Submit your post

Follow Us

वीडियो

फिल्म रिव्यू: इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड

‘इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड’ राजकुमार गुप्ता के डायरेक्शन में बनी पांचवीं फिल्म है. इससे पहले कि उनकी चार में से दो फिल्मों असल घटनाओं से प्रेरित थीं. अर्जुन कपूर स्टारर ये फिल्म भी रियल कहानी पर ही बेस्ड है. और ये कहानी है इंडियन मुजाहिद्दीन नाम के आतंकवादी संगठन के मुखिया यासीन भटकल को पकड़ने की. 28 अगस्त, 2013 को यासीन को बिहार पुलिस ने इंडिया नेपाल बॉर्डर पर पकड़ा था. लेकिन जिस तरह से पकड़ा था, वो इस फिल्म को देखकर पता चलता है. फिल्म असलियत से कितनी मेल खाती है, ये तो हमें नहीं पता. लेकिन इतना ज़रूर पता चलता है कि जो कुछ भी घटा होगा, इसके काफी करीब रहा होगा. फिल्म की कहानी से लेकर बाकी चीज़ों के बारे में हम वीडियो में जानेंगे.  

फिल्म रिव्यू: इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड

‘इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड’ राजकुमार गुप्ता के डायरेक्शन में बनी पांचवीं फिल्म है. इससे पहले कि उनकी चार में से दो फिल्मों असल घटनाओं से प्रेरित थीं. अर्जुन कपूर स्टारर ये फिल्म भी रियल कहानी पर ही बेस्ड है. और ये कहानी है इंडियन मुजाहिद्दीन नाम के आतंकवादी संगठन के मुखिया यासीन भटकल को पकड़ने की. 28 अगस्त, 2013 को यासीन को बिहार पुलिस ने इंडिया नेपाल बॉर्डर पर पकड़ा था. लेकिन जिस तरह से पकड़ा था, वो इस फिल्म को देखकर पता चलता है. फिल्म असलियत से कितनी मेल खाती है, ये तो हमें नहीं पता. लेकिन इतना ज़रूर पता चलता है कि जो कुछ भी घटा होगा, इसके काफी करीब रहा होगा. फिल्म की कहानी से लेकर बाकी चीज़ों के बारे में हम वीडियो में जानेंगे.  
झमाझम

फिल्म रिव्यू: इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड

‘इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड’ राजकुमार गुप्ता के डायरेक्शन में बनी पांचवीं फिल्म है. इससे पहले कि उनकी चार में से दो फिल्मों असल घटनाओं से प्रेरित थीं. अर्जुन कपूर स्टारर ये फिल्म भी रियल कहानी पर ही बेस्ड है. और ये कहानी है इंडियन मुजाहिद्दीन नाम के आतंकवादी संगठन के मुखिया यासीन भटकल को पकड़ने की. … और पढ़ें Film Review India’s Most Wanted starring Arjun Kapoor and directed by Rajkumar Gupta

फिल्म रिव्यू: इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड

‘इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड’ राजकुमार गुप्ता के डायरेक्शन में बनी पांचवीं फिल्म है. इससे पहले कि उनकी चार में से दो फिल्मों असल घटनाओं से प्रेरित थीं. अर्जुन कपूर स्टारर ये फिल्म भी रियल कहानी पर ही बेस्ड है. और ये कहानी है इंडियन मुजाहिद्दीन नाम के आतंकवादी संगठन के मुखिया यासीन भटकल को पकड़ने की. … और पढ़ें Film Review India’s Most Wanted starring Arjun Kapoor and directed by Rajkumar Gupta

झमाझम

गेम ऑफ़ थ्रोन्स S8E6- नौ साल लंबे सफर की मंज़िल कितना सेटिस्फाई करती है?

Epic…  अंग्रेजी का एक शब्द. इसका मतलब होता है एक लंबी कविता. जो बहुत पुराने किसी वक़्त की, भले ही काल्पनिक, कहानी बताए. नायकों-खलनायकों की वो कहानी, जो पीढ़ियों ने मुंहजुबानी याद रखी-रखवाई हो. जैसे- वेदव्यास का महाभारत. जैसे- आर आर मार्टिन का गेम ऑफ थ्रोन्स. महाभारत, जिसमें ब्रह्मास्त्र होते हैं. गाइडेड मिसाइल टाइप. जिसमें … और पढ़ें Game of Thrones Season 8 Episode 6 (season and series finale)- Review Without Spoilers

गेम ऑफ़ थ्रोन्स S8E6- नौ साल लंबे सफर की मंज़िल कितना सेटिस्फाई करती है?

Epic…  अंग्रेजी का एक शब्द. इसका मतलब होता है एक लंबी कविता. जो बहुत पुराने किसी वक़्त की, भले ही काल्पनिक, कहानी बताए. नायकों-खलनायकों की वो कहानी, जो पीढ़ियों ने मुंहजुबानी याद रखी-रखवाई हो. जैसे- वेदव्यास का महाभारत. जैसे- आर आर मार्टिन का गेम ऑफ थ्रोन्स. महाभारत, जिसमें ब्रह्मास्त्र होते हैं. गाइडेड मिसाइल टाइप. जिसमें … और पढ़ें Game of Thrones Season 8 Episode 6 (season and series finale)- Review Without Spoilers

वीडियो

मूवी रिव्यू: दे दे प्यार दे

जगजीत सिंह ने कभी गाया था, ‘न उम्र की सीमा हो, न जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई, तो देखे केवल मन’. कितनी वाजिब बात! कहावतें भी कहती हैं कि Age is only a number. प्यार कभी भी, किसी से भी हो सकता है. और कई बार प्यार करने वालों के बीच का एज गैप, जनरेशन गैप जितना बड़ा भी हो सकता है. इसी थीम को सेंटर में रखकर ‘प्यार का पंचनामा’ वाले लव रंजन ने फिल्म बनाई है ‘दे दे प्यार दे’, जिसे आकिव अली ने डायरेक्ट किया है. कैसी बनी है, आइए जानते हैं.  

मूवी रिव्यू: दे दे प्यार दे

जगजीत सिंह ने कभी गाया था, ‘न उम्र की सीमा हो, न जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई, तो देखे केवल मन’. कितनी वाजिब बात! कहावतें भी कहती हैं कि Age is only a number. प्यार कभी भी, किसी से भी हो सकता है. और कई बार प्यार करने वालों के बीच का एज गैप, जनरेशन गैप जितना बड़ा भी हो सकता है. इसी थीम को सेंटर में रखकर ‘प्यार का पंचनामा’ वाले लव रंजन ने फिल्म बनाई है ‘दे दे प्यार दे’, जिसे आकिव अली ने डायरेक्ट किया है. कैसी बनी है, आइए जानते हैं.  
झमाझम

मूवी रिव्यू: दे दे प्यार दे

जगजीत सिंह ने कभी गाया था, ‘न उम्र की सीमा हो, न जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई, तो देखे केवल मन’. कितनी वाजिब बात! कहावतें भी कहती हैं कि Age is only a number. प्यार कभी भी, किसी से भी हो सकता है. और कई बार प्यार करने वालों के बीच का … और पढ़ें De De Pyaar De Movie Review Starring Ajay Devgn, Tabu, Rakul Preet Singh, Jimmy Shergill and directed by Akiv Ali

मूवी रिव्यू: दे दे प्यार दे

जगजीत सिंह ने कभी गाया था, ‘न उम्र की सीमा हो, न जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई, तो देखे केवल मन’. कितनी वाजिब बात! कहावतें भी कहती हैं कि Age is only a number. प्यार कभी भी, किसी से भी हो सकता है. और कई बार प्यार करने वालों के बीच का … और पढ़ें De De Pyaar De Movie Review Starring Ajay Devgn, Tabu, Rakul Preet Singh, Jimmy Shergill and directed by Akiv Ali

वीडियो

मूवी रिव्यू: स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2

बासी माल एक बार फिर सिनेमा के परदे पर आया है. बैनर बड़ा है और हाइप ज़्यादा है. बाकी कॉन्टेंट के नाम पर शाहरुख की आखिरी फिल्म का टाइटल ही है बस. नाम है ‘स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर-2.’ एक मिडल क्लास लड़का है जो एक हाथ में गर्लफ्रेंड, एक हाथ में स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर की ट्रॉफी और बैकग्राउंड में बड़े स्कूल का सपना लेकर जी रहा है. दो लड़कियां हैं जिनमें से एक कभी घमंडी, कभी मज़लूम है, तो दूसरी सदा कन्फ्यूज़. जब हीरो को कुछ जीतना है तो ज़ाहिर है कोई हारने वाला भी चाहिए. वो भी है. जिसे और हीरो को साथ देखकर कई बार आपका मन चाहता है कि हीरो की जगह यही जीत जाए. वीडियो में देखिए कैसी है स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर-2.

मूवी रिव्यू: स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2

बासी माल एक बार फिर सिनेमा के परदे पर आया है. बैनर बड़ा है और हाइप ज़्यादा है. बाकी कॉन्टेंट के नाम पर शाहरुख की आखिरी फिल्म का टाइटल ही है बस. नाम है ‘स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर-2.’ एक मिडल क्लास लड़का है जो एक हाथ में गर्लफ्रेंड, एक हाथ में स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर की ट्रॉफी और बैकग्राउंड में बड़े स्कूल का सपना लेकर जी रहा है. दो लड़कियां हैं जिनमें से एक कभी घमंडी, कभी मज़लूम है, तो दूसरी सदा कन्फ्यूज़. जब हीरो को कुछ जीतना है तो ज़ाहिर है कोई हारने वाला भी चाहिए. वो भी है. जिसे और हीरो को साथ देखकर कई बार आपका मन चाहता है कि हीरो की जगह यही जीत जाए. वीडियो में देखिए कैसी है स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर-2.
झमाझम

गेम ऑफ़ थ्रोन्स S8E5- कौन गिरा है कौन मरा है, किस मातम है कौन कहे

एक दीवार पर खून के कुछ धब्बे हैं. उसके बगल में ही एक छोटी लड़की बैठी है. पूरा शहर जल रहा है. सैनिकों और रेल्म के बाकी सारे लोगों के ऊपर मौत मंडरा रही है. ड्रैगन और डिनायरस के रूप में. ये सब कुछ तब हो रहा है जबकि अभी कुछ देर पहले ही संधि … और पढ़ें Game of Thrones Season 8 Episode 5 – Review Without Spoilers

गेम ऑफ़ थ्रोन्स S8E5- कौन गिरा है कौन मरा है, किस मातम है कौन कहे

एक दीवार पर खून के कुछ धब्बे हैं. उसके बगल में ही एक छोटी लड़की बैठी है. पूरा शहर जल रहा है. सैनिकों और रेल्म के बाकी सारे लोगों के ऊपर मौत मंडरा रही है. ड्रैगन और डिनायरस के रूप में. ये सब कुछ तब हो रहा है जबकि अभी कुछ देर पहले ही संधि … और पढ़ें Game of Thrones Season 8 Episode 5 – Review Without Spoilers

झमाझम

मूवी रिव्यू: स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2

अरिंदम चौधरी करके एक मैनेजमेंट गुरु हुए. उनका कहना था कि हर दशक में दर्शकों को एक फ्रेश कॉलेज मूवी चाहिए होती है. जैसे ‘जो जीता वो ही सिकंदर’ थी. अपने तौर पर सब कैल्क्यूलेट करके उन्होंने भी ‘वैसी ही’ एक फिल्म बनाई, जिसके बारे में उनका कहना था कि उसे हिट होने से कोई … और पढ़ें Student Of The Year 2 Movie Review Starring Tiger Shroff, Ananya Pandey and Tara Sutaria

मूवी रिव्यू: स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2

अरिंदम चौधरी करके एक मैनेजमेंट गुरु हुए. उनका कहना था कि हर दशक में दर्शकों को एक फ्रेश कॉलेज मूवी चाहिए होती है. जैसे ‘जो जीता वो ही सिकंदर’ थी. अपने तौर पर सब कैल्क्यूलेट करके उन्होंने भी ‘वैसी ही’ एक फिल्म बनाई, जिसके बारे में उनका कहना था कि उसे हिट होने से कोई … और पढ़ें Student Of The Year 2 Movie Review Starring Tiger Shroff, Ananya Pandey and Tara Sutaria

झमाझम

गेम ऑफ़ थ्रोन्स सीज़न 8 एपिसोड 4 - रिव्यू

दूर-दूर तक लाशों के ढेर लकड़ियों के ऊपर रखे हैं, इनको अभी जलाया जाना है. युद्ध तो खैर जीत गए और उसके समारोह की भी रात आएगी लेकिन उससे पहले- जो शहीद हुए है उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी! आर आर मार्टिन का शाहकार – गेम ऑफ़ थ्रोन्स. इसके लास्ट सीज़न के पहले, दूसरे और … और पढ़ें Game of Thrones Season 8 Episode 4 – Review Without Spoilers

गेम ऑफ़ थ्रोन्स सीज़न 8 एपिसोड 4 - रिव्यू

दूर-दूर तक लाशों के ढेर लकड़ियों के ऊपर रखे हैं, इनको अभी जलाया जाना है. युद्ध तो खैर जीत गए और उसके समारोह की भी रात आएगी लेकिन उससे पहले- जो शहीद हुए है उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी! आर आर मार्टिन का शाहकार – गेम ऑफ़ थ्रोन्स. इसके लास्ट सीज़न के पहले, दूसरे और … और पढ़ें Game of Thrones Season 8 Episode 4 – Review Without Spoilers

वीडियो

फिल्म रिव्यू: ब्लैंक

इस शुक्रवार थिएटर्स में लगी फिल्म ‘ब्लैंक’. डिंपल कपाड़िया के भतीजे और अक्षय कुमार के साले करण कपाड़िया इससे अपना डेब्यू कर रहे हैं. साथ में सनी देओल भी हैं. ‘ब्लैंक’ को डायरेक्ट किया है बहज़ाद खंबाटा ने. ये उनकी पहली फिल्म है. ‘ब्लैंक’ अपने आइडिया के हिसाब से हाई-एंड थ्रिलर टाइप लगती है. टाइपकास्ट होकर ही रह जाती है कि अपने लिए कुछ कर भी पाती है? इसकी कहानी समेत फिल्म से जुड़ी बाकी चीज़ों के बारे में वीडियो में बात कर रहे हैं श्वेतांक और उपासना.  

फिल्म रिव्यू: ब्लैंक

इस शुक्रवार थिएटर्स में लगी फिल्म ‘ब्लैंक’. डिंपल कपाड़िया के भतीजे और अक्षय कुमार के साले करण कपाड़िया इससे अपना डेब्यू कर रहे हैं. साथ में सनी देओल भी हैं. ‘ब्लैंक’ को डायरेक्ट किया है बहज़ाद खंबाटा ने. ये उनकी पहली फिल्म है. ‘ब्लैंक’ अपने आइडिया के हिसाब से हाई-एंड थ्रिलर टाइप लगती है. टाइपकास्ट होकर ही रह जाती है कि अपने लिए कुछ कर भी पाती है? इसकी कहानी समेत फिल्म से जुड़ी बाकी चीज़ों के बारे में वीडियो में बात कर रहे हैं श्वेतांक और उपासना.