Submit your post

Follow Us

वीडियो

पड़ताल: क्या सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है?

पंजाब सरकार में हुए नेतृत्व परिवर्तन के बाद नए CM बने हैं चरणजीत सिंह चन्नी. चन्नी कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थे. पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी  अनुसूचित जाति से आते हैं. ऐसे में विपक्षियों ने उनकी  नियुक्ति को दलित वोटर्स को लुभाने का पैंतरा बताया है. पर सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे भी लोग हैं जो मुख्यमंत्री चन्नी के ईसाई होने का दावा कर रहे हैं. इनका कहना है कि कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है?

पंजाब सरकार में हुए नेतृत्व परिवर्तन के बाद नए CM बने हैं चरणजीत सिंह चन्नी. चन्नी कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थे. पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी  अनुसूचित जाति से आते हैं. ऐसे में विपक्षियों ने उनकी  नियुक्ति को दलित वोटर्स को लुभाने का पैंतरा बताया है. पर सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे भी लोग हैं जो मुख्यमंत्री चन्नी के ईसाई होने का दावा कर रहे हैं. इनका कहना है कि कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दलित के नाम पर एक ईसाई को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: लालबागचा राजा का जो वीडियो अमिताभ बच्चन ने पोस्ट किया, वो क्या 2021 का है?

महाराष्ट्र समेत पूरे देश में इन दिनों गणेश उत्सव की धूम है. बीते साल यानी 2020 में कोविड सुरक्षा उपायों के चलते गणेश उत्सव की चमक फीकी रही थी. खासतौर पर मुंबई में. इस बार भक्तों को उम्मीद थी कि बप्पा के दर्शन पंडालों में हो पाएंगे. पर महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में धारा-144 लगा दी है यानी 5 या उससे ज्यादा लोगों के एक जगह इकट्ठे होने पर पाबंदी लगा दी है. बप्पा के दर्शन करने की चाह रखने वालों को ऑनलाइन ही दर्शन करने होंगे. बड़े पंडालों ने इसके लिए ज़रूरी इंतज़ाम किए हैं. इस बीच गणेश उत्सव से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वायरल हो रहे वीडियो को मुंबई के गणेश उत्सव मशहूर लालबागचा राजा गणपति पंडाल का बताया जा रहा है. दावा है कि ये इस साल यानी 2021 के पहले दर्शन का वीडियो है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: लालबागचा राजा का जो वीडियो अमिताभ बच्चन ने पोस्ट किया, वो क्या 2021 का है?

महाराष्ट्र समेत पूरे देश में इन दिनों गणेश उत्सव की धूम है. बीते साल यानी 2020 में कोविड सुरक्षा उपायों के चलते गणेश उत्सव की चमक फीकी रही थी. खासतौर पर मुंबई में. इस बार भक्तों को उम्मीद थी कि बप्पा के दर्शन पंडालों में हो पाएंगे. पर महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में धारा-144 लगा दी है यानी 5 या उससे ज्यादा लोगों के एक जगह इकट्ठे होने पर पाबंदी लगा दी है. बप्पा के दर्शन करने की चाह रखने वालों को ऑनलाइन ही दर्शन करने होंगे. बड़े पंडालों ने इसके लिए ज़रूरी इंतज़ाम किए हैं. इस बीच गणेश उत्सव से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वायरल हो रहे वीडियो को मुंबई के गणेश उत्सव मशहूर लालबागचा राजा गणपति पंडाल का बताया जा रहा है. दावा है कि ये इस साल यानी 2021 के पहले दर्शन का वीडियो है. हमने इस दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या सड़क-रोटी की जगह राम मंदिर मांगने वाले की ऑक्सीजन की कमी से मौत हो गयी ?

स्कूपव्हूप की एक वीडियो वायरल हुई थी जिसमें एक शख्श रोटी, सड़क की जगह राम मंदिर बनने की मांग की थी. अब सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल है जिसके मुताबिक़ इस शख्श की ऑक्सीजन की कमी के चलते मौत हो गई. दी लल्लनटॉप ने जब इस वायरल दावे की पड़ताल की तो सच कुछ और ही निकला. देखिए वीडियो.

पड़ताल: क्या सड़क-रोटी की जगह राम मंदिर मांगने वाले की ऑक्सीजन की कमी से मौत हो गयी ?

स्कूपव्हूप की एक वीडियो वायरल हुई थी जिसमें एक शख्श रोटी, सड़क की जगह राम मंदिर बनने की मांग की थी. अब सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल है जिसके मुताबिक़ इस शख्श की ऑक्सीजन की कमी के चलते मौत हो गई. दी लल्लनटॉप ने जब इस वायरल दावे की पड़ताल की तो सच कुछ और ही निकला. देखिए वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या 5जी रेडियेशन के कारण हर चीज छूने से महसूस हो रहा करंट?

वॉट्सऐप, फेसबुक समेत हर बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर करंट लगने की घटनाओं का ज़िक्र मिल रहा है. यूज़र्स कह रहे हैं कि किसी इंसान या वस्तु को छूने पर करंट लगने की घटनाएं बढ़ी हैं.  कहीं इसके पीछे 5G रेडिएशन को ज़िम्मेदार बताया जा रहा है तो कहीं मौसम में बदलाव को. कुछ लोग सवाल पूछने के इरादे से, तो कुछ 5G को वजह बताते दावों पर भरोसा करने बाद करंट लगने से जुड़ी बातें सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं. दी लल्लनटॉप ने दावे की विस्तार से पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या 5जी रेडियेशन के कारण हर चीज छूने से महसूस हो रहा करंट?

वॉट्सऐप, फेसबुक समेत हर बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर करंट लगने की घटनाओं का ज़िक्र मिल रहा है. यूज़र्स कह रहे हैं कि किसी इंसान या वस्तु को छूने पर करंट लगने की घटनाएं बढ़ी हैं.  कहीं इसके पीछे 5G रेडिएशन को ज़िम्मेदार बताया जा रहा है तो कहीं मौसम में बदलाव को. कुछ लोग सवाल पूछने के इरादे से, तो कुछ 5G को वजह बताते दावों पर भरोसा करने बाद करंट लगने से जुड़ी बातें सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं. दी लल्लनटॉप ने दावे की विस्तार से पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: गुजरात में आतंकी पकड़े जाने के नाम पर वायरल वीडियो का सच कुछ और है

सोशल मीडिया पर 3 मिनट 23 सेकेंड का एक वीडियो दिखाकर दावा किया जा रहा है कि गुजरात के दाहोद रेलवे स्टेशन से आतंकियों को पकड़ा गया है. वीडियो एक रेलवे स्टेशन का है. वीडियो में 2 मिनट 30 सेकेंड के मार्क पर RPF post Dahod लिखा दिखाता है. वीडियो के आखिरी हिस्से में पुलिस कर्मी दो लोगों को लॉक-अप में बंद करते दिखते हैं. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल वीडियो की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो

पड़ताल: गुजरात में आतंकी पकड़े जाने के नाम पर वायरल वीडियो का सच कुछ और है

सोशल मीडिया पर 3 मिनट 23 सेकेंड का एक वीडियो दिखाकर दावा किया जा रहा है कि गुजरात के दाहोद रेलवे स्टेशन से आतंकियों को पकड़ा गया है. वीडियो एक रेलवे स्टेशन का है. वीडियो में 2 मिनट 30 सेकेंड के मार्क पर RPF post Dahod लिखा दिखाता है. वीडियो के आखिरी हिस्से में पुलिस कर्मी दो लोगों को लॉक-अप में बंद करते दिखते हैं. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल वीडियो की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो

वीडियो

पड़ताल: क्या उत्तराखंड के जसपुर की एक दरगाह में हिंदुओं को मुस्लिमों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा?

सोशल मीडिया पर उत्तराखंड के जसपुर में दो गुटों के बीच हुई लड़ाई का वीडियो वायरल हो रहा है. दावा किया जा रहा है कि जसपुर की एक दरगाह में गए हिंदुओं को मुस्लिमों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है. हमने इस वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या उत्तराखंड के जसपुर की एक दरगाह में हिंदुओं को मुस्लिमों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा?

सोशल मीडिया पर उत्तराखंड के जसपुर में दो गुटों के बीच हुई लड़ाई का वीडियो वायरल हो रहा है. दावा किया जा रहा है कि जसपुर की एक दरगाह में गए हिंदुओं को मुस्लिमों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है. हमने इस वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या IMF की रिपोर्ट के मुताबिक, 2025 तक भारत बांग्लादेश से ज्यादा गरीब हो जाएगा?

सोशल मीडिया पर एक पोस्टर वायरल हो रहा है. वायरल पोस्टर में लिखा है- “IMF द्वारा एक और दिल दहला देने वाली रिपोर्ट. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष की ताजा आर्थिक रिपोर्ट के अनुसार 2025 तक भारत बांग्लादेश से ज्यादा गरीब हो जाएगा. अभूतपूर्व रूप से चिंताजनक हालात. देश का भविष्य दांव पर लगा दिया है मोदी ने. भारत अब नहीं रहा एक विकासशील देश.” ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल मेसेज की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

पड़ताल: क्या IMF की रिपोर्ट के मुताबिक, 2025 तक भारत बांग्लादेश से ज्यादा गरीब हो जाएगा?

सोशल मीडिया पर एक पोस्टर वायरल हो रहा है. वायरल पोस्टर में लिखा है- “IMF द्वारा एक और दिल दहला देने वाली रिपोर्ट. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष की ताजा आर्थिक रिपोर्ट के अनुसार 2025 तक भारत बांग्लादेश से ज्यादा गरीब हो जाएगा. अभूतपूर्व रूप से चिंताजनक हालात. देश का भविष्य दांव पर लगा दिया है मोदी ने. भारत अब नहीं रहा एक विकासशील देश.” ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल मेसेज की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

वीडियो

पड़ताल: क्या तिरुपति बालाजी मंदिर समिति के अध्यक्ष ईसाई हैं?

सोशल मीडिया पर आंध्र प्रदेश स्थित प्रसिद्ध हिंदू मंदिर तिरुपति बालाजी और मुंबई स्थित सिद्धि विनायक मंदिर से जुड़ा दावा वायरल है. दावा किया जा रहा है कि तिरुपति बालाजी मंदिर समिति के अध्यक्ष चंद्रशेखर रेड्डी ईसाई हैं और सिद्धि विनायक मंदिर के ट्रस्टी सलीम मुस्लिम हैं. इसका हवाला देते हुए किसी हिंदू को हाजी अली का ट्रस्टी बनाने की मांग भी की जा रही है.‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

 

पड़ताल: क्या तिरुपति बालाजी मंदिर समिति के अध्यक्ष ईसाई हैं?

सोशल मीडिया पर आंध्र प्रदेश स्थित प्रसिद्ध हिंदू मंदिर तिरुपति बालाजी और मुंबई स्थित सिद्धि विनायक मंदिर से जुड़ा दावा वायरल है. दावा किया जा रहा है कि तिरुपति बालाजी मंदिर समिति के अध्यक्ष चंद्रशेखर रेड्डी ईसाई हैं और सिद्धि विनायक मंदिर के ट्रस्टी सलीम मुस्लिम हैं. इसका हवाला देते हुए किसी हिंदू को हाजी अली का ट्रस्टी बनाने की मांग भी की जा रही है.‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

 
वीडियो

पड़ताल: क्या फ़ारुख अब्दुल्ला के शिवलिंग पर दूध चढ़ाने वाली फोटो महाशिवरात्रि की है?

जम्मू एंड कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फ़ारुख अब्दुल्ला की सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल है. वायरल तस्वीर में फ़ारुख किसी हिंदू मंदिर में दूध चढ़ाते नज़र आ रहे हैं. सोशल मीडिया यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि ये तस्वीर महाशिवरात्रि के दिन की है. यूजर्स फ़ारुख पर तंज कसते हुए इसे अनुच्छेद 370 और वैक्सीन का साइड इफेक्ट बता रहे हैं. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल तस्वीर की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

 

पड़ताल: क्या फ़ारुख अब्दुल्ला के शिवलिंग पर दूध चढ़ाने वाली फोटो महाशिवरात्रि की है?

जम्मू एंड कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फ़ारुख अब्दुल्ला की सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल है. वायरल तस्वीर में फ़ारुख किसी हिंदू मंदिर में दूध चढ़ाते नज़र आ रहे हैं. सोशल मीडिया यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि ये तस्वीर महाशिवरात्रि के दिन की है. यूजर्स फ़ारुख पर तंज कसते हुए इसे अनुच्छेद 370 और वैक्सीन का साइड इफेक्ट बता रहे हैं. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल तस्वीर की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

 
वीडियो

पड़ताल: क्या जम्मू में रोहिंग्या हिंदू और हिंदुस्तान को मिटाने की बात कह रहे हैं?

जम्मू में 6 मार्च 2021 को सैकड़ों रोहिंग्याओं का डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया गया. मौलाना आज़ाद स्टेडियम में हुए इस वेरिफिकेशन में 155 लोग कोई भी डॉक्यूमेंट नहीं दिखा सके. इन सभी लोगों को हीरानगर स्थित होल्डिंग सेंटर भेज दिया गया. अब इसी कार्रवाई के बाद सोशल मीडिया पर एक शख़्स का वीडियो वायरल है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल वीडियो की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए वीडियो.

पड़ताल: क्या जम्मू में रोहिंग्या हिंदू और हिंदुस्तान को मिटाने की बात कह रहे हैं?

जम्मू में 6 मार्च 2021 को सैकड़ों रोहिंग्याओं का डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया गया. मौलाना आज़ाद स्टेडियम में हुए इस वेरिफिकेशन में 155 लोग कोई भी डॉक्यूमेंट नहीं दिखा सके. इन सभी लोगों को हीरानगर स्थित होल्डिंग सेंटर भेज दिया गया. अब इसी कार्रवाई के बाद सोशल मीडिया पर एक शख़्स का वीडियो वायरल है. ‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल वीडियो की पड़ताल की. नतीजा क्या निकला, जानने के लिए देखिए वीडियो.