Submit your post

Follow Us

चुनाव

संघ के इन 4 चेहरों ने पर्दे के पीछे रहकर BJP को बिहार जिता दिया

कौन हैं भवानी सिंह जिन्होंने मिथिला जिता के एनडीए को बिहार जिता दिया?

संघ के इन 4 चेहरों ने पर्दे के पीछे रहकर BJP को बिहार जिता दिया

बिहार चुनाव के नतीजे आ चुके हैं और एनडीए बहुमत के आंकड़े को पार कर गई है. सभी एग्जिट पोल्स को ठेंगा दिखाते हुए भाजपा को 74, जदयू को 43, वीआईपी को 4 और हम को 4 सीटें मिली हैं. पर कहानी सिर्फ इतनी सी नहीं है. इस जीत के पीछे कई ऐसे चेहरे हैं … और पढ़ें संघ के इन 4 चेहरों ने पर्दे के पीछे रहकर BJP को बिहार जिता दिया

वीडियो

बिहार चुनाव: कांग्रेस या बीजेपी, किसके प्रत्याशी नरकटियागंज सीट से जीते?

पश्चिम चंपारण के नरकटियागंज सीट से बीजेपी की रश्मि वर्मा 75,345 वोट पाकर जीत गईं. वहीं, कांग्रेस के विनय वर्मा 53,826 वोट पाकर हार गए. बता दें कि 2015 में कांग्रेस के विनय वर्मा ने बीजेपी की रेणु देवी को 16,061 वोट से हराया था. विनय वर्मा को 57,212 वोट और रेणु देवी को 41,151 वोट मिले थे. 2010 में बीजेपी के सतीश चंद्र दुबे ने कांग्रेस के आलोक प्रसाद वर्मा को 20,228 वोट से हराया था. सतीश चंद्रा को 45,022 वोट और आलोक प्रसाद को 24,794 वोट मिले थे. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: कांग्रेस या बीजेपी, किसके प्रत्याशी नरकटियागंज सीट से जीते?

पश्चिम चंपारण के नरकटियागंज सीट से बीजेपी की रश्मि वर्मा 75,345 वोट पाकर जीत गईं. वहीं, कांग्रेस के विनय वर्मा 53,826 वोट पाकर हार गए. बता दें कि 2015 में कांग्रेस के विनय वर्मा ने बीजेपी की रेणु देवी को 16,061 वोट से हराया था. विनय वर्मा को 57,212 वोट और रेणु देवी को 41,151 वोट मिले थे. 2010 में बीजेपी के सतीश चंद्र दुबे ने कांग्रेस के आलोक प्रसाद वर्मा को 20,228 वोट से हराया था. सतीश चंद्रा को 45,022 वोट और आलोक प्रसाद को 24,794 वोट मिले थे. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बिहार चुनाव: नीतीश कुमार CM होंगे या नहीं, BJP नेताओं ने खुद बताई अंदर की बात

बिहार चुनाव में NDA को बहुमत के बाद जो सवाल सबसे ज्यादा हवा में तैर रहा है, वो ये कि सीएम की कुर्सी पर नीतीश कुमार ही बैठेंगे या बीजेपी ऐन वक्त पर किसी और को गद्दी सौंप सकती है? बीजेपी के अंदर से ही इस आग को हवा मिली. नीतीश के राजनीतिक भविष्य को लेकर ये सवाल इसलिए भी उठा क्योंकि पिछले करीब 25 साल से एनडीए में नीतीश कुमार की भूमिका बड़े भाई की रही है. इस चुनाव में जनता दल यूनाइटेड की 43 सीटों के मुकाबले 74 सीटें जीतकर बीजेपी बड़े भाई की भूमिका में आ चुकी है. अब इस सवाल पर धुंध छंटती दिख रही है. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: नीतीश कुमार CM होंगे या नहीं, BJP नेताओं ने खुद बताई अंदर की बात

बिहार चुनाव में NDA को बहुमत के बाद जो सवाल सबसे ज्यादा हवा में तैर रहा है, वो ये कि सीएम की कुर्सी पर नीतीश कुमार ही बैठेंगे या बीजेपी ऐन वक्त पर किसी और को गद्दी सौंप सकती है? बीजेपी के अंदर से ही इस आग को हवा मिली. नीतीश के राजनीतिक भविष्य को लेकर ये सवाल इसलिए भी उठा क्योंकि पिछले करीब 25 साल से एनडीए में नीतीश कुमार की भूमिका बड़े भाई की रही है. इस चुनाव में जनता दल यूनाइटेड की 43 सीटों के मुकाबले 74 सीटें जीतकर बीजेपी बड़े भाई की भूमिका में आ चुकी है. अब इस सवाल पर धुंध छंटती दिख रही है. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बिहार चुनाव: चार बार से विधायक रहे बोगो सिंह ने सोचा न होगा कि नतीजे ऐसे भी आ सकते हैं

बेगुसराय के मटिहानी विधानसभा सीट से एलजेपी के राजकुमार सिंह 61364 पाकर जीत दर्ज की. वहीं, जेडीयू के नरेंद्र कुमार सिंह उर्फ बोगो सिंह 61031 पाकर और सीपीआईएम के राजेंद्र प्रसाद सिंह 60599 वोट पाकर हार गए. 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU ने बोगो सिंह को ही उतारा था. BJP ने सर्वेश कुमार को, CPI ने शोभा देवी को. पलड़ा JDU का भारी रहा. बोगो सिंह को 89292 वोट मिले, सर्वेश कुमार को 66605, भोभा देवी को 11232. बोगो ने 22687 वोटों से जीत हासिल की. 2010 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU और BJP साथ थे, NDA के तहत. इस चुनाव में मटिहानी सीट से JDU ने बोगो सिंह को, कांग्रेस ने अभय कुमार सर्जन, LJP ने विद्या रानी को उतारा था. बोगो को 60440 वोट मिले, अभय कुमार को 36601 और विद्या रानी को 13387 वोट मिले. बोगो 23839 वोटों से जीते. देखिए वीडियो.

बिहार चुनाव: चार बार से विधायक रहे बोगो सिंह ने सोचा न होगा कि नतीजे ऐसे भी आ सकते हैं

बेगुसराय के मटिहानी विधानसभा सीट से एलजेपी के राजकुमार सिंह 61364 पाकर जीत दर्ज की. वहीं, जेडीयू के नरेंद्र कुमार सिंह उर्फ बोगो सिंह 61031 पाकर और सीपीआईएम के राजेंद्र प्रसाद सिंह 60599 वोट पाकर हार गए. 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU ने बोगो सिंह को ही उतारा था. BJP ने सर्वेश कुमार को, CPI ने शोभा देवी को. पलड़ा JDU का भारी रहा. बोगो सिंह को 89292 वोट मिले, सर्वेश कुमार को 66605, भोभा देवी को 11232. बोगो ने 22687 वोटों से जीत हासिल की. 2010 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU और BJP साथ थे, NDA के तहत. इस चुनाव में मटिहानी सीट से JDU ने बोगो सिंह को, कांग्रेस ने अभय कुमार सर्जन, LJP ने विद्या रानी को उतारा था. बोगो को 60440 वोट मिले, अभय कुमार को 36601 और विद्या रानी को 13387 वोट मिले. बोगो 23839 वोटों से जीते. देखिए वीडियो.

वीडियो

बिहार चुनाव: RJD, JDU या LJP किसके हाथ आई हथुआ सीट?

गोपालगंज की हथुआ सीट से आरजेडी के राजेश सिंह कुशवाहा ने 86731 वोट पाकर जीत दर्ज की. वहीं, जेडीयू के राम सेवक सिंह 56204 वोट पाकर और एलजेपी की मुन्ना किन्नरउर्फ राम दर्शन प्रसाद 9894 वोट पाकर हार गईं. 2015 में जेडीयू के रामसेवक सिंह ने जीत हासिल की थी. जीतनराम मांझी की पार्टी ‘हम’ के उम्मीदवार महाचंद्र सिंह को 22,984 वोटों से हराया था. रामसेवक सिंह को 57,917 वोट मिले थे, जबकि महाचंद्र सिंह के हिस्से 34,933 वोट आए थे. और 2010 में जेडीयू के रामसेवक सिंह ने जीत हासिल की थी. सिंह ने आरजेडी उम्मीदवार राजेश कुमार सिंह को 22,847 वोटों से हरा दिया था. रामसेवक सिंह को 50,708 वोट मिले थे, जबकि राजेश कुमार सिंह ने 27,861 वोट हासिल किए थे. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: RJD, JDU या LJP किसके हाथ आई हथुआ सीट?

गोपालगंज की हथुआ सीट से आरजेडी के राजेश सिंह कुशवाहा ने 86731 वोट पाकर जीत दर्ज की. वहीं, जेडीयू के राम सेवक सिंह 56204 वोट पाकर और एलजेपी की मुन्ना किन्नरउर्फ राम दर्शन प्रसाद 9894 वोट पाकर हार गईं. 2015 में जेडीयू के रामसेवक सिंह ने जीत हासिल की थी. जीतनराम मांझी की पार्टी ‘हम’ के उम्मीदवार महाचंद्र सिंह को 22,984 वोटों से हराया था. रामसेवक सिंह को 57,917 वोट मिले थे, जबकि महाचंद्र सिंह के हिस्से 34,933 वोट आए थे. और 2010 में जेडीयू के रामसेवक सिंह ने जीत हासिल की थी. सिंह ने आरजेडी उम्मीदवार राजेश कुमार सिंह को 22,847 वोटों से हरा दिया था. रामसेवक सिंह को 50,708 वोट मिले थे, जबकि राजेश कुमार सिंह ने 27,861 वोट हासिल किए थे. देखिए वीडियो.

 

वीडियो

बिहार चुनाव: मुज़फ्फरपुर शेल्टर केस से चर्चा में आईं मंजू वर्मा नतीजे देखकर चकरा जाएंगी

चेरिया बरियारपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहीं पूर्व मंत्री मंजू वर्मा हार गई हैं. मुजफ्फपुर बालिका गृह कांड से मंजू चर्चा में आई थीं. उनको आरजेडी के राशवंशी महतो ने हराया.  2015 में जेडीयू की कुमारी मंजू वर्मा को 69,795 वोट मिले थे. दूसरे स्थान पर रहे थे लोकजनशक्ति पार्टी के अनिल कुमार चौधरी जिनको 40,059 वोट मिले थे. हार-जीत का अंतर 29736 वोटों का रहा था.2010 में भी जेडीयू की कुमारी मंजू वर्मा यहां से विजेता रही थीं और उन्होंने 32,807 वोट हासिल किए थे. जबकि दूसरे स्थान पर रहे लोकजनशक्ति पार्टी के अनिल कुमार चौधरी को 31,746 वोट मिले थे. हार-जीत का अंतर 1061 रहा था. देखिए वीडियो.

बिहार चुनाव: मुज़फ्फरपुर शेल्टर केस से चर्चा में आईं मंजू वर्मा नतीजे देखकर चकरा जाएंगी

चेरिया बरियारपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहीं पूर्व मंत्री मंजू वर्मा हार गई हैं. मुजफ्फपुर बालिका गृह कांड से मंजू चर्चा में आई थीं. उनको आरजेडी के राशवंशी महतो ने हराया.  2015 में जेडीयू की कुमारी मंजू वर्मा को 69,795 वोट मिले थे. दूसरे स्थान पर रहे थे लोकजनशक्ति पार्टी के अनिल कुमार चौधरी जिनको 40,059 वोट मिले थे. हार-जीत का अंतर 29736 वोटों का रहा था.2010 में भी जेडीयू की कुमारी मंजू वर्मा यहां से विजेता रही थीं और उन्होंने 32,807 वोट हासिल किए थे. जबकि दूसरे स्थान पर रहे लोकजनशक्ति पार्टी के अनिल कुमार चौधरी को 31,746 वोट मिले थे. हार-जीत का अंतर 1061 रहा था. देखिए वीडियो.

वीडियो

बिहार चुनाव: DSP और दारोगा रहे कैंडिडेट्स का क्या हुआ?

खाकी छोड़ खादी पहनने वाले नेताओं की एक लंबी फेहरिस्त रही है. बिहार के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस यानी DGP गुप्तेश्वर पांडे ने जब वॉलंटरी रिटायरमेंट लिया तो कहा गया कि वो चुनाव लड़ेंगे. नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू में शामिल भी हुए, लेकिन चुनाव नहीं लड़ पाए. हालांकि इस बार के बिहार विधानसभा चुनाव में दो नेता ऐसे हैं जिन्होंने खाकी छोड़कर खादी अपनाई. ये हैं नरपतगंज सीट से निर्दलीय प्रत्याशी अखिलेश कुमार जो डीएसपी रह चुके हैं. और दूसरे हैं राजगीर सुरक्षित सीट से कांग्रेस कैंडिडेट रवि ज्योति कुमार. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: DSP और दारोगा रहे कैंडिडेट्स का क्या हुआ?

खाकी छोड़ खादी पहनने वाले नेताओं की एक लंबी फेहरिस्त रही है. बिहार के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस यानी DGP गुप्तेश्वर पांडे ने जब वॉलंटरी रिटायरमेंट लिया तो कहा गया कि वो चुनाव लड़ेंगे. नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू में शामिल भी हुए, लेकिन चुनाव नहीं लड़ पाए. हालांकि इस बार के बिहार विधानसभा चुनाव में दो नेता ऐसे हैं जिन्होंने खाकी छोड़कर खादी अपनाई. ये हैं नरपतगंज सीट से निर्दलीय प्रत्याशी अखिलेश कुमार जो डीएसपी रह चुके हैं. और दूसरे हैं राजगीर सुरक्षित सीट से कांग्रेस कैंडिडेट रवि ज्योति कुमार. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बिहार चुनाव: सुपौल, आलमनगर, खेलगांव की सीट पर कौन-सी पार्टी ने जीत दर्ज की?

बिहार में NDA पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रहा है. 243 में से 125 सीटें जीतकर एनडीए ने बहुमत के लिए जरूरी 122 सीट के आंकड़े को पार कर लिया है. महागठबंधन को 110 सीट पर जीत मिली. अन्य के खाते में 8 सीटें गई हैं. आइए देखते हैं कि इस चुनाव में बिहार की राजनीति के बड़े सूरमाओं का क्या हाल रहा. ये वो लोग हैं, जो खुद कम से कम पांच बार चुनाव जीत चुके हैं, या उनके परिवार का उस सीट पर कम से कम पांच बार कब्जा रहा है. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: सुपौल, आलमनगर, खेलगांव की सीट पर कौन-सी पार्टी ने जीत दर्ज की?

बिहार में NDA पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रहा है. 243 में से 125 सीटें जीतकर एनडीए ने बहुमत के लिए जरूरी 122 सीट के आंकड़े को पार कर लिया है. महागठबंधन को 110 सीट पर जीत मिली. अन्य के खाते में 8 सीटें गई हैं. आइए देखते हैं कि इस चुनाव में बिहार की राजनीति के बड़े सूरमाओं का क्या हाल रहा. ये वो लोग हैं, जो खुद कम से कम पांच बार चुनाव जीत चुके हैं, या उनके परिवार का उस सीट पर कम से कम पांच बार कब्जा रहा है. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बिहार चुनाव: उन सीटों के नतीजे जानिए, जहां एक ही परिवार से दो लोग आपस में लड़े

राजनीति में कई ऐसे मौके आए हैं, जब एक ही परिवार के लोग अलग-अलग पार्टियों से चुनाव लड़े हैं. लेकिन ऐसा कम ही होता है, जब एक ही सीट पर एक ही परिवार के लोग आमने-सामने हों. बिहार में कुछ सीटें ऐसी हैं, जहां एक ही परिवार के लोग एक-दूसरे के खिलाफ इलेक्शन लड़ रहे हैं. आइए नजर डालते हैं परिवार की इस राजनीतिक महाभारत पर, सीटवार तरीके से नजर. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: उन सीटों के नतीजे जानिए, जहां एक ही परिवार से दो लोग आपस में लड़े

राजनीति में कई ऐसे मौके आए हैं, जब एक ही परिवार के लोग अलग-अलग पार्टियों से चुनाव लड़े हैं. लेकिन ऐसा कम ही होता है, जब एक ही सीट पर एक ही परिवार के लोग आमने-सामने हों. बिहार में कुछ सीटें ऐसी हैं, जहां एक ही परिवार के लोग एक-दूसरे के खिलाफ इलेक्शन लड़ रहे हैं. आइए नजर डालते हैं परिवार की इस राजनीतिक महाभारत पर, सीटवार तरीके से नजर. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बिहार चुनाव: जमुई सीट पर बड़े अंतर से जीतीं BJP की श्रेयसी सिंह

जमुई विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार श्रेयसी सिंह ने लगातार अपनी बढ़त बनाए रखी और आखिरकार बड़ी जीत दर्ज करने में सफल रहीं. मुख्य मुकाबला बीजेपी उम्मीदवार श्रेयसी सिंह और आरजेडी उम्मीदवार और विधायक विजय प्रकाश के बीच रहा. लोक अधिकार पार्टी के मोहम्मद शमशाद आलम और निर्दलीय अजय प्रताप सिंह ने मुकाबला और रोचक बना दिया. देखिए वीडियो.

       

बिहार चुनाव: जमुई सीट पर बड़े अंतर से जीतीं BJP की श्रेयसी सिंह

जमुई विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार श्रेयसी सिंह ने लगातार अपनी बढ़त बनाए रखी और आखिरकार बड़ी जीत दर्ज करने में सफल रहीं. मुख्य मुकाबला बीजेपी उम्मीदवार श्रेयसी सिंह और आरजेडी उम्मीदवार और विधायक विजय प्रकाश के बीच रहा. लोक अधिकार पार्टी के मोहम्मद शमशाद आलम और निर्दलीय अजय प्रताप सिंह ने मुकाबला और रोचक बना दिया. देखिए वीडियो.