Submit your post

Follow Us

'लेस्बियन' सुनकर अचकचाने वालों में से हो तो थोड़ा इधर आओ

क्या आप भी उन लोगों में से हैं जिन्हें गे या लेस्बियन अजूबे लगते हैं. लगता है हाय!!!!! ये तो बहुत गलत कर रहे हैं. उतना ही गलत जितना पांच ‘!!!!!’ लगाना. आपका भी मानना है, कि इन लड़कियों को एक ढंग का ‘मर्द’ मिल जाए तो ये ‘ठीक’ हो जाएं. समलैंगिकता आपको पाप या अपराध लगती है. आप होमोफोबिक हैं. आपको भी लगता है ये सेक्स कैसे करते हैं? या आप उनसे ऐसे बिहेव करते हैं. मानो वो अलग हों. और ये सब न भी हो तो आपके मन में बहुत से सवाल उठते हैं. और ये सवाल आप बेतुके ढंग से पूछने से बाज भी नहीं आते तो ये आर्टिकल आपके लिए ही है. जिसे ‘ऑडनारी’ के लिए दीपनिता साहा ने लिखा था. हिंदी में आपके लिए हम लाए हैं.   

समलैंगिक होना बहुत मुश्किल है. मैं पॉलिटिक्स की तो बात ही नहीं कर रही. न इस पर कि मैं एक ऐसे देश में रहती हूं. जहां सेक्शन 377 अब भी लागू है. न मैं ये बता रही कि मेरे लिए डेट (साथी) खोजना कितना मुश्किल है. (मन ही मन रोना आ रहा है). एक समलैंगिक उस पर भी महिला होने के लिए सबसे मुश्किल अपने आस-पास वालों के बेहूदे सवालों का जवाब देना है. मतलब, मैं मानती हूं कि लोग चीजें जानना चाते हैं. मुझ में भी जिज्ञासा है, पर लोग खुद से गूगल क्यों नहीं कर लेते? इसलिए मेरे ‘स्ट्रेट दोस्तों’ भगवान के लिए या मोदी के लिए, ऐसे बेहूद सवाल पूछना बंद करोगे ?

लेकिन तुम समलैंगिक नहींं लगती हो.

मुझे माफ करना, मैं भूल जाती हूं कि मुझे हमेशा वो सतरंगी झंडा पहनकर रहना होगा. एक टोपे की तरह. उसे हमेशा गले में बांधकर ही चलना होगा. नहीं! किसी को भी किसी तरह से दिखना जरूरी नहीं होता. मैं एक इंसान जैसा दिखती हूं. बात खत्म.

तो क्या तुम थ्रीसम करना चाहती हो?

मां कसम, अगली बार मैंने ये सवाल टिंडर या असल जिंदगी में सुना, तो शायद मैं किसी को गोली मार दूंगी. इन मर्दों के साथ क्या दिक्कत है. हमेशा दो लड़कियों के साथ सोने का सपना देखते रहते हैं? मतलब, हो सकता है ऐसा सोचना हॉट हो. पर, अगर हमें दिलचस्पी होगी तो हम खुद ही इनवाइट कर लेते. इतने सवाल नहीं पूछते.

फ्रेंड्स का सीन याद है, जब रॉस ने अपनी एक्स वाइफ कैरॉल और लवर सुसैन के साथ एक साथ सेक्स का ट्राई किया था? याद है उससे कैसा रायता फैला था?

इस रिलेशन में मर्द कौन है?

पिछली बार जब मैंने इस पर गौर किया तो हम दोनो ही औरतें थी. मतलब, हमारे लेस्बियन होने का यही कारण है न ?

सेक्स कैसे करते हो?

हम सांप-सीढ़ी खेलते हैं, अपने-अपने बिल्लियों को एक साथ झप्पी करते हैं. और चुड़ैलों जैसे चीखते हैं! दो जन कैसे सेक्स करते हैं, इससे क्या फर्क पड़ता है? शायद आपको  पता हो कि सेक्स के लिए पीनस की जरुरत नहीं होती. दूसरे तरीके भी होते हैं. और एक बात जानते हो. एक रिसर्च में पाया गया कि सेक्स के समय स्ट्रेट महिला ऑर्गेज्म फील करे. इसकी उम्मीद अन्य ऑरिएंटेशन की महिलाओं की तुलना में कम होती है. इसका मतलब दो महिलाएं बंद कमरे में जो भी कर रही है, शायद वो सही है.

 तुम मर्दों से नफरत क्यों करती हो?

अहा, मैं मर्दों से नफरत नहीं करती. मैं बस उनके साथ सेक्स नहीं करती. सच्चाई ये है कि मेरा बेस्ट फ्रेंड एक लड़का ही है. जी हांं लड़का है. और मर्दों से नफरत करने के लिए मेरा लेस्बियन होना जरूरी नहीं. उनसे नफरत करने के लिए और भी बहुत से कारण है.

तुम कैसे जानती हो कि तुम लेस्बियन हो, जब तुम किसी मर्द के साथ सोई ही नहीं?


सिंपल, मैं मर्दों की तरफ अट्रैक्टेड हूं ही नहीं. ये बात इतनी साफ़ है, जैसे मैं ये जानती हूं कि मैं भुनी हुई तितलियां नहीं खाना चाहती. और एक बात, आप कैसे जानते हैं कि आप गे नहीं हैं, जब तक कि आप किसी सेम सेक्स के इंसान के साथ सोए ही नहीं.

क्या तुम खुद को देखकर उत्तेजित हो जाती हो ?

ये शायद मेरे जिंदगी में पूछे गए सारे सवालों में सबसे वाहियात सवाल है. हां मैं डिस्ट्रैक्ट हो जाती हूं, इसलिए तो मुझे इस आर्टिकल को लिखने में इतना वक्त लग गया. काश, काश कि कोई लेस्बियन परी होती जो ऐसे बेवकूफ लोगों को एक छड़ी घुमाकर गायब कर देती. पर अभी, मैं यही कोशिश करूंगी कि मैं किसी को न मार दूं. मुझे गुडलक कहिए.


ये भी पढ़ें:

लेस्बियन सेक्स, लेकिन किसके देखने के लिए?

समाज को लगता है सेक्स सिर्फ लड़के-लड़की के बीच हो सकता है

क्या है ये ‘प्राइड’ जिसके लिए दिल्ली सड़कों पर उतरने वाली है?

‘मुझे गिफ्ट देना हो, तो 49 डॉलर समलैंगिकों के लिए दान कर दो’

पहली मिस इंडिया ट्रांसजेंडर, जो इंटरनेशनल कॉन्टेस्ट में हिस्सा लेंगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

आरामकुर्सी

मांझी की घर-वापसी बिहार में दलित राजनीति के बारे में क्या बताती है?

कभी मांझी और नीतीश की ठन गई थी. अब फिर दोस्ती हो रही.

गुलज़ार पर लिखना डायरी लिखने जैसा है, दुनिया का सबसे ईमानदार काम

गुलज़ार पर एक ललित निबंध.

जब गुलजार ने चड्डी में शर्माना बंद किया

गुलज़ार दद्दा, इसी बहाने हम आपको अपने हिस्से की वो धूप दिखाना चाहते हैं, जो बीते बरसों में आपकी नज़्मों, नग़मों और फिल्मों से चुराई हैं.

सौरभ द्विवेदी ने धोनी के रिटायरमेंट पर जो कहा, उसे आपको ज़रूर पढ़ना चाहिए

#DhoniRetires पर सौरभ ने साझा की दिल की बात.

अटल बिहारी बोले, दशहरा मुबारक और गोविंदाचार्य का पत्ता कट गया

अटल की तीन पंक्तियां उनके इरादे की इबारत थीं. संकेत साफ था, वध का समय आ गया था.

बचपन का 15 अगस्त ज्यादा एक्साइटिंग होता था! नहीं?

हाथों में केसरिया मिठाई लिए, सफेद बादलों के साए में, हरी जमीन पर फहराते थे साड्डा तिरंगा .

शम्मी कपूर के 22 किस्से: जिन्होंने गीता बाली की मांग में सिंदूर की जगह लिपस्टिक भरकर शादी की

'राजकुमार' फिल्म के गाने की शूटिंग के दौरान कैसे हाथी ने उनकी टांग तोड़ दी थी?

कहानी फूलन देवी की, जिसने बलात्कार का बदला लेने के लिए 22 ठाकुरों की जान ले ली

फूलन की हत्या को 19 साल हो गए. भारतीय समाज का हर पहलू छिपाए हुए है उसकी कहानी.

वो आदमी, जिसे राष्ट्रपति बनवाने पर इंदिरा को मिली सबसे बड़ी सज़ा

कहानी निर्दलीय लड़कर राष्ट्रपति बने आदमी की.

पप्पू कलानी: वो अपराधी राजनेता जिसके चलते उल्हासनगर में हर मंगलवार को कम से कम एक मर्डर होता था

'गैंग्स ऑफ वासेपुर' फ़िल्म की तरह दो परिवारों के बीच की दुश्मनी एक बार में ही 22 लोगों को लील गई.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.