Submit your post

Follow Us

तहखाना

जब चारों तरफ बिच्छू जैसी फितरत वाले लोग हो गए थे

जब चारों तरफ बिच्छू जैसी फितरत वाले लोग हो गए थे

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें जब चारों तरफ बिच्छू जैसी फितरत वाले लोग हो गए थे

तहखाना

उन लोगों की कहानी जिन्हें दारू ने पी लिया

उन लोगों की कहानी जिन्हें दारू ने पी लिया

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें उन लोगों की कहानी जिन्हें दारू ने पी लिया

तहखाना

जब टूटी-फूटी फिएट कार में सात लोग बीकानेर से मुंबई घूमने गए

जब टूटी-फूटी फिएट कार में सात लोग बीकानेर से मुंबई घूमने गए

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें जब टूटी-फूटी फिएट कार में सात लोग बीकानेर से मुंबई घूमने गए

तहखाना

किस्से शांति जी के, जिन्होंने लोहे के कुतुबमीनार की ईजाद की थी

किस्से शांति जी के, जिन्होंने लोहे के कुतुबमीनार की ईजाद की थी

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें किस्से शांति जी के, जिन्होंने लोहे के कुतुबमीनार की ईजाद की थी

तहखाना

बेटी घर छोड़कर भाग गई और फिर वही किया जो बाप उससे करवाना चाहता था

बेटी घर छोड़कर भाग गई और फिर वही किया जो बाप उससे करवाना चाहता था

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें बेटी घर छोड़कर भाग गई और फिर वही किया जो बाप उससे करवाना चाहता था

तहखाना

जब बेटी का सौदा बाप ने ही एक लाख में तय कर दिया

जब बेटी का सौदा बाप ने ही एक लाख में तय कर दिया

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें जब बेटी का सौदा बाप ने ही एक लाख में तय कर दिया

तहखाना

जब महिला अफसर को डराने के लिए आधी रात को उनके घर पर पत्थर फेंके गए

जब महिला अफसर को डराने के लिए आधी रात को उनके घर पर पत्थर फेंके गए

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें जब महिला अफसर को डराने के लिए आधी रात को उनके घर पर पत्थर फेंके गए

तहखाना

जब अल्लाह जिलाई बाई ने आकाशवाणी के डूबने की भविष्यवाणी की, जो सच साबित हुई

जब अल्लाह जिलाई बाई ने आकाशवाणी के डूबने की भविष्यवाणी की, जो सच साबित हुई

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें जब अल्लाह जिलाई बाई ने आकाशवाणी के डूबने की भविष्यवाणी की, जो सच साबित हुई

तहखाना

एक फोन आया, उधर से कोई बोला, "प्रोग्राम करना बंद कर दे वरना गोली से उड़ा देंगे"

एक फोन आया, उधर से कोई बोला, "प्रोग्राम करना बंद कर दे वरना गोली से उड़ा देंगे"

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें एक फोन आया, उधर से कोई बोला, “प्रोग्राम करना बंद कर दे वरना गोली से उड़ा देंगे”

तहखाना

जब डायरेक्टर साहब फ्री के खाने के लिए ये अजीब ट्रिक इस्तेमाल करते थे

जब डायरेक्टर साहब फ्री के खाने के लिए ये अजीब ट्रिक इस्तेमाल करते थे

2016 में ‘दी लल्लनटॉप’ ने आपको महेंद्र मोदी के संस्मरणों पर आधारित श्रृंखला ‘रेडियो ज़ुबानी’ की 20 किस्तें पढ़ाई थी. महेंद्र जी की व्यस्तताओं के चलते ये सिलसिला थोड़ा रुक गया था, जिसे अब फिर से चलाया जा रहा है. इस सीरीज में महेंद्र मोदी के लिखे रेडियो से जुड़े किस्से पढ़ने मिलेंगे. साथ ही … और पढ़ें जब डायरेक्टर साहब फ्री के खाने के लिए ये अजीब ट्रिक इस्तेमाल करते थे