Submit your post

Follow Us

वीडियो

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बढ़ते पेट्रोल के दामों पर दो तरह की बातें कर बुरी फंस गईं

देश में अगर एक ही चीज़ अलग-अलग सरकार के दौरान घटती है, तो लोग भी मौज लेने में पीछे नहीं रहते. जब कांग्रेस सत्ता में थी, तब पेट्रोल-डीज़ल के दाम बढ़े थे. उस दौरान निर्मला सीतारमण ने कुछ बोला था. अब ये बातें सबको याद नहीं थीं. लेकिन ट्विटर पर वो वीडियो अब वायरल किया जा रहा है. पहले वीडियो एडवोकेट प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया. उसके बाद लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. ऐसे ही जब सिलेंडर गैस के दाम बढ़े थे, तो लोगों ने स्मृति ईरानी की पुरानी प्रोटेस्ट करते हुए फोटो शेयर की थी. अब आप इस वीडियो में देखिए और जानिए, समझिए कि निर्मला सीतारमण पहले क्या कह रही हैं और अब पेट्रोल के दामों पर क्या बोल रही हैं. देखिए वीडियो.

 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बढ़ते पेट्रोल के दामों पर दो तरह की बातें कर बुरी फंस गईं

देश में अगर एक ही चीज़ अलग-अलग सरकार के दौरान घटती है, तो लोग भी मौज लेने में पीछे नहीं रहते. जब कांग्रेस सत्ता में थी, तब पेट्रोल-डीज़ल के दाम बढ़े थे. उस दौरान निर्मला सीतारमण ने कुछ बोला था. अब ये बातें सबको याद नहीं थीं. लेकिन ट्विटर पर वो वीडियो अब वायरल किया जा रहा है. पहले वीडियो एडवोकेट प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया. उसके बाद लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. ऐसे ही जब सिलेंडर गैस के दाम बढ़े थे, तो लोगों ने स्मृति ईरानी की पुरानी प्रोटेस्ट करते हुए फोटो शेयर की थी. अब आप इस वीडियो में देखिए और जानिए, समझिए कि निर्मला सीतारमण पहले क्या कह रही हैं और अब पेट्रोल के दामों पर क्या बोल रही हैं. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में कहा- कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है!

लोकसभा में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021 पर जवाब देना शुरू किया. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर  निशाना भी साधा. कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए उन्होंने राहुल गांधी और कांग्रेस को जवाब दिया. कहा कि कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है. कृषि कानूनों में कांग्रेस कोई भी ख़ामी नहीं निकाल सकी है. उन्होंने पूछा कि कांग्रेस क्यों पहले कृषि कानूनों का समर्थन करती थी और अब बदल गई? देखिए वीडियो.

निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में कहा- कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है!

लोकसभा में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021 पर जवाब देना शुरू किया. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर  निशाना भी साधा. कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए उन्होंने राहुल गांधी और कांग्रेस को जवाब दिया. कहा कि कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है. कृषि कानूनों में कांग्रेस कोई भी ख़ामी नहीं निकाल सकी है. उन्होंने पूछा कि कांग्रेस क्यों पहले कृषि कानूनों का समर्थन करती थी और अब बदल गई? देखिए वीडियो.

वीडियो

अर्थात: क्या सरकार अपने घाटे की भरपाई के लिए बैंक में जमा आपकी सेविंग्स का इस्तेमाल कर रही?

अर्थात. दी लल्लनटॉप की स्पेशल वीकली सीरीज. जिसमें हम बात करते हैं देश की अर्थव्यवस्था के बारे में. हमारे साथ होते हैं इंडिया टुडे हिंदी के एडिटर अंशुमान तिवारी. इस हफ्ते के अर्थात में हम बात करेंगे- – मंदी खत्म होने के बाद भी बेकारी दूर नहीं होगी! – बजट 2021 में निर्मला सीतारमण ने मंदी को लेकर क्यों कुछ ऐलान नहीं किया? – 2020-21 में सरकार छोटे बचत फंड के तहत 5 लाख करोड़ की उधारी करने जा रही! पिछले हफ्ते का अर्थात देखने के लिए यहां क्लिक करें.      

अर्थात: क्या सरकार अपने घाटे की भरपाई के लिए बैंक में जमा आपकी सेविंग्स का इस्तेमाल कर रही?

अर्थात. दी लल्लनटॉप की स्पेशल वीकली सीरीज. जिसमें हम बात करते हैं देश की अर्थव्यवस्था के बारे में. हमारे साथ होते हैं इंडिया टुडे हिंदी के एडिटर अंशुमान तिवारी. इस हफ्ते के अर्थात में हम बात करेंगे- – मंदी खत्म होने के बाद भी बेकारी दूर नहीं होगी! – बजट 2021 में निर्मला सीतारमण ने मंदी को लेकर क्यों कुछ ऐलान नहीं किया? – 2020-21 में सरकार छोटे बचत फंड के तहत 5 लाख करोड़ की उधारी करने जा रही! पिछले हफ्ते का अर्थात देखने के लिए यहां क्लिक करें.      
वीडियो

बजट 2021 को लेकर आम महिलाओंकी क्या चिंताएं और शिकायतें हैं, जानिए

1 फरवरी. साल 2021 का बजट पेश हुआ. देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया क्या होंगे बही-खाते के खर्चे और उसमें जनता के चर्चे. अब इस बजट में कई बातें हुईं, लेकिन हमने सोचा बात की जाए महिलाओं से. कमासुत औरतें, कॉलेज जाने वाली स्टूडेंट्स, घर पर काम और बच्चे दोनों संभालतीं मम्मियां, हम और आप जैसी महिलाएं. इस बजट से क्या थीं उनकी उम्मीदें, और क्या बदलाव वो चाहती हैं, इन सब पर हमने बातचीत की. आप तक हम उनका नज़रिया पहुंचा रहे हैं. देखिए वीडियो.

 

बजट 2021 को लेकर आम महिलाओंकी क्या चिंताएं और शिकायतें हैं, जानिए

1 फरवरी. साल 2021 का बजट पेश हुआ. देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया क्या होंगे बही-खाते के खर्चे और उसमें जनता के चर्चे. अब इस बजट में कई बातें हुईं, लेकिन हमने सोचा बात की जाए महिलाओं से. कमासुत औरतें, कॉलेज जाने वाली स्टूडेंट्स, घर पर काम और बच्चे दोनों संभालतीं मम्मियां, हम और आप जैसी महिलाएं. इस बजट से क्या थीं उनकी उम्मीदें, और क्या बदलाव वो चाहती हैं, इन सब पर हमने बातचीत की. आप तक हम उनका नज़रिया पहुंचा रहे हैं. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बजट 2021: वित्त मंत्री ने EPF के ब्याज पर टैक्स लगाने को लेकर क्या कहा?

वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए निर्मला सीतारमण ने 1 फ़रवरी, 2021 को कहा था कि जो खाताधारक साल में ढाई लाख रुपये से ज्यादा PF जमा करते हैं, उनके PF पर मिलने वाला ब्याज टैक्सेबल होगा. यानी अगर एक साल में आपके PF अकाउंट में 2 लाख 49 हज़ार रुपये जमा हो रहे हैं तो उस पर मिल रहा ब्याज टैक्स से मुक्त होगा. लेकिन जैसे ही PF योगदान 2 लाख 51 हज़ार रुपये हो जाता है तो उस पर बनने वाले ब्याज पर टैक्स देना होगा.अब पूरे मामले पर सफ़ाई दी है. देखिए वीडियो.      

बजट 2021: वित्त मंत्री ने EPF के ब्याज पर टैक्स लगाने को लेकर क्या कहा?

वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए निर्मला सीतारमण ने 1 फ़रवरी, 2021 को कहा था कि जो खाताधारक साल में ढाई लाख रुपये से ज्यादा PF जमा करते हैं, उनके PF पर मिलने वाला ब्याज टैक्सेबल होगा. यानी अगर एक साल में आपके PF अकाउंट में 2 लाख 49 हज़ार रुपये जमा हो रहे हैं तो उस पर मिल रहा ब्याज टैक्स से मुक्त होगा. लेकिन जैसे ही PF योगदान 2 लाख 51 हज़ार रुपये हो जाता है तो उस पर बनने वाले ब्याज पर टैक्स देना होगा.अब पूरे मामले पर सफ़ाई दी है. देखिए वीडियो.      
वीडियो

खर्चा-पानी: LIC का IPO निकालने के फ़ैसले के साथ सरकार अपनी स्कीम्स क्यों बंद करना चाह रही?

खर्चा-पानी. लल्लनटॉप का डेली इकोनॉमिक शो जिसमें हम बात करते हैं रोज़ की आर्थिक सुर्ख़ियों के बारे में. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जब से LIC के IPO की घोषणा की है तभी से इसके कस्टमर्स चिंतित हैं. लेकिन इसके साथ ही सरकार कुछ केंद्र सरकार द्वारा फंडेड स्कीम्स को बंद करने का भी सोच रही है. क्या हैं वो स्कीम्स और इससे LIC के कस्टमर्स और आम लोगों पर क्या असर पड़ेगा, जानेंगे तसल्ली से खर्चा-पानी के इस एपिसोड में. देखिए वीडियो.

खर्चा-पानी: LIC का IPO निकालने के फ़ैसले के साथ सरकार अपनी स्कीम्स क्यों बंद करना चाह रही?

खर्चा-पानी. लल्लनटॉप का डेली इकोनॉमिक शो जिसमें हम बात करते हैं रोज़ की आर्थिक सुर्ख़ियों के बारे में. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जब से LIC के IPO की घोषणा की है तभी से इसके कस्टमर्स चिंतित हैं. लेकिन इसके साथ ही सरकार कुछ केंद्र सरकार द्वारा फंडेड स्कीम्स को बंद करने का भी सोच रही है. क्या हैं वो स्कीम्स और इससे LIC के कस्टमर्स और आम लोगों पर क्या असर पड़ेगा, जानेंगे तसल्ली से खर्चा-पानी के इस एपिसोड में. देखिए वीडियो.

वीडियो

बजट 2021: बीमा सेक्टर में FDI बढ़ाने से क्या हासिल होगा?

अपने बजट भाषण में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषणा की कि इंश्योरेंस सेक्टर के FDI की सीमा बढाकर 74 प्रतिशत की जा सकती है. साथ ही उन्होंने LIC के IPO का भी ऐलान कर दिया था. इस रिपोर्ट में हम आपको बताएँगे कि LIC में विदेशी कंपनियों के आने से आपको क्या नफ़ा-नुकसान होगा. देखिए वीडियो.

बजट 2021: बीमा सेक्टर में FDI बढ़ाने से क्या हासिल होगा?

अपने बजट भाषण में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषणा की कि इंश्योरेंस सेक्टर के FDI की सीमा बढाकर 74 प्रतिशत की जा सकती है. साथ ही उन्होंने LIC के IPO का भी ऐलान कर दिया था. इस रिपोर्ट में हम आपको बताएँगे कि LIC में विदेशी कंपनियों के आने से आपको क्या नफ़ा-नुकसान होगा. देखिए वीडियो.

वीडियो

बजट 2021: सस्ते और किफायती घर खरीदना चाहते हैं, तो ये बातें जान लें

एक फरवरी को निर्मला सीतारमण ने बजट पेश किया. सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्, कृषि, शिक्षा जैसे तमाम सेक्टर्स को सौगात दी. इस बीच घर खरीदने को लेकर भी काफी कुछ ऐलान किया. साल 2019 के बजट में सरकार ने 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का फैसला किया था. अब इस 1.5 लाख की छूट को 31 मार्च 2022 तक के  लिए गए लोन पर बरकरार रखा है. यानी इस तारीख तक अगर आप किफायती घर खरीदने के लिए लोन लेते हैं, तो आपको 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का लाभ मिलेगा. लोगों के मन में सवाल भी उठे क्या उनको सस्ता घर मिल पाएगा या नहीं? इस बारे में जानकारी के लिए हमने कई जानकारों से बात की. उनकी राय जानी. उन लोगों ने क्या बताया, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

 

बजट 2021: सस्ते और किफायती घर खरीदना चाहते हैं, तो ये बातें जान लें

एक फरवरी को निर्मला सीतारमण ने बजट पेश किया. सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्, कृषि, शिक्षा जैसे तमाम सेक्टर्स को सौगात दी. इस बीच घर खरीदने को लेकर भी काफी कुछ ऐलान किया. साल 2019 के बजट में सरकार ने 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का फैसला किया था. अब इस 1.5 लाख की छूट को 31 मार्च 2022 तक के  लिए गए लोन पर बरकरार रखा है. यानी इस तारीख तक अगर आप किफायती घर खरीदने के लिए लोन लेते हैं, तो आपको 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का लाभ मिलेगा. लोगों के मन में सवाल भी उठे क्या उनको सस्ता घर मिल पाएगा या नहीं? इस बारे में जानकारी के लिए हमने कई जानकारों से बात की. उनकी राय जानी. उन लोगों ने क्या बताया, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

 
वीडियो

एग्रीकल्चर इंफ्रा सेस से कृषि सेक्टर को कितना फायदा मिलेगा?

दी लल्लनटॉप शो के आज के एपिसोड में देखिए:-

HAL की एक नई प्रोडक्शन लाइन का उद्घाटन अकाली दल प्रमुख सुखबीर सिंह बादल की गाड़ी पर हमला राज्यसभा में विपक्षी दलों ने की किसानों के मुद्दे पर चर्चा की मांग एग्रीकल्चर इंफ्रा सेस से कृषि सेक्टर को कितना फायदा मिलेगा?

दी लल्लनटॉप शो का पिछला एपिसोड देखने के लिए यहां क्लिक करें

   

एग्रीकल्चर इंफ्रा सेस से कृषि सेक्टर को कितना फायदा मिलेगा?

दी लल्लनटॉप शो के आज के एपिसोड में देखिए:-

HAL की एक नई प्रोडक्शन लाइन का उद्घाटन अकाली दल प्रमुख सुखबीर सिंह बादल की गाड़ी पर हमला राज्यसभा में विपक्षी दलों ने की किसानों के मुद्दे पर चर्चा की मांग एग्रीकल्चर इंफ्रा सेस से कृषि सेक्टर को कितना फायदा मिलेगा?

दी लल्लनटॉप शो का पिछला एपिसोड देखने के लिए यहां क्लिक करें

   
न्यूज़

मोदी सरकार के बजट की छिपी हुई बातें क्या हैं?

हर सरकार इंश्योरेंस सेक्टर में FDI बढ़ाने की ज़िद पर क्यों अड़ी रहती है?

मोदी सरकार के बजट की छिपी हुई बातें क्या हैं?

आम आदमी को क्या चाहिए – रोटी-कपड़ा-मकान. इसी को रीफ्रेज़ करके बनता है रोटी-गाड़ी-मकान. इन तीन लक्ष्यों को पूरा करने पर आप एक खुशहाल भारतीय की कल्पना तक पहुंचेंगे. माने एक ऐसा शख्स #1 जिसके पेट के लिए अन्न हो, उसका स्वास्थ्य ठीक रहे #2 जिसके पास ऐसी आवक हो कि वो एक वाहन खरीद … और पढ़ें मोदी सरकार के बजट की छिपी हुई बातें क्या हैं?