Submit your post

Follow Us

शोएब अख्तर के चैनल पर सहवाग पहुंचे और दोनों ने सरफ़राज़ अहमद की मौज ले ली

1.43 K
शेयर्स

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने ऑस्ट्रेलिया से हार के बाद एक बयान दिया था. कहा था- उन्हें लगता है कि ICC भारत के लिए आसान पिच बनवाती है.  इस बयान के बाद अब वो घिरते हुए नज़र आ रहे हैं. बोहनी हुई है शोएब अख्तर और सहवाग से.

तो हुआ कुछ ऐसा कि शोएब अख्तर अपना यूट्यूब चैनल चलाते हैं. अलग-अलग मुद्दों पर बात करते हैं. इसी दौरान उन्होंने भारत पाकिस्तान के बीच होने वाले मैच को लेकर सहवाग को बातचीत के लिए बुलाया. दोनों के बीच लंबी बातचीत हुई. तभी शोएब ने बिना सरफराज का नाम लिए सरफराज़ के बयान का ज़िक्र कर दिया. जिस पर सहवाग ने जमकर मौज ली.

पहले दोनों के बीच हुई बातचीत पढ़िए:

शोएब अख्तर:  मुझे जल्दी से ये बताएं कि ये जो स्पेकुलेशन आ गई है, बहुत सारे क्रिकेटर्स स्पेकुलेट कर रहे हैं कि विकटें आप अपनी मर्ज़ी से बना देते हैं. आप बड़ा पैसा-पुसा लगाते हैं आईसीसी पे और अपनी मर्ज़ी से विकटें बना देतें हैं. मैंने कहा- जी ये कैसे कर सकते हैं, आईसीसीसी का टूर्नामेंट है, ये कैसे हो सकता है जी. क्या ये बात सच है?

वीरेंद्र सहवाग- आपको भी लगता है कि ये बात सच है.

शोएब अख्तर- नहीं, नहीं, नहीं, नहीं (हंसते हुए), ये क्यों ऐसा कहते हैं?

वीरेंद्र सहवाग- मुझे लगता है कि लोगों का काम है कहना. मैं हमेशा एक कहावत कहता हूं कि हाथी मस्त चलता है और कुत्ते भौंकते रहते हैं.

शोएब अख्तर- ऐसा ही है (हंसते हुए)

वीरेंद्र सहवाग- तो सबको वही आजमाना चाहिए. आप चुप-चाप मस्त हाथी सा चलते रहो, दुनिया का काम है, लोगों का काम है, मीडिया का काम है बोलना, उनको बोलते रहने दो. क्योंकि हमारे हाथ में ये होता तो हम चाहते कि जो थोड़ी बहुत भी घास होती है, उसे भी हटवा देते. क्योंकि हम तो बिल्कुल गंजे विकटों पर खेलने के आदी हैं. वैसा ही करा देते.

शोएब अख्तर- मेरी तो खुद ही समझ में नहीं आता, आईसीसी टूर्नामेंट में इंडिया. ये हिंदुस्तान में वर्ल्ड कप हो रहा होता तो कोई बंदा कह सकता है कि चलो. 2011 में थोड़ा बहुत कुछ विकटें ऐसी बनी हैं. उधर के ग्राउंड्स मैन अपने घर की बात नहीं मानते तो इंडिया की बात कहां से मानेंगे.

अब दोनों के बीच बातचीत का वीडियो देखिए:

दरअसल इस विश्व कप में पाकिस्तान पिछड़ती हुई नज़र आ रही है. पाकिस्तान ने अब तक इस विश्वकप में 4 मैच खेले है. जिसमें से 2 में हार मिली है, एक मैच बारिश की भेंट चढ़ गया. जबकि जीत सिर्फ एक मैच में ही मिली है. यहां तक कि प्वाइंट टैली में भी पाकिस्तान आठवें नंबर पर है.

12 जून को ऑस्ट्रेलिया से मिली हार के बाद उन्होंने अपना पूरा ठीकरा पिच पर फोड़ दिया था. अगल मैच पाकिस्तान का भारत के साथ है. इसीलिए वो पहले ही और टेंशन में आ गई. इस मैच से पहले ही सरफराज़ ने बयान दे दिया:

भारत को हमेशा ही बल्लेबाजी के अनुकूल पिचें मिलती हैं और उनके स्पिनरों को भी पिचों से फायदा मिलता है.

वैसे सरफराज के आरोप पर अभी तक आईसीसी का कोई बयान नहीं आया है.


वीडियो: फाइनल और सेमीफाइनल मैच में बारिश हुई तो क्या होगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेटफ्लिक्स पर आने वाली शाहरुख़ की 'बार्ड ऑफ़ ब्लड' में कश्मीर क्यूं खचेर रहा है पाकिस्तान?

पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता के बयान पर सोशल मीडिया कहने लगा 'पीछे तो देखो'.

केरल बाढ़ के हीरो आईएएस कन्नन गोपीनाथन ने कश्मीर मसले पर नौकरी छोड़ते हुए ये बातें कही हैं

नौकरी छोड़ दी. अब न कोई सेविंग्स है, न ही रहने को अपना ख़ुद का घर.

धरती पर क्राइम तो रोज़ होते हैं, लेकिन पहली बार अंतरिक्ष में हुए क्राइम की खबर आई है

अंतरिक्ष में रहते क्राइम करने की बात चौंकाती है.

अरुण जेटली नहीं रहे, यूएई से पीएम मोदी ने कुछ यूं किया याद

गौतम गंभीर ने जेटली को पिता तुल्य बताया.

रफाल के अलावा फ्रांस से और क्या-क्या लाने वाले हैं पीएम मोदी?

इस बड़े मुद्दे पर भारत की तगड़ी मदद करने वाला है फ्रांस.

चंद्रमा पर पहुंचने वाला है चंद्रयान-2, कैसे करेगा काम?

चंद्रयान के एक-एक दिन का हिसाब दे दिया है

विंग कमांडर अभिनंदन को पकड़ने वाला पाकिस्तानी सैनिक मारा गया!

पाकिस्तानी आर्मी की तस्वीर में अभिनंदन को पकड़े हुए दिखा था अहमद खान.

नकली दूध बेचा, पुलिस ने आतंकियों वाला NSA लगा दिया

सरकार ने तो पहले ही कह दिया था.

कांग्रेस और सपा छोड़कर भाजपा में आए नेताओं ने मोदी के बारे में क्या कहा?

वो भी कल लखनऊ में...

कश्मीर में बैन के बाद भी किसकी मेहरबानी से गिलानी इस्तेमाल कर रहे थे फोन-इंटरनेट?

बैन के चार दिन बाद तक गिलानी के पास इंटरनेट और फोन था. प्रशासन को इसकी भनक भी नहीं थी.