Submit your post

Follow Us

न्यूज़

नीतीश की कैबिनेट में किसे कौन सा मंत्रालय मिला, लिस्ट आ गई है

उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी को कौन से अतिरिक्त मंत्रालय मिले?

नीतीश की कैबिनेट में किसे कौन सा मंत्रालय मिला, लिस्ट आ गई है

बिहार में 16 नवंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत 15 मंत्रियों ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) कोटे से सात, जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) से छह, विकासशील इंसान पार्टी (VIP) और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM) से एक-एक मंत्री बनाए गए हैं. अब इनके पोर्टफोलियो का आवंटन अगले आदेश तक हो … और पढ़ें नीतीश की कैबिनेट में किसे कौन सा मंत्रालय मिला, लिस्ट आ गई है

वीडियो

बिहार चुनाव: RSS के भेजे इन चार संगठन मंत्रियों में से एक ने RJD का गढ़ मिथिला कैसे छीना?

बिहार चुनाव के नतीजे आ चुके हैं और एनडीए बहुमत के आंकड़े को पार कर गई है. सभी एग्जिट पोल्स को ठेंगा दिखाते हुए भाजपा को 74, जदयू को 43, वीआईपी को 4 और हम को 4 सीटें मिली हैं. पर कहानी सिर्फ इतनी सी नहीं है. इस जीत के पीछे कई ऐसे चेहरे हैं जिनकी बात नहीं हो रही. हम ऐसे ही कुछ ऐसे चेहरों के बारे में बात करेंगे. जिन्होंने लगभग हारे से दिख रहे बिहार को एनडीए की झोली में डाल दिया. देखिए वीडियो.

बिहार चुनाव: RSS के भेजे इन चार संगठन मंत्रियों में से एक ने RJD का गढ़ मिथिला कैसे छीना?

बिहार चुनाव के नतीजे आ चुके हैं और एनडीए बहुमत के आंकड़े को पार कर गई है. सभी एग्जिट पोल्स को ठेंगा दिखाते हुए भाजपा को 74, जदयू को 43, वीआईपी को 4 और हम को 4 सीटें मिली हैं. पर कहानी सिर्फ इतनी सी नहीं है. इस जीत के पीछे कई ऐसे चेहरे हैं जिनकी बात नहीं हो रही. हम ऐसे ही कुछ ऐसे चेहरों के बारे में बात करेंगे. जिन्होंने लगभग हारे से दिख रहे बिहार को एनडीए की झोली में डाल दिया. देखिए वीडियो.

वीडियो

जानिए बिहार विधानसभा चुनाव में बड़े नेताओं की पत्नियां जीतीं या हारीं?

बिहार विधानसभा चुनाव में NDA ने पूर्ण बहुमत पाया है. 243 सीटों में 122 के आंकड़े को पार करते हुए 125 सीटें कब्जाई हैं. इस बार के चुनाव में कई ऐसी नेता भी मौजूद थीं, जो खुद तो राजनीति में हैं ही, इनके पति भी राजनीति में काफी नाम कमा चुके हैं. कुछ ऐसी कैंडिडेट भी देखने को मिलीं, जिन्होंने अपने पति की सीट पर चुनाव लड़ा या उनके नाम पर चुनाव लड़ा. इन कैंडिडेट्स का क्या हाल रहा इस चुनाव में, जानने के लिए देखिए वीडियो.

 

जानिए बिहार विधानसभा चुनाव में बड़े नेताओं की पत्नियां जीतीं या हारीं?

बिहार विधानसभा चुनाव में NDA ने पूर्ण बहुमत पाया है. 243 सीटों में 122 के आंकड़े को पार करते हुए 125 सीटें कब्जाई हैं. इस बार के चुनाव में कई ऐसी नेता भी मौजूद थीं, जो खुद तो राजनीति में हैं ही, इनके पति भी राजनीति में काफी नाम कमा चुके हैं. कुछ ऐसी कैंडिडेट भी देखने को मिलीं, जिन्होंने अपने पति की सीट पर चुनाव लड़ा या उनके नाम पर चुनाव लड़ा. इन कैंडिडेट्स का क्या हाल रहा इस चुनाव में, जानने के लिए देखिए वीडियो.

 
चुनाव

चुनाव नतीजों के बाद पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी क्या बोले

तेजस्वी ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाया है.

चुनाव नतीजों के बाद पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी क्या बोले

बिहार चुनाव के नतीजों से ये साफ हो चुका है कि BJP-JDU के नेतृत्व वाले एनडीए को मिली हैं 125 सीटें. RJD के नेतृत्व वाले महागठबंधन को 110 सीटें. माने स्पष्ट बहुमत NDA के पास है. लेकिन नतीजे आने के दो दिन बाद, 12 नवंबर को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने अलग ही तरह का … और पढ़ें चुनाव नतीजों के बाद पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी क्या बोले

वीडियो

बिहार चुनाव: कहलगांव सीट से कांग्रेस के दिग्गज नेता सदानंद सिंह के बेटे शुभानंद मुकेश हारे

कहलगांव विधानसभा सीट. भागलपुर जिले के तहत आती है. बीजेपी के पवन कुमार यादव ने यहां से शानदार जीत हासिल की है. उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी शुभानंद मुकेश को 42,893 वोटों से हराया. शुभानंद मुकेश कांग्रेस के दिग्गज नेता सदानंद सिंह के बेटे हैं. सदानंद यहां से लगातार जीतते आ रहे थे. लेकिन इस बार उन्होंने अपने बेटे को मैदान में उतारा था. पवन यादव को 1,15,538 वोट मिले. वहीं शुभानंद मुकेश को 72,645 वोट ही मिल सके. वोट प्रतिशत की बात करें तो पवन ने 56.23 फीसदी वोट झटके, तो शुभानंद मुकेश के खाते में 35.36 प्रतिशत वोट आए. देखिए वीडियो.

बिहार चुनाव: कहलगांव सीट से कांग्रेस के दिग्गज नेता सदानंद सिंह के बेटे शुभानंद मुकेश हारे

कहलगांव विधानसभा सीट. भागलपुर जिले के तहत आती है. बीजेपी के पवन कुमार यादव ने यहां से शानदार जीत हासिल की है. उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी शुभानंद मुकेश को 42,893 वोटों से हराया. शुभानंद मुकेश कांग्रेस के दिग्गज नेता सदानंद सिंह के बेटे हैं. सदानंद यहां से लगातार जीतते आ रहे थे. लेकिन इस बार उन्होंने अपने बेटे को मैदान में उतारा था. पवन यादव को 1,15,538 वोट मिले. वहीं शुभानंद मुकेश को 72,645 वोट ही मिल सके. वोट प्रतिशत की बात करें तो पवन ने 56.23 फीसदी वोट झटके, तो शुभानंद मुकेश के खाते में 35.36 प्रतिशत वोट आए. देखिए वीडियो.

वीडियो

बिहार चुनाव: क्या 2010 से विधायक रहे श्याम बहादुर सिंह बचा पाए अपनी सीट?

बड़हरिया सीट से बच्चा पांडे (RJD) 71793 वोट पाकर जीत गए. वहीं, श्याम बहादुर सिंह (JDU) 68234 वोट पाकर हार गए. इस सीट पर टक्कर इन दोनों उम्मीदवारों  के बीच ही देखने को मिली. इन दोनों के अलावा एक भी उम्मीदवार अपनी ज़मानत नहीं बचा सका. 2015 में श्याम बहादुर सिंह ने एलजेपी के बच्चा पांडे को हराकर चुनाव जीता था. उन्होंने 14 हज़ार 583 वोटों के अंतर से बच्चा पांडे को हराया था. और 2010 में श्याम बहादुर सिंह ने आरजेडी के मोहम्मद मोबिन को 25 हज़ार 121 वोटों के अंतर से हराया था. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: क्या 2010 से विधायक रहे श्याम बहादुर सिंह बचा पाए अपनी सीट?

बड़हरिया सीट से बच्चा पांडे (RJD) 71793 वोट पाकर जीत गए. वहीं, श्याम बहादुर सिंह (JDU) 68234 वोट पाकर हार गए. इस सीट पर टक्कर इन दोनों उम्मीदवारों  के बीच ही देखने को मिली. इन दोनों के अलावा एक भी उम्मीदवार अपनी ज़मानत नहीं बचा सका. 2015 में श्याम बहादुर सिंह ने एलजेपी के बच्चा पांडे को हराकर चुनाव जीता था. उन्होंने 14 हज़ार 583 वोटों के अंतर से बच्चा पांडे को हराया था. और 2010 में श्याम बहादुर सिंह ने आरजेडी के मोहम्मद मोबिन को 25 हज़ार 121 वोटों के अंतर से हराया था. देखिए वीडियो.

 
चुनाव

संघ के इन 4 चेहरों ने पर्दे के पीछे रहकर BJP को बिहार जिता दिया

कौन हैं भवानी सिंह जिन्होंने मिथिला जिता के एनडीए को बिहार जिता दिया?

संघ के इन 4 चेहरों ने पर्दे के पीछे रहकर BJP को बिहार जिता दिया

बिहार चुनाव के नतीजे आ चुके हैं और एनडीए बहुमत के आंकड़े को पार कर गई है. सभी एग्जिट पोल्स को ठेंगा दिखाते हुए भाजपा को 74, जदयू को 43, वीआईपी को 4 और हम को 4 सीटें मिली हैं. पर कहानी सिर्फ इतनी सी नहीं है. इस जीत के पीछे कई ऐसे चेहरे हैं … और पढ़ें संघ के इन 4 चेहरों ने पर्दे के पीछे रहकर BJP को बिहार जिता दिया

वीडियो

बिहार चुनाव: कांग्रेस या बीजेपी, किसके प्रत्याशी नरकटियागंज सीट से जीते?

पश्चिम चंपारण के नरकटियागंज सीट से बीजेपी की रश्मि वर्मा 75,345 वोट पाकर जीत गईं. वहीं, कांग्रेस के विनय वर्मा 53,826 वोट पाकर हार गए. बता दें कि 2015 में कांग्रेस के विनय वर्मा ने बीजेपी की रेणु देवी को 16,061 वोट से हराया था. विनय वर्मा को 57,212 वोट और रेणु देवी को 41,151 वोट मिले थे. 2010 में बीजेपी के सतीश चंद्र दुबे ने कांग्रेस के आलोक प्रसाद वर्मा को 20,228 वोट से हराया था. सतीश चंद्रा को 45,022 वोट और आलोक प्रसाद को 24,794 वोट मिले थे. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: कांग्रेस या बीजेपी, किसके प्रत्याशी नरकटियागंज सीट से जीते?

पश्चिम चंपारण के नरकटियागंज सीट से बीजेपी की रश्मि वर्मा 75,345 वोट पाकर जीत गईं. वहीं, कांग्रेस के विनय वर्मा 53,826 वोट पाकर हार गए. बता दें कि 2015 में कांग्रेस के विनय वर्मा ने बीजेपी की रेणु देवी को 16,061 वोट से हराया था. विनय वर्मा को 57,212 वोट और रेणु देवी को 41,151 वोट मिले थे. 2010 में बीजेपी के सतीश चंद्र दुबे ने कांग्रेस के आलोक प्रसाद वर्मा को 20,228 वोट से हराया था. सतीश चंद्रा को 45,022 वोट और आलोक प्रसाद को 24,794 वोट मिले थे. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बिहार चुनाव: नीतीश कुमार CM होंगे या नहीं, BJP नेताओं ने खुद बताई अंदर की बात

बिहार चुनाव में NDA को बहुमत के बाद जो सवाल सबसे ज्यादा हवा में तैर रहा है, वो ये कि सीएम की कुर्सी पर नीतीश कुमार ही बैठेंगे या बीजेपी ऐन वक्त पर किसी और को गद्दी सौंप सकती है? बीजेपी के अंदर से ही इस आग को हवा मिली. नीतीश के राजनीतिक भविष्य को लेकर ये सवाल इसलिए भी उठा क्योंकि पिछले करीब 25 साल से एनडीए में नीतीश कुमार की भूमिका बड़े भाई की रही है. इस चुनाव में जनता दल यूनाइटेड की 43 सीटों के मुकाबले 74 सीटें जीतकर बीजेपी बड़े भाई की भूमिका में आ चुकी है. अब इस सवाल पर धुंध छंटती दिख रही है. देखिए वीडियो.

 

बिहार चुनाव: नीतीश कुमार CM होंगे या नहीं, BJP नेताओं ने खुद बताई अंदर की बात

बिहार चुनाव में NDA को बहुमत के बाद जो सवाल सबसे ज्यादा हवा में तैर रहा है, वो ये कि सीएम की कुर्सी पर नीतीश कुमार ही बैठेंगे या बीजेपी ऐन वक्त पर किसी और को गद्दी सौंप सकती है? बीजेपी के अंदर से ही इस आग को हवा मिली. नीतीश के राजनीतिक भविष्य को लेकर ये सवाल इसलिए भी उठा क्योंकि पिछले करीब 25 साल से एनडीए में नीतीश कुमार की भूमिका बड़े भाई की रही है. इस चुनाव में जनता दल यूनाइटेड की 43 सीटों के मुकाबले 74 सीटें जीतकर बीजेपी बड़े भाई की भूमिका में आ चुकी है. अब इस सवाल पर धुंध छंटती दिख रही है. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बिहार चुनाव: चार बार से विधायक रहे बोगो सिंह ने सोचा न होगा कि नतीजे ऐसे भी आ सकते हैं

बेगुसराय के मटिहानी विधानसभा सीट से एलजेपी के राजकुमार सिंह 61364 पाकर जीत दर्ज की. वहीं, जेडीयू के नरेंद्र कुमार सिंह उर्फ बोगो सिंह 61031 पाकर और सीपीआईएम के राजेंद्र प्रसाद सिंह 60599 वोट पाकर हार गए. 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU ने बोगो सिंह को ही उतारा था. BJP ने सर्वेश कुमार को, CPI ने शोभा देवी को. पलड़ा JDU का भारी रहा. बोगो सिंह को 89292 वोट मिले, सर्वेश कुमार को 66605, भोभा देवी को 11232. बोगो ने 22687 वोटों से जीत हासिल की. 2010 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU और BJP साथ थे, NDA के तहत. इस चुनाव में मटिहानी सीट से JDU ने बोगो सिंह को, कांग्रेस ने अभय कुमार सर्जन, LJP ने विद्या रानी को उतारा था. बोगो को 60440 वोट मिले, अभय कुमार को 36601 और विद्या रानी को 13387 वोट मिले. बोगो 23839 वोटों से जीते. देखिए वीडियो.

बिहार चुनाव: चार बार से विधायक रहे बोगो सिंह ने सोचा न होगा कि नतीजे ऐसे भी आ सकते हैं

बेगुसराय के मटिहानी विधानसभा सीट से एलजेपी के राजकुमार सिंह 61364 पाकर जीत दर्ज की. वहीं, जेडीयू के नरेंद्र कुमार सिंह उर्फ बोगो सिंह 61031 पाकर और सीपीआईएम के राजेंद्र प्रसाद सिंह 60599 वोट पाकर हार गए. 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU ने बोगो सिंह को ही उतारा था. BJP ने सर्वेश कुमार को, CPI ने शोभा देवी को. पलड़ा JDU का भारी रहा. बोगो सिंह को 89292 वोट मिले, सर्वेश कुमार को 66605, भोभा देवी को 11232. बोगो ने 22687 वोटों से जीत हासिल की. 2010 के बिहार विधानसभा चुनाव में JDU और BJP साथ थे, NDA के तहत. इस चुनाव में मटिहानी सीट से JDU ने बोगो सिंह को, कांग्रेस ने अभय कुमार सर्जन, LJP ने विद्या रानी को उतारा था. बोगो को 60440 वोट मिले, अभय कुमार को 36601 और विद्या रानी को 13387 वोट मिले. बोगो 23839 वोटों से जीते. देखिए वीडियो.