Submit your post

Follow Us

विजय माल्या के साथ मैच के पहले क्या हुआ ये तो आप सबको पता है, जानिए मैच के बाद क्या हुआ

427
शेयर्स

क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019. लंडन के ओवल स्टेडियम में मैच खेला गया. इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच. इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को हरा दिया. शिखर धवन ने सेंचुरी मारी. शानदार सेंचुरी. कोहली ने 82 रन बनाए. डेविड वॉर्नर हाथ खोलने को तरस गए. इतनी धीमी हाफ़ सेंचुरी मारी कि जनता बोर हो गई. जब उन्होंने 50 रन पूरे गए तो साफ़ से मालूम नहीं पड़ा कि लोग तालियां बजा रहे हैं या ढलते दिन में मच्छर मार रहे हैं.

लेकिन मैच की शुरुआत में एक वीडियो सामने आया जो खूब घूमा. वीडियो में थे कितने ही बैंकों के प्रातः स्मरणीय विजय माल्या जी. उन्होंने टिकट ले रखे थे मैच देखने के लिए. बाकायदे गेट पर अपनी एंट्री करवा रहे थे जब उनके सामने कैमरा आया. उन्होंने कहा कि वो मैच एन्जॉय करने आये हैं. भारतीय जनता देख के हैरान थी कि कितना ही रूपया लेकर भागा एक आदमी दूसरे देश में खुल्ले-आम घूम रहा है और यहां तक कि वर्ल्ड कप का मैच देखने जा रहा है और अभी भी एन्जॉय जैसे शब्दों को अपनी ज़ुबान पर ला पा रहा है.

उसके बाद मैच ख़तम हुआ तो फिर से विजय माल्या का एक और वीडियो आया. अब वो स्टेडियम से वापस जा रहे थे. मैच एन्जॉय कर चुके थे. लेकिन उनके साथ जो हो रहा था, एन्जॉय नहीं कर रहे होंगे. उन्हें काफ़ी लोगों ने घेर रखा था. वो आगे भी नहीं बढ़ पा रहे थे. और साथ ही वहां पर उनके ख़िलाफ़ नारेबाज़ी भी हो रही थी. नारेबाज़ी में हुड़दंगई ज़्यादा मिक्स थी और लगातार माल्या को चोर कहा जा रहा था. बीच-बीच में एक-दो दफ़ा मोदी शब्द भी सुनाई दिया. हालांकि उसपर इतना ज़्यादा ज़ोर नहीं था. एक जो सबसे बुरी बात थी वो ये कि इस पूरे धक्कम-पेल में विजय माल्या की माता जी फंस गई थीं. वो विजय माल्या के साथ ही थी. उन्हें धक्के सहने पड़े और काफ़ी मुश्किलें झेलनी पड़ीं. यकीनन जिस तरह का सुलूक विजय माल्या के साथ किया जा रहा था, उनकी माता जी को उसका भोगी नहीं बनना चाहिये था लेकिन उनके पास और कोई चारा नहीं था. विजय माल्या से जब पूछा गया कि उन्हें वहां हो रही घटना के बारे में क्या कहना है तो उन्होंने बस इतना कहा, “मैं बस अपनी मां को चोट लगने से बचा रहा हूं.”

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

IIT गुवाहाटी के छात्र एक प्रोफेसर के लिए क्यों लड़ रहे हैं?

प्रोफेसर बीके राय लंबे समय से करप्शन के खिलाफ जंग छेड़े हुए हैं.

आर्टिकल 370 हटने के बाद कश्मीर में पत्थरबाजी कम हुई या बढ़ी?

राज्यसभा में सरकार ने आंकड़े बताए हैं.

फोन कंपनियां ये किस बात के लिए हम लोगों से पैसा लेने जा रही हैं?

कॉल और डाटा का पैसा बढ़ने वाला है, पढ़ लो!

BHU के मुस्लिम टीचर के पिता ने कहा, 'बेटे को संस्कृत पढ़ाने से अच्छा था, मुर्गे बेचने की दुकान खुलवा देता'

बीएचयू में मुस्लिम टीचर की नियुक्ति पर बवाल!

बरसों से इंडिया का मित्र राष्ट्र रहा नेपाल क्या अब ज़मीन को लेकर कसमसा रहा है?

'कालापानी' को लेकर उत्तराखंड के CM टीएस रावत चिंता में हैं या गुस्से में, कहना मुश्किल है.

सरकार Facebook से यूजर्स की जानकारी मांग रही है

2 साल में तीन गुनी हुई इमरजेंसी रिक्वेस्ट्स की संख्या.

पुनर्विचार की सभी याचिकाएं खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रफ़ाल को हरी झंडी दी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रफ़ाल डील में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए खूब घेरा था.

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: विवादित ज़मीन रामलला को, मुस्लिम पक्ष को कहीं और मिलेगी ज़मीन

जानिए, कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या-क्या कहा है...