Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

इलाहाबाद में एक LLB छात्र को बेहोश होने के बाद भी मारते रहे, वीडियो वायरल

2.38 K
शेयर्स

मनुष्य एक सामाजिक जीव है. मानव इतिहास की हर किताब, ग्रंथ और पन्ने से इस लाइन को मिटा देना चाहिए. पन्नों को फाड़कर फेंक देना चाहिए. क्योंकि मनुष्य इंसान नहीं जानवर से भी बद्तर है. बर्बाद है. उत्तर प्रदेश का एक वायरल वीडियो यही बताता है. इसमें एक युवक को कुछ लोग बेरहमी से मार रहे हैं. ईंटे से, रॉड से. जो मिल रहा है उससे. लड़का होश में नहीं है. फिर भी उसे पीटे जा रहे हैं. ये जंगली घटना घटी है इलाहाबाद में. इस लड़के को एक रेस्त्रां में मामूली सी बात के बाद हुई कहासुनी में मारा गया.

पीड़ित प्रतापगढ़ के हथिगवां का रहने वाला दिलीप कुमार सरोज था. महज 26 साल उम्र थी. वह इलाहाबाद डिग्री कॉलेज (एडीसी) में एलएलबी सेकंड इयर का छात्र था. 9 फरवरी की रात वो तीन दोस्तों के साथ इलाहाबाद के कटरा स्थित एक रेस्त्रां में डिनर करने गया था. दोस्त के नई गाड़ी लेने की खुशी में. इसी दौरान दिलीप का पैर किसी के गलती से छू गया. इतनी सी बात पर विवाद शुरू हो गया. सामने वाले लोगों ने कुछ और लोगों को बाहर से बुला लिया. फिर दिलीप और उसके दोस्तों से मारपीट करने लगे. दिलीप के दोस्त तो भाग निकले मगर दिलीप फंस गया. उन लोगों ने दिलीप को फिर इतना पीटा कि वो बेहोश हो गया.

वीडियो देखें-


पीटते-पीटते वो दिलीप को रेस्त्रां के बाहर ले गए. जीने पर उसे पीटने लगे. तभी सामने रोड पर एक आदमी इसका वीडियो बनाने लगा. हमलावरों को इसकी खबर नहीं थी. फिर ये वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया. घटना रेस्त्रां के सीसीटीवी में भी कैद हो गई.  फुटेज में साफ दिख रहा है कि हमलावर दिलीप को घसीटते हुए जीने पर मार रहे हैं. वो बेहोश है, फिर भी मार रहे हैं. हमलावरों के फरार होने के बाद रेस्त्रां संचालक अमित ने बाइक से दिलीप को एसआरएन पहुंचाया और पुलिस को सूचना दी. बाद में उसे एक प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान 11 फरवरी की सुबह उसकी मौत हो गई.

रायबरेली में जिला सांख्यिकी अधिकारी दिलीप के बड़े भाई महेश सरोज ने मामले में तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है. एसपी सिटी सिद्धार्थ ने बताया कि इस मामले में एक आरोपित मुन्ना चौहान को गिरफ्तार किया गया है जो उसी रेस्त्रां में वेटर है, जबकि रेलवे में टीटीई के पद पर तैनात विजय शंकर सिंह और उसके चालक की भी पहचान कर ली गई है. पुलिस की दो टीमें आरोपितों की तलाश में दबिश दे रही हैं. मामले में कटरा चौकी इंचार्ज समेत तीन को सस्पेंड कर दिया गया है. कलिका रेस्त्रां के संचालक अमित उपाध्याय को भी गिरफ्तार किया गया है.

वीडियो वायरल हुआ तो ऐक्टिव हुई पुलिस

पुलिस पहले तो इस मामले को दबाए रही, मगर जब इसका वीडियो वायरल हो गया तो सबको पता चल गया. सरकार की जमकर खिंचाई होने लगी. फिर चला डीजीपी मुख्यालय से डंडा और पुलिस ने तेजी दिखानी शुरू की. डीजीपी मुख्यालय से रिपोर्ट मांगी गई तो आरोपित टीटीई विजय शंकर सिंह की भी तुरंत शिनाख्त हो गई. इससे पहले इलाहाबाद पुलिस आरोपितों की शिनाख्त होने से ही इनकार कर रही थी.

आसपास से चुपचाप गुजर रहे थे लोग

सोशल मीडिया पर वीडियो पड़ा तो ये घटना, ये जंगलीपना सबके सामने आ गया. इस लिहाज से तो ये सही है. मगर इसी वीडियो में एक और चीज देखने को मिली. जहां दिलीप की पिटाई हो रही है, वहां सामने रोड से तमाम गाड़ियां गुजर रही हैं. मगर कोई भी रुककर इसका विरोध करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है. सब धीमे से निकल जा रहे हैं. ये इस पिटाई से भी ज्यादा बुरा है कि कोई पिट रहा हो और आप आगे निकल जाएं. ये कभी भी किसी के साथ हो सकता है. आपके साथ भी. इसे रोकने का एक ही तरीका है. ऐसी घटनाओं का पुरजोर विरोध. वीडियो बनाने वाले को भी पहले इसे रोकने की कोशिश करनी चाहिए थी.

घटना का विरोध भी शुरू

दिलीप की मौत के पीछे एक और एंगल दिया जा रहा है कि वो दलित था, इसलिए उसकी हत्या की गई. हालांकि ऐसी कोई बात सामने नहीं आ रही है. दिलीप के दोस्तों का भी यही कहना है कि हमलावरों में से एक के पैर लगने के बाद हुई कहासुनी में ये कांड हो गया. इसलिए ये गलत है. उधर, घटना पर यूपी में राजनीतिक पार्टियों ने भी विरोध शुरू कर दिया है. लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं. यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने भी ट्वीट किया है. देख लीजिए-

aa

बसपा, कांग्रेस समेत कई छात्र संगठनों ने इस घटना पर कड़ा ऐतराज जताया है. पीड़ित परिवार के लिए मुआवजे की मांग की जा रही है. सोशल मीडिया पर भी लोग इस घटना का पुरजोर विरोध कर रहे हैं. साथ ही आरोपियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. विरोध को देखते हुए इलाहाबाद यूनिवर्सिटी और जिस गायत्री नगर में दिलीप रहता था, वहां फोर्स तैनात कर दी गई है. हालांकि बवाल शुरू हो गया है. इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रों ने एक बस को फूंक दिया है. देखें-

33


ये भी पढ़ें-

दंगाई राज्य: नंबर 1. UP, 2. कर्नाटक, 3. राजस्थान, 4. बिहार, 5. MP

जिस बंदूक ने चंदन गुप्ता को मारा, उससे जुड़ी बड़ी सच्चाई सामने आई है

कौन हैं कासगंज हिंसा में जान गंवाने वाले चंदन गुप्ता?

कौन था इंद्रपाल, जो पुलिस एनकाउंटर में मारा गया

यूपी में जो नकल अध्यादेश लागू हुआ है, उसके चक्कर में राजनाथ सिंह चुनाव हार गए थे

वो दिन दूर नहीं जब एटीएम के अंदर से एक हाथ आएगा और आपको तमाचा मार देगा

लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Video of Law Student Dileep Beaten To Death Outside Restaurant In Allahabad of Uttar Pradesh is Viral

टॉप खबर

गांधी की हत्या में RSS की क्या भूमिका थी?

इस सवाल पर दशकों से सिर धुना जा रहा है, जवाब किसी के पास नहीं है.

Live: येदियुरप्पा कर्नाटक के मुख्यमंत्री बनकर रहेंगे - सुप्रीम कोर्ट

ऐतिहासिक सुनवाई हो रही है. फैसला सुबह 5 बजे आएगा.

बनारस में गाड़ियों के ऊपर गिरा 100 टन वजनी पुल, 18 लोग मर गए

हादसे की तस्वीरें विचलित करने वाली हैं.

महाराष्ट्र में दंगे की जो वजह है, उसपर यकीन ही नहीं होता

इसके लिए सोशल मीडिया भी जिम्मेदार है, जिसने दो लोगों की जान ली है.

कसाब को फांसी के फंदे तक पहुंचाने वाले IPS हिमांशु रॉय ने खुदकुशी कर ली

हिमांशु ने अपनी सर्विस रिवॉल्वर की नली मुंह में रखी और गोली चला दी.

उन्नाव गैंग रेप केस : CBI कह रही है कि कुलदीप सेंगर ने रेप किया है

CBI ने योगी के पुलिस की बखिया उधेड़ दी है

DGP को गए 30 मिनट भी नहीं हुए थे कि एक वकील मार दिया गया

पूरे शहर में मौजूद थी फोर्स, भीड़ के बीच से भाग गए अपराधी.

पहले नाबालिग से गैंगरेप किया, 50 हजार का जुर्माना लगा तो लड़की को जिंदा जला दिया

पंचायत से रेप की सजा मिली तो उससे भड़ककर पीड़िता को आग लगा दी.