Submit your post

Follow Us

शोएब अख्तर के चैनल पर सहवाग पहुंचे और दोनों ने सरफ़राज़ अहमद की मौज ले ली

5
शेयर्स

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने ऑस्ट्रेलिया से हार के बाद एक बयान दिया था. कहा था- उन्हें लगता है कि ICC भारत के लिए आसान पिच बनवाती है.  इस बयान के बाद अब वो घिरते हुए नज़र आ रहे हैं. बोहनी हुई है शोएब अख्तर और सहवाग से.

तो हुआ कुछ ऐसा कि शोएब अख्तर अपना यूट्यूब चैनल चलाते हैं. अलग-अलग मुद्दों पर बात करते हैं. इसी दौरान उन्होंने भारत पाकिस्तान के बीच होने वाले मैच को लेकर सहवाग को बातचीत के लिए बुलाया. दोनों के बीच लंबी बातचीत हुई. तभी शोएब ने बिना सरफराज का नाम लिए सरफराज़ के बयान का ज़िक्र कर दिया. जिस पर सहवाग ने जमकर मौज ली.

पहले दोनों के बीच हुई बातचीत पढ़िए:

शोएब अख्तर:  मुझे जल्दी से ये बताएं कि ये जो स्पेकुलेशन आ गई है, बहुत सारे क्रिकेटर्स स्पेकुलेट कर रहे हैं कि विकटें आप अपनी मर्ज़ी से बना देते हैं. आप बड़ा पैसा-पुसा लगाते हैं आईसीसी पे और अपनी मर्ज़ी से विकटें बना देतें हैं. मैंने कहा- जी ये कैसे कर सकते हैं, आईसीसीसी का टूर्नामेंट है, ये कैसे हो सकता है जी. क्या ये बात सच है?

वीरेंद्र सहवाग- आपको भी लगता है कि ये बात सच है.

शोएब अख्तर- नहीं, नहीं, नहीं, नहीं (हंसते हुए), ये क्यों ऐसा कहते हैं?

वीरेंद्र सहवाग- मुझे लगता है कि लोगों का काम है कहना. मैं हमेशा एक कहावत कहता हूं कि हाथी मस्त चलता है और कुत्ते भौंकते रहते हैं.

शोएब अख्तर- ऐसा ही है (हंसते हुए)

वीरेंद्र सहवाग- तो सबको वही आजमाना चाहिए. आप चुप-चाप मस्त हाथी सा चलते रहो, दुनिया का काम है, लोगों का काम है, मीडिया का काम है बोलना, उनको बोलते रहने दो. क्योंकि हमारे हाथ में ये होता तो हम चाहते कि जो थोड़ी बहुत भी घास होती है, उसे भी हटवा देते. क्योंकि हम तो बिल्कुल गंजे विकटों पर खेलने के आदी हैं. वैसा ही करा देते.

शोएब अख्तर- मेरी तो खुद ही समझ में नहीं आता, आईसीसी टूर्नामेंट में इंडिया. ये हिंदुस्तान में वर्ल्ड कप हो रहा होता तो कोई बंदा कह सकता है कि चलो. 2011 में थोड़ा बहुत कुछ विकटें ऐसी बनी हैं. उधर के ग्राउंड्स मैन अपने घर की बात नहीं मानते तो इंडिया की बात कहां से मानेंगे.

अब दोनों के बीच बातचीत का वीडियो देखिए:

दरअसल इस विश्व कप में पाकिस्तान पिछड़ती हुई नज़र आ रही है. पाकिस्तान ने अब तक इस विश्वकप में 4 मैच खेले है. जिसमें से 2 में हार मिली है, एक मैच बारिश की भेंट चढ़ गया. जबकि जीत सिर्फ एक मैच में ही मिली है. यहां तक कि प्वाइंट टैली में भी पाकिस्तान आठवें नंबर पर है.

12 जून को ऑस्ट्रेलिया से मिली हार के बाद उन्होंने अपना पूरा ठीकरा पिच पर फोड़ दिया था. अगल मैच पाकिस्तान का भारत के साथ है. इसीलिए वो पहले ही और टेंशन में आ गई. इस मैच से पहले ही सरफराज़ ने बयान दे दिया:

भारत को हमेशा ही बल्लेबाजी के अनुकूल पिचें मिलती हैं और उनके स्पिनरों को भी पिचों से फायदा मिलता है.

वैसे सरफराज के आरोप पर अभी तक आईसीसी का कोई बयान नहीं आया है.


वीडियो: फाइनल और सेमीफाइनल मैच में बारिश हुई तो क्या होगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
World cup 2019 Shoaib Akhtar and Virendra Sehwag comment over Sarfaraz Statement on pitch favor

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे ने संजय दत्त की मुश्किलें बढ़ा दी हैं

जेल में बंद पेरारिवलन ने संजय दत्त से जुड़ी बहुत सी जानकारी इकट्ठी की है.

कठुआ केस के छह दोषियों को क्या सज़ा मिली?

अदालत ने सात में से छह आरोपियों को दोषी माना था. मास्टरमाइंड सांजी राम का बेटा विशाल बरी हो गया.

कठुआ केस में फैसला आ गया है, एक बरी, छह दोषी करार

दोषियों में तीन पुलिसवाले भी शामिल हैं.

पांच साल की बच्ची से रेप किया और फिर ईंटों से कूंचकर मार डाला

उज्जैन में अलीगढ़ जैसा कांड, पड़ोसी ही निकला हत्यारा...

अफगानिस्तान किन गलतियों से श्रीलंका से जीता-जिताया मैच हार गया?

मलिंगा का तो जोड़ नहीं.

क्या चुनावी नतीजे आने के 10 दिनों के अंदर यूपी में 28 यादवों की हत्या हुई है?

28 नामों की एक लिस्ट वायरल हो रही है. लेकिन सच क्या है?

मायावती ने ऐसा क्या कह दिया कि फिलहाल गठबंधन को टूटा मान लेना चाहिए

प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने गठबंधन तोड़ने का सीधा ऐलान तो नहीं किया, लेकिन बहुत कुछ कह गयीं.

चुनाव नतीजे आए दस दिन हुए नहीं, मायावती ने गठबंधन पर सवाल उठा दिए

वो भी तब जब मायावती के पास जीरो से बढ़कर दस सांसद हो गए हैं

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव में बंपर वोट खींचने वाला ऐलान कर दिया है

वो ऐसी स्कीम लेकर आए हैं कि दिल्ली-NCR की महिलाएं खुश हो गईं.

आखिर क्या सोचकर मोदी ने UP के इन नेताओं को कैबिनेट में जगह दी है?

इनमें कुछ से पिछली सरकार के दौरान बीच में ही मंत्रालय छीन लिया गया था.