Submit your post

Follow Us

न्यूज़

पूर्व PM मनमोहन सिंह कोरोना पॉजिटिव, AIIMS में भर्ती

वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके थे.

पूर्व PM मनमोहन सिंह कोरोना पॉजिटिव, AIIMS में भर्ती

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह कोरोना संक्रमित हो गए हैं. उन्हें इलाज के लिए दिल्ली AIIMS में भर्ती कराया गया है. मनमोहन सिंह कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके थे. उन्हें स्वदेशी कोवैक्सिन की पहली डोज 3 मार्च और बूस्टर डोज 4 अप्रैल को दी गई थी.  इस लिहाज से वे दूसरे डोज के … और पढ़ें पूर्व PM मनमोहन सिंह कोरोना पॉजिटिव, AIIMS में भर्ती

भैरंट

ये ऐप आपके क़रीबी कोरोना टेस्टिंग सेंटर, वैक्सीन सेंटर और इलाज की जगह ढूंढकर बताता है

मैप माई इंडिया के कोरोनावायरस फीचर के बारे में जान लीजिए

ये ऐप आपके क़रीबी कोरोना टेस्टिंग सेंटर, वैक्सीन सेंटर और इलाज की जगह ढूंढकर बताता है

देश में कोरोनावायरस का संक्रमण एक बार फ़िर से बहुत तेज़ रफ़्तार में चल पड़ा है. ऐसे में बहुत सारे लोग टेस्टिंग सेंटर और वैक्सीन मिलने वाली जगह के बारे में पता कर रहे हैं. इस काम में आपकी मदद करने के लिए कई सारे ऐप मौजूद हैं, जिनमें से एक MapMyIndia का Move ऐप … और पढ़ें ये ऐप आपके क़रीबी कोरोना टेस्टिंग सेंटर, वैक्सीन सेंटर और इलाज की जगह ढूंढकर बताता है

वीडियो

प्रेग्नेंट औरतें होने वाले बच्चे को कोरोना से कैसे बचाएं?

दी ऑडनारी शो के आज के एपिसोड में देखिए:-

01. प्रेगनेंट औरतों और नवजात बच्चों पर कोरोना किस तरह असर कर रहा है? 02. क्या कोरोना पॉज़िटिव प्रेगनेंट महिला से वायरस पेट में पल रहे बच्चे तक पहुंच सकता है? 03. क्या वाकई प्रेगनेंट औरतों पर ज्यादा खतरा मंडरा रहा है?

ऑडनारी शो का पिछला एपिसोड देखने के लिए यहां क्लिक करें

प्रेग्नेंट औरतें होने वाले बच्चे को कोरोना से कैसे बचाएं?

दी ऑडनारी शो के आज के एपिसोड में देखिए:-

01. प्रेगनेंट औरतों और नवजात बच्चों पर कोरोना किस तरह असर कर रहा है? 02. क्या कोरोना पॉज़िटिव प्रेगनेंट महिला से वायरस पेट में पल रहे बच्चे तक पहुंच सकता है? 03. क्या वाकई प्रेगनेंट औरतों पर ज्यादा खतरा मंडरा रहा है?

ऑडनारी शो का पिछला एपिसोड देखने के लिए यहां क्लिक करें

वीडियो

कोरोना के बीच के इन दो डॉक्टरों की हो रही तारीफ, मां के निधन के बावजूद ड्यूटी नहीं छोड़ी

गुजरात के वड़ोदरा में 2 डाॅक्टरों ने कोरोना काल में अपनी निजी और अपूरणीय क्षति के बावजूद अपनी ड्यूटी के साथ कोई समझौता न कर सेवा भावना की एक मिसाल पेश की है. ये दोनों डाॅक्टर वड़ोदरा के सयाजी अस्पताल में अपनी ड्यूटी दे रहे हैं. दोनों डॉक्टरों की मां का देहांत हो गया है. लेकिन इन दोनों अंतिम संस्कार की रस्मों को पूरा कर वापस अस्पताल में मरीजों की सेवा करने में लगे हैं. देखिए वीडियो.

कोरोना के बीच के इन दो डॉक्टरों की हो रही तारीफ, मां के निधन के बावजूद ड्यूटी नहीं छोड़ी

गुजरात के वड़ोदरा में 2 डाॅक्टरों ने कोरोना काल में अपनी निजी और अपूरणीय क्षति के बावजूद अपनी ड्यूटी के साथ कोई समझौता न कर सेवा भावना की एक मिसाल पेश की है. ये दोनों डाॅक्टर वड़ोदरा के सयाजी अस्पताल में अपनी ड्यूटी दे रहे हैं. दोनों डॉक्टरों की मां का देहांत हो गया है. लेकिन इन दोनों अंतिम संस्कार की रस्मों को पूरा कर वापस अस्पताल में मरीजों की सेवा करने में लगे हैं. देखिए वीडियो.

भैरंट

हवा में फैल रहे कोरोना वायरस से कौन सा मास्क आपको बचा सकता है?

कैसे लगाएं मास्क और कितने दिन में बदलें, ये जानना भी जरूरी है.

हवा में फैल रहे कोरोना वायरस से कौन सा मास्क आपको बचा सकता है?

कोरोना वायरस (Corona Virus) की दूसरी लहर पूरे देश में तबाही मचा रही है. इस बीच एक नई स्टडी सामने आई है. इसमें बताया गया है कि कोरोना वायरस का संक्रमण मुख्य तौर पर हवा के जरिए फैल रहा है. ऐसा बताया जा रहा है कि सिर्फ संक्रमित व्यक्ति के छींकने-खांसने से ही नहीं,  बल्कि सांस लेने और … और पढ़ें हवा में फैल रहे कोरोना वायरस से कौन सा मास्क आपको बचा सकता है?

वीडियो

दुनियादारी: कोरोना वैक्सीन के कच्चे माल पर अमेरिका कुंडली जमाकर क्यों बैठा?

इंटरनैशनल ख़बरों का डेली बुलेटिन - दुनियादारी. अमेरिका ने कोरोना महामारी की शुरुआत में डिफ़ेंस प्रोडक्शन ऐक्ट लगाकर वैक्सीन प्रोडक्शन से जुड़े सामानों के निर्यात पर रोक लगा दी थी. जब जो बाइडन राष्ट्रपति बने, तब उम्मीद बढ़ी कि वो अमेरिका के साथ-साथ बाकी दुनिया का भी ख़्याल रखेंगे. लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. बाइडन ने प्रतिबंधों को बरकरार रखा. उन्होंने डिफ़ेंस प्रोडक्शन ऐक्ट को और भी संकुचित बना दिया. देखिए वीडियो.

दुनियादारी: कोरोना वैक्सीन के कच्चे माल पर अमेरिका कुंडली जमाकर क्यों बैठा?

इंटरनैशनल ख़बरों का डेली बुलेटिन - दुनियादारी. अमेरिका ने कोरोना महामारी की शुरुआत में डिफ़ेंस प्रोडक्शन ऐक्ट लगाकर वैक्सीन प्रोडक्शन से जुड़े सामानों के निर्यात पर रोक लगा दी थी. जब जो बाइडन राष्ट्रपति बने, तब उम्मीद बढ़ी कि वो अमेरिका के साथ-साथ बाकी दुनिया का भी ख़्याल रखेंगे. लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. बाइडन ने प्रतिबंधों को बरकरार रखा. उन्होंने डिफ़ेंस प्रोडक्शन ऐक्ट को और भी संकुचित बना दिया. देखिए वीडियो.

भैरंट

कोरोना संकट की दूसरी लहर से पार पाने के लिए सरकारें क्या कर रही हैं?

राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री कितने एक्टिव हैं.

कोरोना संकट की दूसरी लहर से पार पाने के लिए सरकारें क्या कर रही हैं?

भारत में कोरोना के मामले हर दिन डरा रहे हैं. पिछले 24 घंटे के दौरान देशभर से 2 लाख 73 हज़ार से ज्यादा नए केस आए हैं. इस दौरान 1619 लोगों की मौत हुई है. पिछले 12 दिनों में पॉजिटिविटी रेट दोगुना हो गया है. राज्य सरकारों ने अपने-अपने स्तर पर कई जरूरी कदम उठाए हैं, … और पढ़ें कोरोना संकट की दूसरी लहर से पार पाने के लिए सरकारें क्या कर रही हैं?

भैरंट

रेमडेसिविर कोरोना की दवाई नहीं है, फिर मरीज़ों पर क्यों हो रहा इसका इस्तेमाल?

रेमडेसिविर पर हजारों रुपये खर्च करने से पहले ये बातें जानना जरूरी है.

रेमडेसिविर कोरोना की दवाई नहीं है, फिर मरीज़ों पर क्यों हो रहा इसका इस्तेमाल?

हमारा देश इस समय हेल्थ इमरजेंसी से जूझ रहा है. कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण की दूसरी लहर ने पूरे देश को अपनी जद में ले लिया है. बहुत से राज्यों और शहरों में हालात बद से बदतर हो गए हैं. पूरे देश में हर दिन लाखों मामले सामने आ रहे हैं. वहीं हजारों लोगों की मौत … और पढ़ें रेमडेसिविर कोरोना की दवाई नहीं है, फिर मरीज़ों पर क्यों हो रहा इसका इस्तेमाल?

न्यूज़

एक मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को लगेगी कोरोना की वैक्सीन

केंद्र सरकार ने दी इजाजत.

एक मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को लगेगी कोरोना की वैक्सीन

देश में कोरोना वायरस से बढ़ते संक्रमण के मामलों के बीच वैक्सीन को लेकर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. 1 मई से वैक्सीनेशन के तीसरा फ़ेज़ शुरुआत होगी. केंद्र सरकार ने 1 मई से 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को कोरोना वायरस वैक्सीन लगवाने की इजाज़त दे दी है. इस दौरान 45 साल … और पढ़ें एक मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को लगेगी कोरोना की वैक्सीन

न्यूज़

रेमडेसिविर, प्लाज़्मा थैरेपी के लिए हलकान हैं तो AIIMS निदेशक की ये बात भी सुन लीजिए

जानिए कोविड में सबसे कारगर क्या है!

रेमडेसिविर, प्लाज़्मा थैरेपी के लिए हलकान हैं तो AIIMS निदेशक की ये बात भी सुन लीजिए

इस वक़्त सिर्फ़ एक चीज़ है जो ख़बर में है. कोरोना की दूसरी लहर. 18 अप्रैल, 2021 को Covid-19 के देशभर में पौने तीन लाख के क़रीब मामले आए. महामारी के इस मुश्किल वक्त में कुछ चीज़ों की मांग लगातार बनी हुई है. जैसे: हॉस्पिटल बेड्स, ऑक्सिजन सिलेंडर और रेमडिसिविर. कोरोना की ये दूसरी लहर पहली … और पढ़ें रेमडेसिविर, प्लाज़्मा थैरेपी के लिए हलकान हैं तो AIIMS निदेशक की ये बात भी सुन लीजिए