Submit your post

Follow Us

डियर अजय देवगन, विमल के 25 साल पूरे होने पर किसे बधाई

7.13 K
शेयर्स

25 साल पुराने फैन

चलो यहीं से शुरू करते हैं. कोच्चन बाद में भी हो सकता है. विमल के 25 साल पूरे, तुमको भी बहुत बहुत मुबारक. बात ये है कि अपन तुम्हारे जन्मजात फैन हैं. कोई हमसे पूछे कि तुम्हारा फेवरेट हीरो कौन है. ठांय से उसके मुंह पर फेंक कर तुम्हारा नाम मारते हैं. लेकिन इधर कुछ दिनों से तुम्हारा ओहदा कुछ और बढ़ गया है. आप में हमको सिर्फ हमारा फेवरेट हीरो ही नहीं दिखता. बल्कि एक फरिश्ते के दर्शन होते हैं. जिसकी पोस्टिंग यमराज ने धरती पर की है. ऐसा काहे है इसका किस्सा आगे. पहले तो ये सुनो हम फैन आपके किस दैवीय प्रेरणा से बने.

Diljale

तो साहब जब तुम्हारी वो फिलिम आई थी नाम था जिसका दिलजले. हम कोई 6-7 साल के थे. लखनऊ के लीला टॉकीज में देखे थे हम उसको. ससुरा बड़ा पइसा वाला पिच्चर तब नहीं आई थी. ये फिल्म दिखाने के बाद लीला टॉकीज भोजपुरी फिल्मों के नाम पट्टा हो गया. इस पिच्चर को देखने के बाद तुम और सोनाली बेंद्रे मेरे लाइफ टाइम फेवरेट हीरो हीरोइन बन गए. सिर्फ दो ही चेहरे याद थे सिनेमा के नाम पर.

apharan

कच्चे धागे याद है तुम्हें? मुझे है. तब मैं छठी क्लास में था जब आई थी. क्या गज्जब मार मचाए थे यार. तुमको रेगिस्तान में घिसटता देख कर आंख में आंसू आ गए थे कसम से. फिर उसके बाद हम कुछ कुछ समझदार हुए. और तुम बुढ़ाने लगे. हल्ला बोल पिच्चर में आपकी डिप्रेसन के मरीज सी शकल देख कर जिउ सन्न से रह गया. हम कहे कि अचानक हमारा हीरो इत्ता कमजोर कैसे हो गया. फिर अपहरण में तुम ऑटो से किडनैपिंग कर रहे थे. हम तब भी तुम्हारे साथ थे. पता है मैं हमेशा अपने बाल बड़े होने का इंतजार करता हूं. ताकि उस फैंटेसी में वापस जा सकूं जहां तुम 20 साल पहले छोड़े थे.

kesar

अब सुनो मतलब की बात

लेकिन अब खेला बदल गया है बहादुर. आप हीरो होने के साथ ब्रांड एंबेसडर भी हैं. कई चीजों के. सही है भाई सब पइसा की रईसी है. कमाओ खाओ हमाई दुवा है. लेकिन यार तुम पान मसाला बेच रहे हो. मने अच्छी चीज होगी लेकिन उसके साथ झुट्ठई बड़ी है. एक तो तुम अपने दांत नहीं दिखाते हो. अगर खाते हो तो पता होगा कि उसके दाने दाने में केसर का दम तो हैए है. उससे ज्यादा तम्बाकू और कत्थे का दम है. जिसको दिन भर कूचते रहने के बाद दांत अजीब से हो जाते हैं. पहले पीले फिर लाल फिर भूरे और फिर एकदम करिया कुट्ट.

हम जब पहली बार पान मसाला खाकर घर आए थे तो मुंडी घूम रही थी. उसके असर से घूमनी बंद हुई तो पापा ने चार लात दो मुक्के और आधा दर्जन कंटाप लगाए. उसकी वजह से मुंडी घूमी. तब से पान मसाला नहीं चखे. हो सकता है हम आप जैसे बहादुर न हों. पर पापा की बात मानना सही लगा. आपकी बेटी न्यासा भी पापा की बात मानती होगी. अगर वो सुबह उठ कर मंजन कुल्ला करने से पहले पुड़िया मुंह में डाल ले. और पूंछे “पापा कहां इत्ते ठुबे ठुबे चल्लहे हो, कहां ठूटिंग है”. थोड़ा अजीब लगेगा न. और पान मसाला खाने के बाद आपको काजोल घर में घुसने नहीं देंगी. बालकनी के कोनों और बाथरूम में लाल कलर की सुपारी मिली वालपुट्टी वो बर्दाश्त करेंगी, इसमें मुझे शक है.

mukesh_harane

अच्छा अपनी फिल्में देखने कभी आप खुद मल्टीप्लेक्स में जाते हो? वो लोग पिच्चर शुरू होने से पहले एक बड़ा बोरिंग सा ऐड दिखाते हैं. उसका एक एक डायलॉग रटे बैठे हैं लोग. उसमें एक भूतपूर्व लड़का होता है. कहता है ‘मेरा नाम मुकेश है’. इसके बाद का तो याद ही होगा. और जो लौंडे दिन भर में 50 की कमाई में 150 की पुड़िया फांक जाते हैं. उनका तो कोई ऐड भी नहीं बनता. वो धंधे में हेराफेरी करते हैं. घर में पैसे चुराते हैं. बर्तन बेचते हैं. उस पैसे से पहले पान मसाला खाते हैं. फिर पापा की धुनक धुन लातें.

अच्छा आप न ये एक सस्पेंस क्लियर कर दो प्लीज. कि विमल पान मसाले वाले और कित्ते साल अपने 25 साल पूरे होने का जश्न मनाएंगे. और इस बार विमल वालों से आपकी बात हो तो मेरा एक मैसेज पास कर देना प्लीज. कि आप तो विमल बेचने के 25 साल पूरे होने का जश्न मना रहे हो. लेकिन खाने वाले नहीं मना रहे. क्योंकि उनमें से ज्यादातर 25 साल के पहिले ही कट लिए होंगे. इस असार संसार से.

Vimal-Pan-Masala-Ad

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Open Letter to Vimal Pan Masala brand ambassador Ajay Devgan

गंदी बात

मलाइका अरोड़ा की कांख पर कुछ लोगों की आंख क्यों चढ़ गई?

कुछ ने तारीफ़ की. मगर कई लोग मुंह भी बना रहे हैं. लिख रहे हैं, वैक्स क्यों नहीं करवाया.

साइकल, पौरुष और स्त्रीत्व

एक तस्वीर बड़े दिनों से वायरल है. जिसमें साइकल दिख रही है. इस साइकल का इतिहास और भूगोल क्या है?

महिलाओं का सम्मान न करने वाली पार्टियों में आखिर हम किसको चुनें?

बीजेपी हो या कांग्रेस, कैंडिडेट लिस्ट में 15 फीसद महिलाएं भी नहीं दिख रहीं.

लोकसभा चुनाव 2019: पॉलिटिक्स बाद में, पहले महिला नेताओं की 'इज्जत' का तमाशा बनाते हैं!

चुनाव एक युद्ध है. जिसकी कैजुअल्टी औरतें हैं.

सर्फ एक्सेल के ऐड में रंग फेंक रहे बच्चे हमारे हैं, इन्हें बचा लीजिए

इन्हें दूसरों की कद्र न करने वाले हिंसक लोगों में तब्दील न होने दीजिए.

अपने गांव की बोली बोलने में शर्म क्यों आती है आपको?

ये पोस्ट दूर-दराज गांव से आए स्टूडेंट्स जो डीयू या दूसरी यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे हैं, उनके लिए है.

बच्चे के ट्रांसजेंडर होने का पता चलने पर मां ने खुशी क्यों मनाई?

आप में से तमाम लोग सोच सकते हैं कि इसमें खुश होने की क्या बात है.

'मैं तुम्हारे भद्दे मैसेज लीक कर रही हूं, तुम्हें रेपिस्ट बनने से बचा रही हूं'

तुमने सोच कैसे लिया तुम पकड़े नहीं जाओगे?

औरत अपनी उम्र बताए तो शर्म से समाज झेंपता है वो औरत नहीं

किसी औरत से उसकी उम्र पूछना उसका अपमान नहीं होता है.

आपको भी डर लगता है कि कोई लड़की फर्जी आरोप में आपको #MeToo में न लपेट ले?

तो ये पढ़िए, काम आएगा.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.