडिया में बच्चा पैदा करने पर मांओं को 26 हफ्ते, यानी 6 महीने से भी ज्यादा की ‘पेड’ मैटरनिटी लीव मिलती है. मगर कुछ मांएं बाक़ी मांओं के बराबर नहीं होतीं. इन्हें काम पर लौटना पड़ता है. वजह, गरीबी. आज के अखबार में इंगलैंड से आई एक खबर पढ़ी. मालूम चला कि एक वेश्या अपनी डिलीवरी के आधे घंटे बाद ही ग्राहक लेने लगी.

इंगलैंड के एक रेड लाइट एरिया में वेश्याओं के हक़ में करने वाली जैकी फेयरबैंक्स ने न्यूज साइट ‘हल डेली मेल’ से बात करते हुए वहां की वेश्याओं के जीवन के बारे में कई बातें बताईं.

कमाठीपुरा भारत का दूसरा सबसे बड़ा रेड लाईट एरिया है. (सांकेतिक फ़ोटो)
कमाठीपुरा भारत का दूसरा सबसे बड़ा रेड लाईट एरिया है. (सांकेतिक फ़ोटो)

इनमें से कई औरतों के साथ बचपन में शारीरिक और मानसिक शोषण हुआ था. हिंसा इनके जीवन का एक बड़ा हिस्सा रहा है. इनमें से कई औरतें बेघर हैं. कई औरतों को मानसिक तकलीफें हैं. स्वास्थ्य खराब रहता है. क्योंकि इन्हें इनके बॉयफ्रेंड या दलाल ने इन्हें झांसा देकर यहां भेज दिया होता है.

फेयरबैंक्स के मुताबिक़ वेश्याएं गरीबी के मारे छोटी-छोटी जरूरतों के लिए काम करती हैं. एक वेश्या एक दिन इसलिए धंधे पर निकली क्योंकि उसे अपनी वॉशिंग मशीन सही करवाना थी.

हममें से कुछ लोग ‘वेश्या’ शब्द को गाली की तरह इस्तेमाल करते हैं. कुछ लोग वॉशिंग मशीन सही करवाने के लिए देह बेचने को अनैतिक मान सकते हैं. कह सकते हैं कि पश्चिमी देशों में ऐसा होता है. मगर भारत की स्थिति कुछ अलग नहीं है. गरीबी इन वेश्याओं से क्या कुछ नहीं करवाती. सामाजिक कार्यकर्ता और दी लल्लनटॉप के रीडर अमित कुमार ने भारतीय वेश्याओं पर एक लेख में लिखा था:

सांकेतिक इमेज. सोर्स: रॉयटर्स
सांकेतिक इमेज. सोर्स: रॉयटर्स

‘यौनकर्मियां रोज़ कमाती हैं और रोज़ खाती हैं. स्थिति कई बार इतनी भयावह हो जाती है कि डिलीवरी के दिन तक यौनकर्मियों को अपना पेट भरने के लिए ग्राहक से यौन संबंध बनाने होते हैं. मातृत्व अवकाश तो छोड़िए, मातृत्व सुविधाओं के नाम पर मिलने वाला भत्ता या क्रेच की सुविधा तक नही मिलती. आंगनवाड़ी के नाम पर एक कमरा और उसमें लगे ब्लैकबार्ड के अलावा चहलकदमी करते कुछ बच्चे नज़र आते हैं. जिन्हें ना समय पर मिड डे मील मिलता है और ना ही बेसिक शिक्षा […]  सरकार यौनकर्मियों को गैर जिम्मेदार मां मानती है. अगर यौनकर्मी बच्चा गोद लेने की कोशिश करे तो उसे देश का कानून इस हक से वंचित रखता है. कुसुम इसे ‘कानूनी भेदभाव’ करार देती हैं.’

फेयरबैंक्स के मुताबिक़ ये वेश्याएं बुरे हालातों में भी कभी पुलिस के पास या मदद के लिए नहीं पातीं क्योंकि इन्हें न तो इस बात का भरोसा है कि इन्हें सम्मान से ट्रीट किया जाएगा, न ही इन्हें अपने ऊपर कॉन्फिडेंस है.

फेयरबैंक्स आज इसी बात से खुश हैं कि कम से कम अब वेश्याओं के रेप और क़त्ल कम हो गए हैं. वरना पहले तो उन्हें जीवित रहने का अधिकार ही पूरी तरह से मिल जाए, यही बहुत था.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

आरामकुर्सी

रत्ना पाठक शाह ने मां दीना पाठक को याद कर जो लिखा, उसे पढ़कर आप अमीर हो जाएंगे

रत्ना पाठक शाह ने मां दीना पाठक को याद कर जो लिखा, उसे पढ़कर आप अमीर हो जाएंगे

बेटी का खत, मां के नाम!

56 कलावंत जो नहीं रहे बीते सालः बस इतना याद रहे, इक साथी और भी था

56 कलावंत जो नहीं रहे बीते सालः बस इतना याद रहे, इक साथी और भी था

2022 का स्वागत, गुज़रे हुओं की याद के साथ.

बचपन से जवानी तक सलमान खान की 'पर्सनल हिस्ट्री'

बचपन से जवानी तक सलमान खान की 'पर्सनल हिस्ट्री'

32 बरस पहले एक बच्चा 'मैंने प्यार किया' से बना सलमान का दोस्त. कहानी अभी जारी है.

महामहिमः राजेंद्र प्रसाद और नेहरू का हिंदू कोड बिल पर झगड़ा किस बात को लेकर था?

महामहिमः राजेंद्र प्रसाद और नेहरू का हिंदू कोड बिल पर झगड़ा किस बात को लेकर था?

कहानी नेहरू और प्रसाद के बीच पहले सार्वजनिक टकराव की.

अरूसा आलम: जनरल रानी की बेटी, जिसने हिंदुस्तानी पंजाब की राजनीति के समीकरण बदल दिए

अरूसा आलम: जनरल रानी की बेटी, जिसने हिंदुस्तानी पंजाब की राजनीति के समीकरण बदल दिए

इस कहानी के पात्र हैं- पत्रकार अरूसा आलम, पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पूर्व ISI चीफ जनरल फैज़ हमीद.

लता ने पल्लू खोंसा और बोलीं, 'दोबारा दिखा तो गटर में फेंक दूंगी, मराठा हूं'

लता ने पल्लू खोंसा और बोलीं, 'दोबारा दिखा तो गटर में फेंक दूंगी, मराठा हूं'

जानिए लता मंगेशकर के उस रूप के बारे में, जिससे बहुत कम लोग परिचित हैं.

यूपी का वो गैंगस्टर, जिसने रन आउट होते ही अंपायर को गोली मार दी

यूपी का वो गैंगस्टर, जिसने रन आउट होते ही अंपायर को गोली मार दी

फिल्मी कहानी से कम नहीं खान मुबारक की जिंदगी?

देश के 13वें उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू देश को इमरजेंसी की देन हैं

देश के 13वें उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू देश को इमरजेंसी की देन हैं

इन्होंने अटल के लिए सड़क बनाई थी और मोदी के लिए किले. अब उपराष्ट्रपति हैं.

मुख़्तार अंसारी, सुनहरा चश्मा पहनने वाला वो 'नेता' जो मीडिया के सामने बैठकर पिस्टल नचाता था

मुख़्तार अंसारी, सुनहरा चश्मा पहनने वाला वो 'नेता' जो मीडिया के सामने बैठकर पिस्टल नचाता था

गैंग्स्टर से नेता बने मुख़्तार अंसारी के क़िस्से.

जैन हवाला केस क्या है, जिसके आरोपों के छींटे बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ के ऊपर पड़ रहे हैं

जैन हवाला केस क्या है, जिसके आरोपों के छींटे बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ के ऊपर पड़ रहे हैं

इस केस में आरोप लगने के बाद आडवाणी को इस्तीफा देना पड़ा था.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.