Submit your post

Follow Us

वीडियो

पड़ताल: कृषि बिल पास होते ही अडानी ग्रुप ने प्राइवेट मंडी और भंडारण टैंक बना लिए?

सोशल मीडिया पर हाल ही में संसद से पास हुए कृषि बिल से जुड़ा एक दावा वायरल हो रहा है. सोशल मीडिया यूज़र्स अडानी एग्री लॉजिस्टिक्स का एक बिल बोर्ड शेयर कर मोदी सरकार का कृषि बिलों के माध्यम से अडानी ग्रुप को फायदा पहुंचाने का दावा कर रहे हैं. बिल बोर्ड पर FCI यानी फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया ( भारतीय खाद्य निगम) भी लिखा हुआ है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने पड़ताल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, इस वीडियो में देखिए.

पड़ताल: कृषि बिल पास होते ही अडानी ग्रुप ने प्राइवेट मंडी और भंडारण टैंक बना लिए?

सोशल मीडिया पर हाल ही में संसद से पास हुए कृषि बिल से जुड़ा एक दावा वायरल हो रहा है. सोशल मीडिया यूज़र्स अडानी एग्री लॉजिस्टिक्स का एक बिल बोर्ड शेयर कर मोदी सरकार का कृषि बिलों के माध्यम से अडानी ग्रुप को फायदा पहुंचाने का दावा कर रहे हैं. बिल बोर्ड पर FCI यानी फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया ( भारतीय खाद्य निगम) भी लिखा हुआ है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने पड़ताल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, इस वीडियो में देखिए.

झमाझम

बुर्क़ा पहने, कटार छिपाए घूम रहा था पुजारी, रोकने पर मंदिर में घुस गया

बुर्क़ा पहने, कटार छिपाए घूम रहा था पुजारी, रोकने पर मंदिर में घुस गया

सोशल मीडिया पर बुर्क़ा पहने एक शख़्स का वीडियो ख़ूब वायरल हो रहा है. दावा किया जा रहा है कि ये शख़्स एक मंदिर का पुजारी है. वॉट्सऐप, फेसबुक, ट्विटर समेत लगभग हर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ये वीडियो शेयर किया जा रहा है. दावा इस वीडियो में आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया गया है. … और पढ़ें बुर्क़ा पहने, कटार छिपाए घूम रहा था पुजारी, रोकने पर मंदिर में घुस गया

वीडियो

पड़ताल: राजस्थान और गुजरात में आदमी जैसा दिखने वाला' जानवर' असल में क्या है?

सोशल मीडिया पर एक अजीबोगरीब ‘जानवर’ की तस्वीर वायरल हो रही है. सोशल मीडिया यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि ये जानवर गुजरात से राजस्थान के लिए रवाना हो गया है, इसलिए किसान अकेले खेतों में ना जाएं और सुरक्षित रहें.  ‘दी लल्लनटॉप’ ने इस दावे की पड़ताल की है. देखिए वीडियो.

पड़ताल: राजस्थान और गुजरात में आदमी जैसा दिखने वाला' जानवर' असल में क्या है?

सोशल मीडिया पर एक अजीबोगरीब ‘जानवर’ की तस्वीर वायरल हो रही है. सोशल मीडिया यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि ये जानवर गुजरात से राजस्थान के लिए रवाना हो गया है, इसलिए किसान अकेले खेतों में ना जाएं और सुरक्षित रहें.  ‘दी लल्लनटॉप’ ने इस दावे की पड़ताल की है. देखिए वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या उर्दू मीडियम से पहली महिला IPS बन पुलिस यूनिफॉर्म की जगह बुर्का पहना?

सोशल मीडिया पर एक दफ़्तर की तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें एक लड़की डेस्क के पीछे कुर्सी पर बैठी है. लड़की के पीछे पुलिस यूनिफॉर्म में कुछ लोग खड़े हैं. तस्वीर में महाराष्ट्र पुलिस का बोर्ड भी लगा दिख रहा है. इस तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि ये लड़की उर्दू मीडियम से पहली मुस्लिम महिला IPS बनी है, जिसने पुलिस यूनिफॉर्म की जगह बुर्का पहनकर ऑफिस ज्वाइन ​किया और इस तरह पुलिस फोर्स के ड्रेस कोड का उल्लंघन किया गया. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, देखिए वीडियो.

पड़ताल: क्या उर्दू मीडियम से पहली महिला IPS बन पुलिस यूनिफॉर्म की जगह बुर्का पहना?

सोशल मीडिया पर एक दफ़्तर की तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें एक लड़की डेस्क के पीछे कुर्सी पर बैठी है. लड़की के पीछे पुलिस यूनिफॉर्म में कुछ लोग खड़े हैं. तस्वीर में महाराष्ट्र पुलिस का बोर्ड भी लगा दिख रहा है. इस तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि ये लड़की उर्दू मीडियम से पहली मुस्लिम महिला IPS बनी है, जिसने पुलिस यूनिफॉर्म की जगह बुर्का पहनकर ऑफिस ज्वाइन ​किया और इस तरह पुलिस फोर्स के ड्रेस कोड का उल्लंघन किया गया. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, देखिए वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या राजस्थान के अस्पताल में मरीज की किडनी निकालकर उसे कोरोना पॉजिटिव बता दिया?

सोशल मीडिया पर एक अस्पताल का वीडियो वायरल हो रहा है. यूज़र्स इसे कोटा, राजस्थान के सुधा हॉस्पिटल का बता रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि एक मरीज़ की मौत के बाद हॉस्पिटल ने उसकी किडनी निकाल ली और कोरोना पॉजिटिव बता दिया. वायरल वीडियो में मरीज़ के परिजनों को किडनी निकाले जाने का आरोप लगाते देखा-सुना जा सकता है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, देखिए वीडियो.

 

पड़ताल: क्या राजस्थान के अस्पताल में मरीज की किडनी निकालकर उसे कोरोना पॉजिटिव बता दिया?

सोशल मीडिया पर एक अस्पताल का वीडियो वायरल हो रहा है. यूज़र्स इसे कोटा, राजस्थान के सुधा हॉस्पिटल का बता रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि एक मरीज़ की मौत के बाद हॉस्पिटल ने उसकी किडनी निकाल ली और कोरोना पॉजिटिव बता दिया. वायरल वीडियो में मरीज़ के परिजनों को किडनी निकाले जाने का आरोप लगाते देखा-सुना जा सकता है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, देखिए वीडियो.

 
भैरंट

जिन्हें लगता है कि भारत की GDP 23.9% नहीं सिकुड़ी, वो तो ये ख़बर ज़रूर ही पढ़ें

जिन्हें लगता है कि भारत की GDP 23.9% नहीं सिकुड़ी, वो तो ये ख़बर ज़रूर ही पढ़ें

अगर आप अर्थव्यवस्था से जुड़ी हुई ख़बरों में ज़रा भी रुचि रखते हैं तो बीते दिनों में आपने लल्लनटॉप पर खबर देखी होगी. इसमें बताया गया कि भारत में अप्रैल से जून 2020 की तिमाही में 2019 की इसी तिमाही के मुकाबले जीडीपी 23.9 प्रतिशत सिकुड़ गई. इसकी जानकारी लल्लनटॉप ने आपको 1 सितंबर को … और पढ़ें जिन्हें लगता है कि भारत की GDP 23.9% नहीं सिकुड़ी, वो तो ये ख़बर ज़रूर ही पढ़ें

वीडियो

पड़ताल: क्या पानी में बह रही कार की वायरल तस्वीरें चीन से हैं?

सोशल मीडिया पर अचानक आई बाढ़ का एक वीडियो वायरल हो रहा है. दावा किया जा रहा है कि ये घटना चीन की है. वीडियो में देखा जा सकता है कि अचानक बहुत मात्रा में पानी आता है, और अपने साथ गाड़ियां और सामान बहाकर लाता है.  ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, इस वीडियो में देखिए.

 

पड़ताल: क्या पानी में बह रही कार की वायरल तस्वीरें चीन से हैं?

सोशल मीडिया पर अचानक आई बाढ़ का एक वीडियो वायरल हो रहा है. दावा किया जा रहा है कि ये घटना चीन की है. वीडियो में देखा जा सकता है कि अचानक बहुत मात्रा में पानी आता है, और अपने साथ गाड़ियां और सामान बहाकर लाता है.  ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, इस वीडियो में देखिए.

 
वीडियो

पड़ताल: क्या फेसबुक पॉलिसी डायरेक्टर अंखी दास, तिरंगे के डिज़ाइन का केक काट रही हैं?

हाल ही में “द वॉल स्ट्रीट जर्नल” की एक रिपोर्ट में कहा गया कि सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी फेसबुक ने बीजेपी नेताओं की ओर से नफरत फैलाने वाले भाषणों के प्रति नरमी बरती. इसके बाद फेसबुक इंडिया की पब्लिक पॉलिसी प्रमुख अंखी दास को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा. इसी बीच, सोशल मीडिया पर दो तस्वीरें वायरल हो रही हैं जिनमें एक महिला केक काट रही है. ये केक भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे के डिजाइन में बना है. तस्वीरों के साथ दावा किया जा रहा है कि तिरंगा केक काटकर अंखी दास ने भारत का अपमान किया है. इस वायरल दावे की पड़ताल की, नतीजा क्या निकला, इस वीडियो में देखिए.

 

पड़ताल: क्या फेसबुक पॉलिसी डायरेक्टर अंखी दास, तिरंगे के डिज़ाइन का केक काट रही हैं?

हाल ही में “द वॉल स्ट्रीट जर्नल” की एक रिपोर्ट में कहा गया कि सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी फेसबुक ने बीजेपी नेताओं की ओर से नफरत फैलाने वाले भाषणों के प्रति नरमी बरती. इसके बाद फेसबुक इंडिया की पब्लिक पॉलिसी प्रमुख अंखी दास को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा. इसी बीच, सोशल मीडिया पर दो तस्वीरें वायरल हो रही हैं जिनमें एक महिला केक काट रही है. ये केक भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे के डिजाइन में बना है. तस्वीरों के साथ दावा किया जा रहा है कि तिरंगा केक काटकर अंखी दास ने भारत का अपमान किया है. इस वायरल दावे की पड़ताल की, नतीजा क्या निकला, इस वीडियो में देखिए.

 
वीडियो

पड़ताल: क्या कांग्रेस नेता कमल नाथ ने 15 अगस्त को गणतंत्र दिवस की बधाई दी?

सोशल मीडिया पर भोपाल में लगे एक बिलबोर्ड की तस्वीर वायरल हो रही है. वायरल तस्वीर में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनके बेटे नकुलनाथ की ओर से गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी जा रही हैं. दावा किया जा रहा है कि ये बिलबोर्ड इस साल स्वतंत्रता दिवस के पहले लगाया गया है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, वीडियो देखिए.

 

पड़ताल: क्या कांग्रेस नेता कमल नाथ ने 15 अगस्त को गणतंत्र दिवस की बधाई दी?

सोशल मीडिया पर भोपाल में लगे एक बिलबोर्ड की तस्वीर वायरल हो रही है. वायरल तस्वीर में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनके बेटे नकुलनाथ की ओर से गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी जा रही हैं. दावा किया जा रहा है कि ये बिलबोर्ड इस साल स्वतंत्रता दिवस के पहले लगाया गया है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, वीडियो देखिए.

 
वीडियो

पड़ताल: क्या UK के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भारत पर ब्रिटिश रूल के लिए सॉरी कहा है?

सोशल मीडिया पर एक ट्वीट खासा वायरल हो रहा है. ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के नाम वाले एक ट्विटर अकाउंंट ने भारत को ग़ुलाम बनाने के लिए माफ़ी मांगी. यूजर्स ने माना कि बोरिस जॉनसन ने सच में ऐसा बयान दिया है. दी लल्लनटॉप ने इस ट्वीट की पड़ताल की. नतीजा क्या है, इस वीडियो में देखिए.

पड़ताल: क्या UK के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भारत पर ब्रिटिश रूल के लिए सॉरी कहा है?

सोशल मीडिया पर एक ट्वीट खासा वायरल हो रहा है. ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के नाम वाले एक ट्विटर अकाउंंट ने भारत को ग़ुलाम बनाने के लिए माफ़ी मांगी. यूजर्स ने माना कि बोरिस जॉनसन ने सच में ऐसा बयान दिया है. दी लल्लनटॉप ने इस ट्वीट की पड़ताल की. नतीजा क्या है, इस वीडियो में देखिए.