Submit your post

Follow Us

प्यासे सुअर को पानी पिलाने पर मिली 10 साल की कैद

70
शेयर्स

अपने यहां सीडी में भजन बजते हैं. कभी प्यासे को पानी पिलाया नहीं बाद अमृत पिलाने से क्या फायदा. मने पानी पिलाना सबसे बड़ा पुण्य कहा जाता है. लेकिन कनाडा में इसका उल्टा केस हो गया. पिछली 29 नवंबर को एक अजीब केस और उससे भी अजीब सजा खबरों की मार्केट में आई. 48 साल की एक मोहतरमा, जिनका नाम है अनीता क्रैजंक. टोरंटो में रहती हैं. ये ‘टोरंटो पिग सेव’ ग्रुप की कोफाउंडर भी हैं. 22 जून को इनसे एक भारी गुनाह हो गया था. सड़क पर सुअर ढोने वाली लॉरी जा रही थी. उसके अंदर बंद सुअर इनको प्यासे दिखे तो पानी पिला दिया. ड्राइवर ने मना किया फिर भी पिलाया. दूसरे दिन घर पर कोर्ट का ऑर्डर आ गया पेशी का. वहां उनको इस ‘आपराधिक शरारत’ के लिए 10 साल जेल और 5 हजार डॉलर जुर्माने की सजा सुना दी.
कनाडा का कानून भी लंबे हाथ वाला है. वहां सुअर आदमी की प्रॉपर्टी है. उसे 36 घंटे तक भूखा प्यासा रख कर यहां वहां ले जाना लोगों का अधिकार है. और मैडम की कुल लड़ाई इसी के खिलाफ है. फिलहाल अनीता और उनके वकील ने केस आगे बढ़ा दिया है.

इस वीडियो में अनीता पानी पिलाते दिख रही हैं और ड्राइवर उनको हूल देने में लगा है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Woman who was sentenced for 10 years for feeding water to pigs

क्या चल रहा है?

जुड़वा भाइयों की किडनैपिंग, हत्या करने वाले बहुत बड़े केस के एक आरोपी ने जेल में फांसी लगाई

इस खबर को सुनकर उन जुड़वा बच्चों के बाप ने वही कहा, जो शायद हर बाप कहता.

जानिए रेप के आरोपी एक्टर करण ओबेरॉय की बहन ने उनके बारे में क्या बोला है

''जिस लड़की ने शारीरिक संबंध बनाने के लिए मैसेज किया उसी ने रेप केस में फंसा दिया.''

चेन्नई बेशक किंग हो मगर 2010 से मुंबई के आगे तो पानी ही भर रही है

चेन्नई अपने घरेलू मैदान पर मुंबई के खिलाफ क्यों नहीं जीत पा रही है?

अलवर गैंग रेप केस: 12 दिन, 14 टीमें, 5 अपराधी और गिरफ्तार हुआ सिर्फ एक

पहले चुनावों के चलते पुलिस इस केस में एक कॉन्स्टेबल तक नहीं लगा पा रही थी, अब 14 टीमें जुट गईं.

स्टीफन हॉकिंग वाली बीमारी से जूझ रहे विनायक की एग्ज़ाम्स के दौरान मौत, रिज़ल्ट आया तो सब हैरान

यकीन कीजिए विनायक की कहानी आपको ज़िंदगी के हर एग्ज़ाम में मोटिवेट करेगी.

बारहवीं में 100 प्रतिशत नंबर लाकर इन दो बच्चों ने इतिहास रच दिया

इनके पास टॉप करने का आखिर क्या फॉर्मूला था?

मोदी जिस बालाकोट स्ट्राइक के चलते रात भर नहीं सोए, सनी देओल उसे लेकर कहते हैं- ख़बर नहीं

ये तब है जबकि 'बॉर्डर' और 'गदर' वाले सनी पाजी बॉर्डर एरिया से चुनाव लड़ रहे हैं.

कोहली से भिड़ने के बाद गुस्साए अंपायर ने दरवाजे को लात मारकर तोड़ दिया

बात ऊपर तक चली गई है.

मुंबई के वो दो छोकरे जिनके आगे धोनी की टीम की एक न चली

और मुंबई इंडियन्स पहुंच गए आईपीएल फाइनल में.

आप या बीजेपी, किसका समर्थक रहा है सुरेश, जिसने केजरीवाल को थप्पड़ मार दिया?

सुरेश चौहान के बारे में चौंकाने वाली बातें पता चली हैं.