Submit your post

Follow Us

पाकिस्तान में #ThankYouMSD टॉप-ट्रेंडिंग, पड़ोसी मुल्क धोनी पर इत्ता बलिहारी क्यूं हुआ जा रहा है?

5
शेयर्स

वर्ल्ड कप में भारत का आख़िरी मैच. न्यूज़ीलैंड बनाम भारत. इंडिया का बैटिंग ऑर्डर जब रेत के घरौंदे जैसा भहरा चुका था और ड्रेसिंग रूम की बालकनी में मुर्दनी छाई हुई थी, तब जडेजा और धोनी क्रीज़ पर भिड़े हुए थे. धोनी ने विकेट संभाल रखा था. जडेजा ताबड़तोड़ रेल रहे थे. जडेजा मर चुके मैच को इलेक्ट्रिक झटका दिए पड़े थे. लोगों को लगा अब मैच जाग पड़ेगा. और पूछेगा ‘क्या हुआ था मुझे.’

एकबारगी इंडियन फैन्स की हार्ट-बीट फिर सुनाई देने लगी. धोनी का सिंगल पॉइंट एजेंडा था, विकेट रोकना. गेंद चाहे जितना ललचाए, धोनी साधू की तरह मंतर साधते रहे. कोई लंबा शॉट नहीं. स्ट्राइक लगातार जडेजा को देते रहे.

यही चीज़ कुछ लोगों को बुरी लगी. कहने लगे कि ‘माही मारता क्यों नहीं’. कुछ का मानना था कि, जिस मैच में भारत का सब कुछ दांव पर लगा हो वहां माही टुक-टुका काहे रहे थे. जब बल्ला भांजना था तब माही देश के सब्र का एग्ज़ाम काहे लेना चाह रहे थे.

# लेकिन पड़ोसी मुल्क ऐसा नहीं सोचता

पाकिस्तान. क्रिकेट के मैदान पर भारत का चिर-विरोधी. कप उठाओ चाहे ना उठाओ, पाकिस्तानी टीम की इज़्ज़त वाली अर्थी उठनी चाहिए. इधर वालों में कुछ का ‘किरकेट’ धर्म यही कहता है. नहीं टाइपिंग की ग़लती नहीं है, किरकेट ही है. क्योंकि सबका ‘क्रिकेट धर्म’ इत्ता रूड नहीं हो सकता. बहरहाल. इधर कुछ लोग चाहे जो कह लें. उधर वाले इज़्ज़त पूरी देते हैं. उन्हें तो ज़रूर देते हैं, जिनसे इधर कुछ लोग बार-बार पूछते हैं ‘अब रिटायर क्यों नहीं हो जाते’.

धोनी. कल से पाकिस्तान के सोशल मीडिया में छाए हुए हैं. ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे हैं पाकिस्तान के.

पड़ोसी लोग कह रहे हैं #ThankYouMSD.

# लगातार पाकिस्तान Twitter पर नंबर वन बने हुए हैं धोनी

कल जैसे ही मैच और भारत की उम्मीद ख़त्म हुई. पाकिस्तानी ट्विटर पर ऐक्टिव हुए. धोनी लहराने लगे. और अब तक शहंशाह बने हुए हैं.

अब तक धोनी को थैंक्स कहते हुए 16 हज़ार Tweets दर्ज हो चुके हैं पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से
अब तक धोनी को थैंक्स कहते हुए 16 हज़ार Tweets दर्ज हो चुके हैं पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से

लोग रुक नहीं रहे हैं. लगातार ट्विटर पर धोनी को शुक्रिया कहे ही चले जा रहे हैं.

बस देखते चले जाइए भाई सा’ब 

धोनी तो धोनी हैं

इसे कहते हैं ‘स्पोर्ट स्पिरिट’. जहां खेल और खिलाड़ी से इतर और कुछ नहीं है. खेल सिर्फ़ खेल है. मानव सभ्यता को सभ्यता बनाने वाली दूसरी सबसे पुरानी चीज़. पहली है ‘शिकार’. इसलिए खेल को खेल ही रहने दो कोई और काम ना दो.


वीडियो देखें:

वर्ल्ड कप 2019: सरफराज अहमद ने अपनी कप्तानी, कोच से खटपट और इंडिया-इंग्लैंड मैच पर अपनी बात रखी है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
World Cup 2019: Dhoni trending on twitter in Pakistan. hashtag #ThankYouMSD

टॉप खबर

एक महीने से छात्र धरने पर हैं, किसी को परवाह नहीं

ये खबर हर स्टूडेंट को पढ़नी चाहिए.

बजट में सरकार ने अमीरों पर बंपर टैक्स लगाया

पेट्रोल-डीज़ल पर एक रुपया अतिरिक्त लेगी सरकार.

राहुल गांधी के पत्र की चार ख़ास बातें, तीसरी वाली में सारे देश की दिलचस्पी है

आज राहुल गांधी ने आखिरकार इस्तीफा दे ही दिया.

आकाश विजयवर्गीय पर मोदी बहुत नाराज़ हुए, उतना ही जितना साध्वी प्रज्ञा पर हुए थे!

"अफ़सोस! दिल से माफ़ नहीं कर पाएंगे."

नुसरत जहां के खिलाफ़ जिस फतवे पर बवाल मचा, वैसा फ़तवा जारी ही नहीं हुआ

निखिल से शादी के बाद सिन्दूर-साड़ी में संसद पहुंची थीं नुसरत

क्या ज़ायरा ने इस्लाम के लिए फ़िल्म लाइन छोड़ दी?

जिन चीज़ों से रील लाइफ में लड़कर सुपर स्टार बनीं, निजी ज़िंदगी में वो लड़ाई ही छोड़ दी है.

मायावती ने गठबंधन क्या तोड़ा, खुद की लुटिया ही डुबो ली है

गठबंधन तोड़कर अखिलेश और माया चवन्नी भर सीटें भी नहीं जीत रहे हैं.

खट्टर सरकार रेपिस्ट बाबा की जेल से छुट्टी का समर्थन कर रही, लेकिन जानिए ऐसा होना संभव क्यूं नहीं

जेल से छुट्टी क्यों चाह रहा है बलात्कारी बाबा राम रहीम?

चमकी बुखार में जिनके बच्चे मरे, उन्होंने विरोध किया तो केस दर्ज हो गया

बिहार में एक दो नहीं पूरे 39 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है.

चमकी बुखार से पीड़ित परिवार से मिलने गए सांसद-विधायक को लोगों ने बंधक बना लिया

उधर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य और केंद्र सरकार को नोटिस भेज दिया है.