Submit your post

Follow Us

तहखाना

महामहिम: प्रधानमंत्री इस डांसर को राष्ट्रपति क्यों बनाना चाहते थे?

साल 1969 का राष्ट्रपति चुनाव देश का सबसे दिलचस्प राष्ट्रपति चुनाव था. कांग्रेस के आधिकारिक उम्मीदवार होने के बावजूद नीलम संजीव रेड्डी चुनाव हार गए. कांग्रेस दो भागों में बंट गई. रेड्डी कांग्रेस (ओ) के खेमे में थे. 1971 में पकिस्तान को धूल चटाने के बाद इंदिरा की लोकप्रियता आसमान छू रही थी. इंदिरा ने … और पढ़ें The Lallantop Mahamahim: Story Of Neelam Sanjeeva Reddy, only unopposed elected President of India

महामहिम: प्रधानमंत्री इस डांसर को राष्ट्रपति क्यों बनाना चाहते थे?

साल 1969 का राष्ट्रपति चुनाव देश का सबसे दिलचस्प राष्ट्रपति चुनाव था. कांग्रेस के आधिकारिक उम्मीदवार होने के बावजूद नीलम संजीव रेड्डी चुनाव हार गए. कांग्रेस दो भागों में बंट गई. रेड्डी कांग्रेस (ओ) के खेमे में थे. 1971 में पकिस्तान को धूल चटाने के बाद इंदिरा की लोकप्रियता आसमान छू रही थी. इंदिरा ने … और पढ़ें The Lallantop Mahamahim: Story Of Neelam Sanjeeva Reddy, only unopposed elected President of India

तहखाना

महामहिम: वो राष्ट्रपति, जिसके बाथरूम का कार्टून बदनामी की वजह बना

10 दिसंबर 1975. देश में आपातकाल लगे हुए 6 महीने होने को आए थे. इंडियन एक्सप्रेस में एक कार्टून छपा. इसमें देश के राष्ट्रपति फखरुद्दीन को बाथटब में लेटे हुए दिखाया गया था. इस कार्टून में वो यह कहते देखे जा सकते थे, “अगर उनके पास और कोई ऑर्डिनेंस है तो उनको बोलो कि थोड़ा … और पढ़ें The lallantop mahamahim: Story Of Fakhruddin Ali Ahmed, the president who declared emergency.

महामहिम: वो राष्ट्रपति, जिसके बाथरूम का कार्टून बदनामी की वजह बना

10 दिसंबर 1975. देश में आपातकाल लगे हुए 6 महीने होने को आए थे. इंडियन एक्सप्रेस में एक कार्टून छपा. इसमें देश के राष्ट्रपति फखरुद्दीन को बाथटब में लेटे हुए दिखाया गया था. इस कार्टून में वो यह कहते देखे जा सकते थे, “अगर उनके पास और कोई ऑर्डिनेंस है तो उनको बोलो कि थोड़ा … और पढ़ें The lallantop mahamahim: Story Of Fakhruddin Ali Ahmed, the president who declared emergency.

तहखाना

वो राष्ट्रपति जिनकी जीत का ऐलान जामा मस्जिद से हुआ था

भारत के तीसरे राष्ट्रपति चुनाव में जब इंदिरा चारों तरफ से घिरी हुई थी. कम्युनिस्ट पार्टी और जनसंघ सहित पूरा विपक्ष जाकिर हुसैन के खिलाफ लामबंद था. प्रचार अभियान के दौरान विपक्ष ने इस बात का खूब प्रचार किया कि अगर जाकिर हुसैन चुनाव हारते हैं तो इंदिरा गांधी के पास अपने पद से इस्तीफा … और पढ़ें The Lallantop: Zakir hussain the fist Muslim president of India

वो राष्ट्रपति जिनकी जीत का ऐलान जामा मस्जिद से हुआ था

भारत के तीसरे राष्ट्रपति चुनाव में जब इंदिरा चारों तरफ से घिरी हुई थी. कम्युनिस्ट पार्टी और जनसंघ सहित पूरा विपक्ष जाकिर हुसैन के खिलाफ लामबंद था. प्रचार अभियान के दौरान विपक्ष ने इस बात का खूब प्रचार किया कि अगर जाकिर हुसैन चुनाव हारते हैं तो इंदिरा गांधी के पास अपने पद से इस्तीफा … और पढ़ें The Lallantop: Zakir hussain the fist Muslim president of India

तहखाना

हत्या से ठीक पहले गांधी ने सरदार पटेल को क्या कसम दी?

देश के पहले राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस के भीतर भले ही उम्मीदवार राजेंद्र प्रसाद और राजगोपालाचारी हो, लेकिन असल में यह पटेल और नेहरू के बीच की अदावत का नतीजा था. आज़ादी के बाद पटेल भी प्रधानमंत्री पद के मज़बूत दावेदार थे. नेहरू के प्रधानमंत्री बनने के बाद पटेल ने संगठन पर अपनी पकड़ को … और पढ़ें Lallantop Mahamahim: Then Home Minister of India Vallab Bhai Patel who kept the promise he made to Gandhi ji

हत्या से ठीक पहले गांधी ने सरदार पटेल को क्या कसम दी?

देश के पहले राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस के भीतर भले ही उम्मीदवार राजेंद्र प्रसाद और राजगोपालाचारी हो, लेकिन असल में यह पटेल और नेहरू के बीच की अदावत का नतीजा था. आज़ादी के बाद पटेल भी प्रधानमंत्री पद के मज़बूत दावेदार थे. नेहरू के प्रधानमंत्री बनने के बाद पटेल ने संगठन पर अपनी पकड़ को … और पढ़ें Lallantop Mahamahim: Then Home Minister of India Vallab Bhai Patel who kept the promise he made to Gandhi ji

तहखाना

महामहिम : जब नेहरू को अपने एक झूठ की वजह से शर्मिंदा होना पड़ा

पटना के एग्जीबिशन रोड पर पंजाब नेशनल बैंक की एक शाखा है. इस बैंक की खाता संख्या 0380000100030687 में करीब दो हजार रुपए पड़े हुए हैं. इस बैंक अकाउंट के मालिक को दुनिया छोड़े हुए 55 साल हो गए हैं. बैंक इस अकाउंट में हर 6 महीने में बिना नागा ब्याज जमा कर देता है. बैंक ने इसे … और पढ़ें Rajendra Prasad’s candidature as president of india: when Nehru lied to Rajendra Prasad

महामहिम : जब नेहरू को अपने एक झूठ की वजह से शर्मिंदा होना पड़ा

पटना के एग्जीबिशन रोड पर पंजाब नेशनल बैंक की एक शाखा है. इस बैंक की खाता संख्या 0380000100030687 में करीब दो हजार रुपए पड़े हुए हैं. इस बैंक अकाउंट के मालिक को दुनिया छोड़े हुए 55 साल हो गए हैं. बैंक इस अकाउंट में हर 6 महीने में बिना नागा ब्याज जमा कर देता है. बैंक ने इसे … और पढ़ें Rajendra Prasad’s candidature as president of india: when Nehru lied to Rajendra Prasad

तहखाना

महामहिमः राजेंद्र प्रसाद और नेहरू का हिंदू कोड बिल पर झगड़ा किस बात को लेकर था?

डॉ. राजेंद्र प्रसाद और पंडित जवाहर लाल नेहरू के बीच राजनीतिक मतभेद की एक बड़ी वजह दोनों का धर्म को लेकर रवैया था. नेहरू आधुनिक समाजवाद के पक्षधर थे. उन्हें लगता था कि भारत की मौजूदा स्थिति की एक वजह इसका भीरु धार्मिक रवैया भी है. ये परंपराओं के नाम पर सड़ी गली मान्यताओं में … और पढ़ें Difference in opinion of Rajendra Prasad and Nehru on Hindu Code Bill

महामहिमः राजेंद्र प्रसाद और नेहरू का हिंदू कोड बिल पर झगड़ा किस बात को लेकर था?

डॉ. राजेंद्र प्रसाद और पंडित जवाहर लाल नेहरू के बीच राजनीतिक मतभेद की एक बड़ी वजह दोनों का धर्म को लेकर रवैया था. नेहरू आधुनिक समाजवाद के पक्षधर थे. उन्हें लगता था कि भारत की मौजूदा स्थिति की एक वजह इसका भीरु धार्मिक रवैया भी है. ये परंपराओं के नाम पर सड़ी गली मान्यताओं में … और पढ़ें Difference in opinion of Rajendra Prasad and Nehru on Hindu Code Bill

तहखाना

वो सनसनीखेज़ राष्ट्रपति चुनाव जिसमें इंदिरा गांधी सब पर भारी पड़ गईं

1969 में हुए भारत के सबसे दिलचस्प राष्ट्रपति चुनाव का किस्सा सुनाने से पहले हम कैलेंडर के पन्नों को थोड़ा सा पलट देते हैं. जून 1964 के खाने में दर्ज एक वाकये को हम कहानी की शुरुआत समझ सकते हैं. कहानी का यह सिरा हमें एलसी जैन की किताब ‘सिविल डिसओबीडिएंस’ में. देश में 13 … और पढ़ें The Lallantop Mahamahim: Story of V.V. Giri, how Indira gandhi defeated syndicate in presidential election 1969

वो सनसनीखेज़ राष्ट्रपति चुनाव जिसमें इंदिरा गांधी सब पर भारी पड़ गईं

1969 में हुए भारत के सबसे दिलचस्प राष्ट्रपति चुनाव का किस्सा सुनाने से पहले हम कैलेंडर के पन्नों को थोड़ा सा पलट देते हैं. जून 1964 के खाने में दर्ज एक वाकये को हम कहानी की शुरुआत समझ सकते हैं. कहानी का यह सिरा हमें एलसी जैन की किताब ‘सिविल डिसओबीडिएंस’ में. देश में 13 … और पढ़ें The Lallantop Mahamahim: Story of V.V. Giri, how Indira gandhi defeated syndicate in presidential election 1969

तहखाना

वो राष्ट्रपति जिनकी लव मैरिज में देश का कानून आड़े आ रहा था, नेहरू ने स्पेशल परमिशन दिलवाई

बात 1948 की है. नए आजाद हुए देश में अभी संविधान का निर्माण भी नहीं हुआ था. हालांकि नेहरू देश के प्रधानमंत्री तो बन गए थे लेकिन चुनाव अब भी होना बाकी था. इस बीच एक नौजवान लंदन स्कूल ऑफ़ इकॉनोमिक्स से पढ़ाई करके वापिस वतन लौट रहा था. उसके हाथ में नेहरू के नाम … और पढ़ें Mahamahim – 10th President of India Kocheril Raman Narayanan

वो राष्ट्रपति जिनकी लव मैरिज में देश का कानून आड़े आ रहा था, नेहरू ने स्पेशल परमिशन दिलवाई

बात 1948 की है. नए आजाद हुए देश में अभी संविधान का निर्माण भी नहीं हुआ था. हालांकि नेहरू देश के प्रधानमंत्री तो बन गए थे लेकिन चुनाव अब भी होना बाकी था. इस बीच एक नौजवान लंदन स्कूल ऑफ़ इकॉनोमिक्स से पढ़ाई करके वापिस वतन लौट रहा था. उसके हाथ में नेहरू के नाम … और पढ़ें Mahamahim – 10th President of India Kocheril Raman Narayanan

वीडियो

राष्ट्रपति जिसपर प्रधानमंत्री के बर्तन धोने का लांछन लगाया गया

लल्लनटॉप की महामहिम सीरीज़ का ये एपिसोड भारत की 12वीं और इकलौती महिला राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के बारे में है. राष्ट्रपति बनने से ठीक पहले वो राजस्थान की गवर्नर थीं. जानिए राजस्थान के पाली ज़िले का वो किस्सा जिसकी वजह से उनके राजनीतिक करियर का उत्थान हुआ और ऐसी ही कई बातें जो उन्हें राष्ट्रपति के पद तक लेकर गईं.

राष्ट्रपति जिसपर प्रधानमंत्री के बर्तन धोने का लांछन लगाया गया

लल्लनटॉप की महामहिम सीरीज़ का ये एपिसोड भारत की 12वीं और इकलौती महिला राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के बारे में है. राष्ट्रपति बनने से ठीक पहले वो राजस्थान की गवर्नर थीं. जानिए राजस्थान के पाली ज़िले का वो किस्सा जिसकी वजह से उनके राजनीतिक करियर का उत्थान हुआ और ऐसी ही कई बातें जो उन्हें राष्ट्रपति के पद तक लेकर गईं.
तहखाना

महामहिम: दो प्रधानमंत्रियों की मौत और दो युद्ध का गवाह रहा राष्ट्रपति

भारत के पहले राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद के बारे में कहा जाता है कि वो धार्मिक प्रवत्ति के आदमी थे और इस वजह से उनकी पंडित नेहरू के साथ पटरी नहीं बैठती थी. आपको कभी इस बात पर आश्चर्य नहीं हुआ कि 1957 में नेहरू प्रसाद की जगह राधाकृष्णन को राष्ट्रपति बनाना चाहते थे. उन्होंने 1962 … और पढ़ें The Lallantop Mahamahim: Sarvpalli Radhakrishnan who witnessed death of two prime ministers and two wars.

महामहिम: दो प्रधानमंत्रियों की मौत और दो युद्ध का गवाह रहा राष्ट्रपति

भारत के पहले राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद के बारे में कहा जाता है कि वो धार्मिक प्रवत्ति के आदमी थे और इस वजह से उनकी पंडित नेहरू के साथ पटरी नहीं बैठती थी. आपको कभी इस बात पर आश्चर्य नहीं हुआ कि 1957 में नेहरू प्रसाद की जगह राधाकृष्णन को राष्ट्रपति बनाना चाहते थे. उन्होंने 1962 … और पढ़ें The Lallantop Mahamahim: Sarvpalli Radhakrishnan who witnessed death of two prime ministers and two wars.