Submit your post

Follow Us

पुरुषों को भी हो सकता है स्तन का कैंसर

आपको सोच रहे होंगे कि मर्दों के तो ब्रेस्ट होते ही नहीं तो फिर उन्हें ब्रेस्ट कैंसर कैसे हो सकता है. दरअसल सभी लड़के-लड़कियों, मर्द-औरतों के पास ब्रेस्ट टिश्यू होते हैं. औरतों में कई तरह के हार्मोन्स की वजह से ये ब्रेस्ट टिश्यू बढ़कर पूरे ब्रेस्ट का रूप ले लेते हैं. मर्दों में आमतौर पर ये ब्रेस्ट को बढ़ाने वाले हार्मोन नहीं होते हैं. इसलिए उनका सीना सपाट रह जाता है. फिर भी कुछ लड़कों के सीने पर थोड़ा उभार देखा जा सकता है. जोकि आमतौर पर चर्बी ही होती है लेकिन कुछ केसों में देखा गया है कि हार्मोन के झालमेल या दवाइयों के इस्तेमाल से लड़कों में भी ब्रेस्ट टिश्यू बढ़ जाते हैं.

ब्रेस्ट कैंसर फाउंडेशन के मुताबिक,

‘मेल ब्रेस्ट कैंसर (MBC), 50 से ऊपर के मर्दों में डूबने से होने वाली मौतों, पेनिस कैंसर या मेनिनजाइटिस से भी ज्यादा कॉमन बीमारी है. लेकिन वो इस पर ध्यान ही नहीं देते हैं.’

मेल ब्रेस्ट कैंसर का एक मरीज
मेल ब्रेस्ट कैंसर का एक मरीज

न्यूजीलैंड के ग्रेग सार्जेंट एक मेल ब्रेस्ट कैंसर सर्वाइवर हैं. अब वो घूम-घूम कर बाकी के मर्दों को अपनी सेहत पर ध्यान देने के लिए मंत्र दे रहे हैं. ग्रेग बताते हैं कि

‘ये जानना कि आपको कैंसर है वो भी ब्रेस्ट कैंसर, आपको हिलाकर रख देता है. अगर मुझे पहले पता चल जाता कि ये कैंसर है तो मैं पहले ही इलाज कराता. ये तो बस एक गांठ थी. जो बाद में कैंसर बन गई.’

ग्रेग सार्जेंट ने जब जांच कराई थी तो ये उनके बांए ब्रेस्ट पर हेमाटोमा निकला था जो कि एक तरह की बीमारी होती है. बाद में ये 4 सेंटीमीटर का कैंसर ट्यूमर बन गया.

ग्रेग आगाह करते हैं कि

‘हम सब को ये मान लेना चाहिए कि ये होता है. आप सब अपने पापा-दादा को चेकअप कराने के लिए कहें ताकि पता चले कैंसर की जड़ कहां तक है. मेरे अधिकतर दोस्तों ने मानने से ही इंकार कर दिया कि मुझे ब्रेस्ट कैंसर है.’

greg
न्यूजीलैंड के मेल ब्रेस्ट कैंसर सरवाइवर ग्रेग सार्जेंट

कितना खतरनाक होता है मेल ब्रेस्ट कैंसर?

मेल ब्रेस्ट कैंसर का पहला केस पेरिस में रिकॉर्ड किया गया था. 1830-40 के बीच 5 मर्दों में ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण पाए गए थे. औरतों में ब्रेस्ट कैंसर की जैसी जागरूकता फैलाई जाती है वैसे ही मर्दों को भी ब्रेस्ट कैंसर के लिए सजग होने की जरूरत है. अमेरिका में मेल ब्रेस्ट कैंसर के हर साल तकरीबन 2140 केस और यूके में 350 केस आते हैं.

भारत में हर 1200 मर्द कैंसर पीड़ितों में से 8 ब्रेस्ट कैंसर के मरीज निकलते हैं. कैंसर की पहचान हो जाने के 5 साल के अंदर 83% औरतों को जान का खतरा होता है वहीं 73% मर्दों की ब्रेस्ट कैंसर से जान जा सकती है.

मेल ब्रेस्ट कैंसर की सर्जरी के बाद की फोटो
मेल ब्रेस्ट कैंसर की सर्जरी के बाद की फोटो

अगर आपके शरीर में ये सब हो रहा है तो ये ब्रेस्ट कैंसर है :

  • निप्पल में मवाद भर जाना
  • निप्पल से खून निकलना
  • छाती पर सूजन
  • छाती की त्वचा पर खिंचाव
  • निप्पल का अंदर की ओर खिंचना
  • कांख के नीचे गांठ का होना

ddcdfd93f7c474b6f1d91373b8dfca0c

Watch: तो रंग बिरंगी ब्रा पहनने से होता है ब्रेस्ट कैंसर!

आपको मेल ब्रेस्ट कैंसर का रिस्क सबसे ज्यादा है अगर:

1 आप बुजुर्ग हैं

जैसे औरतों में उम्र के साथ ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ता जाता है वैसे ही मर्दों में भी होता है. मेल ब्रेस्ट कैंसर के दर्ज होने वाले मरीजों में सबसे ज़्यादा 68 साल के मर्द पाए गए हैं.

2 एस्ट्रोजेन का लेवल बढ़ा हुआ है

ब्रेस्ट के बढ़ने या न बढ़ने के लिए एस्ट्रोजेन नाम का हार्मोन सबसे ज्यादा जिम्मेदार होता है. एस्ट्रोजेन का ज्यादा बढ़ जाना भी ब्रेस्ट कैंसर होने की एक वजह बन सकता है. संभल जाइए अगर आप भारी मात्रा में हॉर्मोन के लिए दवाइयां खा रहे हैं तो. या आप बहुत ज्यादा भारी हैं या आप खूब दारू पीते हैं. अगर आपका लिवर बहुत बीमार है तो ये आपके अंदर मर्दाना हॉर्मोन एंड्रोजेन और जनाना हॉर्मोन एस्ट्रोजेन दोनों ही बहुत बढ़ा देता है. जिससे आपको ब्रेस्ट कैंसर होने के चांसेज़ कई गुना बढ़ जाते हैं.

3 आपको क्लाइनफेल्टर सिंड्रोम है

इसमें किसी मर्द की पैदाइश एक अतिरिक्त जनाना क्रोमोज़ोम के साथ होती है (मतलब क्रोमोज़ोम के पेयर XY के जगह इसका  XXY होना). ये  सिंड्रोम पैदाइशी होता है और मर्दों में ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को 20 गुना बढ़ा देता है. आमतौर पर ब्रेस्ट कैंसर बुजुर्गों में पाया जाता है लेकिन बाकी के कैंसर की तरह ये नौजवानों में भी पाया गया है.

4 आपने रेडिएशन ट्रीटमेंट कराया है

अगर कोई आदमी अपने सीने पर लिम्फोमा जैसा रेडिएशन ट्रीटमेंट कराता है तो उसमें ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है.

अगर आपके सीने पर कोई गांठ या सूजन है तो उसपर ध्यान दीजिए और तुरंत सही डॉक्टर के पास पहुंचिए. मेल ब्रेस्ट कैंसर को जानिए, पहचानिए. इससे पहले कि बहुत देर हो जाए. क्यूंकि जानकारी ही बचाव है और प्रेवेंशन इज़ बेटर दैन क्योर.


 

ये भी पढ़ें:

इन नींबुओं के जरिए पहचानिए ब्रेस्ट कैंसर को

जिन्ना की मजार को औरतों के लिए गुलाबी क्यों कर दिया?

ब्रेस्ट कैंसर को हराने वाली एक जुझारू औरत की कहानी, उसी की जुबानी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

आरामकुर्सी

वो शायर, जो औरतों के आंचल को परचम बनाना चाहता था

वो शायर, जो औरतों के आंचल को परचम बनाना चाहता था

किस्से मजाज़ लखनवी के, जिनकी नज़्में गर्ल्स हॉस्टल के तकियों में दबी मिलती थीं. आज बड्डे है.

बागी लोगों के भगवान तो शिव ही हैं: अमीश त्रिपाठी

बागी लोगों के भगवान तो शिव ही हैं: अमीश त्रिपाठी

'जिस ईश्वर पर लिखता हूं, उसके साथ कंट्रोवर्सी नहीं कर सकता.'

औरंगज़ेब का वो बेटा, जिसे नाखून और बाल तक कटवाना मना था

औरंगज़ेब का वो बेटा, जिसे नाखून और बाल तक कटवाना मना था

कहानी सातवें बादशाह की.

33 साल पहले आज के दिन भारतीय सेना सर्जिकल स्ट्राइक करने गई थी, पर खूनी दाग लग गया

33 साल पहले आज के दिन भारतीय सेना सर्जिकल स्ट्राइक करने गई थी, पर खूनी दाग लग गया

भारतीय सेना के इतिहास में ये सबसे बड़े नुकसानों में से एक था.

लोहिया, जो कहा करते थे- भारतीय औरत का आदर्श सावित्री नहीं, द्रौपदी होनी चाहिए

लोहिया, जो कहा करते थे- भारतीय औरत का आदर्श सावित्री नहीं, द्रौपदी होनी चाहिए

इस शख्स ने जिसके कंधे पर हाथ रखा, वो देश का बड़ा नेता बन गया

जब कॉलेज के प्रिंसिपल लंच ब्रेक पर जाते, तब जगजीत सिंह कभी टप्पे सुनाते, तो कभी गज़ल

जब कॉलेज के प्रिंसिपल लंच ब्रेक पर जाते, तब जगजीत सिंह कभी टप्पे सुनाते, तो कभी गज़ल

चिट्ठी न कोई संदेश, जाने वो कौन सा देश, जहां तुम चले गए...

जब पति की मौत के बाद लोगों ने रेखा के फिल्म पोस्टर पर कालिख मली थी

जब पति की मौत के बाद लोगों ने रेखा के फिल्म पोस्टर पर कालिख मली थी

जन्मदिन पर पढ़िया रेखा की पर्सनल लाइफ के कई नए किस्से.

वो धाकड़ राष्ट्रपति, जिसकी दबंगई के किस्से अक्सर सुर्खियों में रहते हैं

वो धाकड़ राष्ट्रपति, जिसकी दबंगई के किस्से अक्सर सुर्खियों में रहते हैं

कोई इन्हें सुपरहीरो मानता है तो कोई सुपर विलेन. आज इनका बड्डे है.

स्विंग के बादशाह ज़हीर खान: जो बल्लेबाजों के लिए बुरे ख़्वाब की तरह थे

स्विंग के बादशाह ज़हीर खान: जो बल्लेबाजों के लिए बुरे ख़्वाब की तरह थे

एक वर्ल्ड कप हराने का दोष मिला तो दूसरा जिताने का क्रेडिट भी. आज जन्मदिन है.

बेगम अख़्तर, जिनकी मखमली आवाज़ हर किसी की रूह में उतर जाती है

बेगम अख़्तर, जिनकी मखमली आवाज़ हर किसी की रूह में उतर जाती है

आज बेगम अख़्तर का जन्मदिन है.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.