Submit your post

Follow Us

वीडियो

पड़ताल: क्या सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है?

पंजाब सरकार में हुए नेतृत्व परिवर्तन के बाद नए CM बने हैं चरणजीत सिंह चन्नी. चन्नी कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थे. पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी  अनुसूचित जाति से आते हैं. ऐसे में विपक्षियों ने उनकी  नियुक्ति को दलित वोटर्स को लुभाने का पैंतरा बताया है. पर सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे भी लोग हैं जो मुख्यमंत्री चन्नी के ईसाई होने का दावा कर रहे हैं. इनका कहना है कि कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है?

पंजाब सरकार में हुए नेतृत्व परिवर्तन के बाद नए CM बने हैं चरणजीत सिंह चन्नी. चन्नी कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थे. पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी  अनुसूचित जाति से आते हैं. ऐसे में विपक्षियों ने उनकी  नियुक्ति को दलित वोटर्स को लुभाने का पैंतरा बताया है. पर सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे भी लोग हैं जो मुख्यमंत्री चन्नी के ईसाई होने का दावा कर रहे हैं. इनका कहना है कि कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या महारानी एलिजाबेथ के लिए परेड में खड़े जवान RSS के स्वंयसेवक हैं?

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ यानी RSS को आज़ादी से पहले के उनके इतिहास के लिए निशाने पर रखा जाता रहा है. भारत छोड़ो आंदोलन में RSS की भूमिका और फिर महात्मा गांधी की हत्या के बाद RSS पर कई सवाल उठे. सिलसिला आज भी जारी है. सोशल मीडिया पर एक दावा वायरल हो रहा है. कहा जा रहा है कि जब पूरा देश अंग्रेजों से लड़ रहा था, तब कुछ गद्दार इंग्लैंड की रानी को सलामी दे रहे थे. सुना है इनके वंशज खुद को देशभक्त कहते हैं. इस तस्वीर में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के स्वंयसेवकों को ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के सामने परेड की अवस्था में दिखाया जा रहा है. वायरल कैप्शन तस्वीर में भी यही बात लिखी दिख रही है. हमने इसकी पड़ताल की. नतीजा क्या निकला. जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या महारानी एलिजाबेथ के लिए परेड में खड़े जवान RSS के स्वंयसेवक हैं?

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ यानी RSS को आज़ादी से पहले के उनके इतिहास के लिए निशाने पर रखा जाता रहा है. भारत छोड़ो आंदोलन में RSS की भूमिका और फिर महात्मा गांधी की हत्या के बाद RSS पर कई सवाल उठे. सिलसिला आज भी जारी है. सोशल मीडिया पर एक दावा वायरल हो रहा है. कहा जा रहा है कि जब पूरा देश अंग्रेजों से लड़ रहा था, तब कुछ गद्दार इंग्लैंड की रानी को सलामी दे रहे थे. सुना है इनके वंशज खुद को देशभक्त कहते हैं. इस तस्वीर में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के स्वंयसेवकों को ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के सामने परेड की अवस्था में दिखाया जा रहा है. वायरल कैप्शन तस्वीर में भी यही बात लिखी दिख रही है. हमने इसकी पड़ताल की. नतीजा क्या निकला. जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: पाकिस्तान में क्रिकेट सीरीज़ छोड़ने वाली न्यूजीलैंड की सुरक्षा का ये वीडियो फर्जी है

सोशल मीडिया पर 30 सेकेंड का एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है. वीडियो में गाड़ियों का एक बड़ा सा क़ाफ़िला दिखा रहा है, जिसमें कई पुलिस, कमांडो गाड़ियों समेत एंबुलेंस भी शामिल है. इसे न्यूज़ीलैंड टीम की सुरक्षा का वीडियो बताकर कई दावे शेयर किए जा रहे हैं. हमने इसकी पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: पाकिस्तान में क्रिकेट सीरीज़ छोड़ने वाली न्यूजीलैंड की सुरक्षा का ये वीडियो फर्जी है

सोशल मीडिया पर 30 सेकेंड का एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है. वीडियो में गाड़ियों का एक बड़ा सा क़ाफ़िला दिखा रहा है, जिसमें कई पुलिस, कमांडो गाड़ियों समेत एंबुलेंस भी शामिल है. इसे न्यूज़ीलैंड टीम की सुरक्षा का वीडियो बताकर कई दावे शेयर किए जा रहे हैं. हमने इसकी पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: लालबागचा राजा का जो वीडियो अमिताभ बच्चन ने पोस्ट किया, वो क्या 2021 का है?

महाराष्ट्र समेत पूरे देश में इन दिनों गणेश उत्सव की धूम है. बीते साल यानी 2020 में कोविड सुरक्षा उपायों के चलते गणेश उत्सव की चमक फीकी रही थी. खासतौर पर मुंबई में. इस बार भक्तों को उम्मीद थी कि बप्पा के दर्शन पंडालों में हो पाएंगे. पर महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में धारा-144 लगा दी है यानी 5 या उससे ज्यादा लोगों के एक जगह इकट्ठे होने पर पाबंदी लगा दी है. बप्पा के दर्शन करने की चाह रखने वालों को ऑनलाइन ही दर्शन करने होंगे. बड़े पंडालों ने इसके लिए ज़रूरी इंतज़ाम किए हैं. इस बीच गणेश उत्सव से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वायरल हो रहे वीडियो को मुंबई के गणेश उत्सव मशहूर लालबागचा राजा गणपति पंडाल का बताया जा रहा है. दावा है कि ये इस साल यानी 2021 के पहले दर्शन का वीडियो है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: लालबागचा राजा का जो वीडियो अमिताभ बच्चन ने पोस्ट किया, वो क्या 2021 का है?

महाराष्ट्र समेत पूरे देश में इन दिनों गणेश उत्सव की धूम है. बीते साल यानी 2020 में कोविड सुरक्षा उपायों के चलते गणेश उत्सव की चमक फीकी रही थी. खासतौर पर मुंबई में. इस बार भक्तों को उम्मीद थी कि बप्पा के दर्शन पंडालों में हो पाएंगे. पर महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में धारा-144 लगा दी है यानी 5 या उससे ज्यादा लोगों के एक जगह इकट्ठे होने पर पाबंदी लगा दी है. बप्पा के दर्शन करने की चाह रखने वालों को ऑनलाइन ही दर्शन करने होंगे. बड़े पंडालों ने इसके लिए ज़रूरी इंतज़ाम किए हैं. इस बीच गणेश उत्सव से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वायरल हो रहे वीडियो को मुंबई के गणेश उत्सव मशहूर लालबागचा राजा गणपति पंडाल का बताया जा रहा है. दावा है कि ये इस साल यानी 2021 के पहले दर्शन का वीडियो है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या केजरीवाल ने दिल्ली में डीज़ल 8 रुपये सस्ता कर दिया है?

पेट्रोल-डीजल की बेतहाशा बढ़ती कीमतों के बीच अगर आप को खबर मिले कि डीजल के दाम में आठ रुपये की कमी आ गई है तो कैसा महसूस करेंगे? कुछ ऐसा ही दावा सोशल मीडिया पर ABP न्यूज चैनल के एक स्क्रीनशॉट के जरिये किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में डीजल का दाम 8.36 रुपये घटा दिया है. ABP के स्क्रीनशॉट में भी यही बताया गया है कि अब दिल्ली में डीजल 73.64 रुपये/लीटर हो गया है. हमने इस वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या केजरीवाल ने दिल्ली में डीज़ल 8 रुपये सस्ता कर दिया है?

पेट्रोल-डीजल की बेतहाशा बढ़ती कीमतों के बीच अगर आप को खबर मिले कि डीजल के दाम में आठ रुपये की कमी आ गई है तो कैसा महसूस करेंगे? कुछ ऐसा ही दावा सोशल मीडिया पर ABP न्यूज चैनल के एक स्क्रीनशॉट के जरिये किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में डीजल का दाम 8.36 रुपये घटा दिया है. ABP के स्क्रीनशॉट में भी यही बताया गया है कि अब दिल्ली में डीजल 73.64 रुपये/लीटर हो गया है. हमने इस वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या आम आदमी पार्टी गुजरात की राजनीति में सांप्रदायिकता फैला रही है?

आम आदमी पार्टी के गुजराती भाषा में जारी एक बैनर की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें कहा गया है, "गुजरात अब नमाज पढ़ेगा". साथ ही इस पर लिखा है कि लोगों को भागवत पाठ और सत्यनारायण पूजा बंद कर देनी चाहिए. बैनर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अलावा दो और लोगों की तस्वीर लगी है. कई सारे फेसबुक यूजर्स ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए आम आदमी पार्टी पर गुजरात की राजनीति में सांप्रदायिकता फैलाने का आरोप लगाया. इस दावे की हमने पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या आम आदमी पार्टी गुजरात की राजनीति में सांप्रदायिकता फैला रही है?

आम आदमी पार्टी के गुजराती भाषा में जारी एक बैनर की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें कहा गया है, "गुजरात अब नमाज पढ़ेगा". साथ ही इस पर लिखा है कि लोगों को भागवत पाठ और सत्यनारायण पूजा बंद कर देनी चाहिए. बैनर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अलावा दो और लोगों की तस्वीर लगी है. कई सारे फेसबुक यूजर्स ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए आम आदमी पार्टी पर गुजरात की राजनीति में सांप्रदायिकता फैलाने का आरोप लगाया. इस दावे की हमने पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या दूध में मिलावट करने और कंटेनर में थूकने का ये वीडियो भारत का है?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. दावा किया जा राह है कि खुलेआम सड़कों पर दूध में पानी मिलाया जा रहा है. साथ ही कहा जा रहा है कि  दूध के कंटेनर में यह  थूक भी रहे हैं. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या दूध में मिलावट करने और कंटेनर में थूकने का ये वीडियो भारत का है?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. दावा किया जा राह है कि खुलेआम सड़कों पर दूध में पानी मिलाया जा रहा है. साथ ही कहा जा रहा है कि  दूध के कंटेनर में यह  थूक भी रहे हैं. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या मुरली मनोहर जोशी ने 2024 में मोदी के हारने और राहुल के जीतने की बात कही?

सोशल मीडिया पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी को प्रधानमंत्री मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी से जोड़ा जा रहा है. एक पोस्ट वायरल हो रहा है जिसके मुताबिक, मुरली मनोहर जोशी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना और राहुल गांधी की तारीफ की है. पोस्ट के मुताबिक जोशी ने कहा है, "अगर मोदी इसी तरह घमंड में रहे तो 2024 में मोदी बुरी तरह हारेंगे और देश की जनता राहुल की सादगी को जिताएगी." अब इस दावे की हमने पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या मुरली मनोहर जोशी ने 2024 में मोदी के हारने और राहुल के जीतने की बात कही?

सोशल मीडिया पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी को प्रधानमंत्री मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी से जोड़ा जा रहा है. एक पोस्ट वायरल हो रहा है जिसके मुताबिक, मुरली मनोहर जोशी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना और राहुल गांधी की तारीफ की है. पोस्ट के मुताबिक जोशी ने कहा है, "अगर मोदी इसी तरह घमंड में रहे तो 2024 में मोदी बुरी तरह हारेंगे और देश की जनता राहुल की सादगी को जिताएगी." अब इस दावे की हमने पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: नासा के स्पेस स्टेशन में बॉल गिरने के वीडियो को फ़ेक बताता दावा गलत, पूरा सच कुछ और है

सोशल मीडिया पर अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा से जुड़ा एक वीडियो वायरल है. वीडियो में नीली शर्ट और खाकी पैंट पहने पांच लोग दिख रहे हैं. एक आदमी अपने एक हाथ में बॉल और दूसरे हाथ में माइक लेकर कुछ कह रहा है. अचानक बॉल उसके हाथ से नीचे गिर जाती है. ये देखकर एक दूसरा व्यक्ति बॉल उठाने के लिए झुकता है, लेकिन एक महिला उसे इशारा करके बॉल उठाने से मना कर देती है. अब इसी वीडियो को शेयर कर सोशल मीडिया पर यूज़र्स आरोप लगा रहे हैं कि नासा ने धरती पर रिकॉर्ड किए गए एक वीडियो को अंतरिक्ष स्टेशन का वीडियो बताकर दुनिया के सामने पेश कर दिया.

हमारी पड़ताल में वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक निकला. वायरल वीडियो नासा के स्पेस स्टेशन का ही है. ओरिजिनल वीडियो देखने पर पता चला कि वीडियो में कई बार माइक और बॉल को तैरते हुए देखा जा सकता है. देखिए पूरी सच्चाई इस वीडियो में.

 

पड़ताल: नासा के स्पेस स्टेशन में बॉल गिरने के वीडियो को फ़ेक बताता दावा गलत, पूरा सच कुछ और है

सोशल मीडिया पर अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा से जुड़ा एक वीडियो वायरल है. वीडियो में नीली शर्ट और खाकी पैंट पहने पांच लोग दिख रहे हैं. एक आदमी अपने एक हाथ में बॉल और दूसरे हाथ में माइक लेकर कुछ कह रहा है. अचानक बॉल उसके हाथ से नीचे गिर जाती है. ये देखकर एक दूसरा व्यक्ति बॉल उठाने के लिए झुकता है, लेकिन एक महिला उसे इशारा करके बॉल उठाने से मना कर देती है. अब इसी वीडियो को शेयर कर सोशल मीडिया पर यूज़र्स आरोप लगा रहे हैं कि नासा ने धरती पर रिकॉर्ड किए गए एक वीडियो को अंतरिक्ष स्टेशन का वीडियो बताकर दुनिया के सामने पेश कर दिया.

हमारी पड़ताल में वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक निकला. वायरल वीडियो नासा के स्पेस स्टेशन का ही है. ओरिजिनल वीडियो देखने पर पता चला कि वीडियो में कई बार माइक और बॉल को तैरते हुए देखा जा सकता है. देखिए पूरी सच्चाई इस वीडियो में.

 
वीडियो

पड़ताल: क्या शंघाई के डिज़्नीलैंड में डांसिंग आर्टिस्ट नहीं बल्कि रोबोट डांस कर रहे हैं?

सोशल मीडिया पर एक शानदार डांस परफॉर्मेंस का वीडियो वायरल हो रहा है. दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहे डांसिंग आर्टिस्ट इंसान नहीं, बल्कि चीन में बने रोबोट्स हैं, और ये डांस परफॉर्मेंस चीनी क्लासिकल डांस है जो शंघाई के डिज़्नीलैंड में दिखाया गया था. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या शंघाई के डिज़्नीलैंड में डांसिंग आर्टिस्ट नहीं बल्कि रोबोट डांस कर रहे हैं?

सोशल मीडिया पर एक शानदार डांस परफॉर्मेंस का वीडियो वायरल हो रहा है. दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहे डांसिंग आर्टिस्ट इंसान नहीं, बल्कि चीन में बने रोबोट्स हैं, और ये डांस परफॉर्मेंस चीनी क्लासिकल डांस है जो शंघाई के डिज़्नीलैंड में दिखाया गया था. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.