Submit your post

Follow Us

LGBTQ 8: LGBT फैशन शो से महोत्सव की 'मर्यादा' तार-तार हुई?

आगरा का सदर बाजार, मानो दिल्ली का कनॉट प्लेस. शाम का समय है. शहर में हजारों लोग सड़कों पर घूम रहे हैं. ताज महोत्सव का टाइम है. बाजार के ओपन एयर स्टेज पर कुछ चल रहा है. पर लोग अपनी धुन में मस्त हैं. चाट-पकौड़ी खा रहे हैं. तभी स्टेज पर अनाउंस होता है कि एक फैशन शो होने वाला है जिसमें उतरेंगे गे, लेस्बियन, ट्रांसजेंडर और क्वियर. वो लोग जिन्हें आप कभी सेक्स के मरीज, कभी छक्का और कभी हिजड़ा बोल के कट लेते हैं. क्या, हिजड़े रैंप वॉक करेंगे? और कौतूहल से लोग स्टेज की तरफ बढ़ते हैं. थोड़ी ही देर में सैकड़ों लोग स्टेज को घेर कर खड़े हो जाते हैं. सब कुछ शांत हो जाता है.

right to love

फिर अचानक हाई पिच पर म्यूजिक बजता है और स्टेज पर उतरते हैं सतरंगी लिबास में LGBTQ समुदाय के लोग. चाल में आत्मविश्वास और हाथों में पोस्टर. अपने अधिकारों की मांग करते हुए. आगरे वालों ने फटी आंखो से देखा इन्हें. और लोकल अखबार ने अगले दिन छापा: ‘ताज महोत्सव की मर्यादा हुई तार तार’.

12782212_960972797311988_1503780976_n

अखबार वाले सन्न थे. ये देखकर कि कैसे इन्हें दुनिया की फ़िक्र नहीं. कैसे ये कह रहे हैं कि हमारे बेडरूम में मत झांकिए. उन्हें ये भी समस्या थी कि समलैंगिकों को नायकों की तरह पेश किया जा रहा था.

‘प्राइड रेनबो’ नाम के इस फैशन शो में दुनिया भर के समलैंगिक और ट्रांसजेंडर लोगों ने खुल के अपनी पहचान की नुमाइश की. प्रेम की मिसाल ताज के नाम पर होने वाले इस महोत्सव में प्रेम को नए मायने मिले, जब समलैंगिक शादी करने वाले बलवीर और माइकल, जो अब अमेरिका में सेटल हैं, स्टेज पर साथ उतरे.

LGBT-1


LGBT-2


LGBT-3


“रैंप पर वॉक करना कोई गलत बता नहीं है. मंच पर सिर्फ साधारण फैशन शो हुआ है. क्या LGBTQ समुदाय को इतना भी अधिकार नहीं है? हमें भी दुनिय अमें रहने और जीने का हक़ है. हमें कोई बुरी नजर से न देखे, इस फैशन शो के जरिए हम यही संदेश देना चाहते हैं.”
– अतुल कुमार, आयोजक और गे एक्टिविस्ट


LGBT-12


LGBT-13


LGBT-14


LGBT-15


LGBT-16


फैशन शो के जरिए हम आगरा जैसे शहर में अपनी बात रख पाए हैं. लोग LGBT को सिर्फ किन्नर के तौर पर देखते हैं. और समाज के लिए गलत तत्व मानते हैं. मेरा मानना है कि ऐसे शो और होने चाहिए जिससे समाज L G B और T को समझ सके. हम अपनी लड़ाई तब तक जरी रखेंगे जब तक हमें समाज में सम्मान नहीं मिल जाता.”
-स्नेहा, ट्रांसजेंडर


 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

आरामकुर्सी

महामहिम: दो प्रधानमंत्रियों की मौत और दो युद्ध का गवाह रहा राष्ट्रपति

इस राष्ट्रपति ने अपने सामने आई हर दया याचिका को स्वीकार किया.

मनोज प्रभाकर का स्टिंग ऑपरेशन जिसने मैच फ़िक्सिंग के राज़ खोल दिए

मनोज प्रभाकर. बीड़ा उठाया क्रिकेट में जमा गंदगी को साफ़ करने का. नहीं मालूम था कि जल में रहके मगर से बैर ठीक नहीं. खुद ही नप गए.

आंबेडकर: उस ज़माने की लड़कियों के रियल पोस्टरबॉय

महिला सशक्तीकरण की असली व्याख्या आंबेडकर के लाए हिंदू कोड बिल में ही है.

फील्ड मार्शल मानेकशॉ को 7 गोलियां लगी, डॉक्टर्स ने पूछा तो बोले- अरे कुछ नहीं, एक गधे ने लात मार दी

जिन्होंने इंदिरा गांधी से कहा था कि नाक मेरी भी लंबी है लेकिन मैं इसे दूसरों के मामले में नहीं घुसाता.

अजीत वाडेकर, वो कप्तान जिसने दुनिया जीती और फिर खो दी

वो अकल्पनीय चमत्कार करनेवाला कप्तान था.

जहां रेप करने के बाद रेपिस्ट को दी जाती है सबसे खौफनाक सजा

और वो जगह, जहां साबित होने के बाद भी रेपिस्ट बहुत आसानी से बच सकता है.

मुंबई के वो धमाके जिनमें 250 से अधिक लोग मारे गए, कब, क्या हुआ?

मुंबई दहल गई थी. याकूब मेमन को फांसी दी जा चुकी है.

दुबई के शेख ने अपनी ही बेटी का किडनैप करवाया और इस चक्कर में भारत की भयानक बेइज्ज़ती हुई

शेख राशिद अल-मख्तूम की बेटी लतीफा की डराने वाली कहानी.

क्या तालिबान के साथ शांति समझौता करके अमेरिका ने अपनी हार मान ली है?

कई लोग पूछ रहे हैं, क्या नवंबर 2020 में होने वाले अमेरिकी चुनावों के लिए ट्रंप ने ये डील की है?

महामहिम : जब नेहरू को अपने एक झूठ की वजह से शर्मिंदा होना पड़ा

नेहरू नहीं चाहते थे, राजेंद्र प्रसाद बनें देश के राष्ट्रपति

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.