Submit your post

Follow Us

सुप्रीम कोर्ट ने मणिपुर के राजनीतिक कार्यकर्ता की रिहाई का आदेश दिया, गोमूत्र पर कमेंट के लिए लगा था NSA

सुप्रीम कोर्ट ने मणिपुर के राजनीतिक कार्यकर्ता एरेन्ड्रो लेचोम्बम (Erendro Leichombam) की रिहाई आदेश जारी कर दिया. एरेन्ड्रो लेचोम्बम और एक स्थानीय पत्रकार किशोरचंद्र ने मई महीने में गोमूत्र और गोबर को लेकर फेसबुक पर टिप्पणी की थी. उसके बाद दोनों को गिरफ्तार किया गया था. इम्फाल वेस्ट जिले के जिलाधिकारी ने एरेन्ड्रो पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून यानी NSA भी लगा दिया था. लेकिन सोमवार 19 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट के जज डीवाई चंद्रचूड की अध्यक्षता वाली बेंच ने आदेश देते हुए कहा कि एरेन्ड्रो लेचोम्बम को तुरंत रिहा किया जाए. उनके वकील शादान फरासत की दलीलों को सुनने के बाद कोर्ट ने सोमवार की शाम 5 बजे से पहले एरेन्ड्रो को रिलीज करने को कहा है. इसके लिए मणिपुर के राजनीतिक कार्यकर्ता को एक हजार रुपये का बॉन्ड भरना होगा.

लाइव लॉ की रिपोर्ट के मुताबिक, सुनवाई के दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की थी कि इस मामले की सुनवाई को मंगलवार 20 जुलाई तक के लिए टाल दिया जाए. इस पर बेंच ने कहा,

‘हम मानते हैं कि याचिकाकर्ता को कारावास में और रखना जीने और स्वतंत्रता के अधिकार का उल्लंघन होगा. हम कोर्ट के अंतरिम आदेश के रूप में उनकी रिहाई का निर्देश देते हैं.’

एरेन्ड्रो के पिता एल रघुमणि सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में ये याचिका दायर की थी. उनका कहना था कि एरेन्ड्रो का मामला ऐसा नहीं था कि उन पर NSA लगाया जाए. रघुमणि का दावा है कि NSA का इस्तेमाल केवल इसलिए किया गया ताकि एरेन्ड्रो को बेल ना मिल सके और कानून की आड़ में उन्हें परेशान किया जाए.

Erendro Leichombam
एरेन्ड्रो लेचोम्बम. (तस्वीर -Facebook.com/LEICHOMBA)

क्या हुआ था?

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान मणिपुर बीजेपी के अध्यक्ष प्रोफेसर टिकेंद्र सिंह ने कोविड संक्रमण के इलाज को लेकर एक दावा किया था. वे कह रहे थे कि गोमूत्र और गोबर से कोविड-19 का इलाज होता है. बाद में वे खुद वायरस की चपेट में आए और 13 मई 2021 को उनका निधन हो गया. उसी दिन मणिपुर के एरेन्ड्रो लेचोम्बम और एक स्थानीय पत्रकार किशोरचंद्र ने गाय के गोबर और पेशाब को लेकर किए जा रह दावे पर एक जैसे पोस्ट कर दिए.

13 मई को किए पोस्ट में एरेन्ड्रो ने लिखा था,

‘गाय का गोबर और पेशाब कोविड का इलाज नहीं है. विज्ञान और सामान्य समझ से इसका इलाज होगा प्रोफेसर जी.’

फेसबुक पर ये लिखना एरेन्ड्रो के लिए मुसीबत बन गया. मणिपुर बीजेपी के नेता उनसे नाराज हो गए और उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी. एरेन्ड्रो लेचोम्बम को 13 मई को ही हिरासत में ले लिया गया. चार दिन बाद 17 मई 2021 को स्थानीय अदालत ने एरेन्ड्रो को बेल दे दी. लेकिन इम्फाल वेस्ट जिले के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ने एरेन्ड्रो को नेशनल सिक्यॉरिटी ऐक्ट के तहत डिटेन कर लिया.

Cow
गाय के गोबर और पेशाब से कोरोना संक्रमण का दावा किया जाता रहा है. (तस्वीर- पीटीआई)

बाद में एरेन्ड्रो के पिता रघुमणि सुप्रीम कोर्ट पहुंचे. उन्होंने इस केस में NSA के इस्तेमाल को कोर्ट में चुनौती दी. याचिका में एरेन्ड्रो की रिहाई की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि ये मामला कानून के गलत इस्तेमाल की मिसाल है. रघुमणि ने कहा कि एरेन्ड्रो का केस कहीं से भी NSA को लागू करने वाला नहीं था. उन्होंने दावा किया कि सार्वजनिक व्यवस्था या सुरक्षा तो दूर की बात, उनके बेटे के पोस्ट से कानून-व्यवस्था तक प्रभावित नहीं होती. इसके बावजूद एरेन्ड्रो पर NSA लगाया गया, सिर्फ इसलिए कि उन्हें बेल ना मिले.

रघुमणि ने याचिका में ये भी कहा कि एरेन्ड्रो पर हुई कार्रवाई सुप्रीम कोर्ट के 30 अप्रैल 2021 को दिए एक आदेश का भी उल्लंघन है. याचिकाकर्ता के मुताबिक, कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि सोशल मीडिया पर दी गई ऐसी किसी जानकारी के लिए लोगों पर कठोर कार्रवाई या उनका शोषण नहीं किया जाएगा, जो दूसरों की मदद करती हो. रघुमणि ने तर्क दिया कि एरेन्ड्रो का पोस्ट कोविड-19 को लेकर फैलाई जा रही गलत जानकारी को दूर करने के इरादे से डाला गया था. उन्होंने कहा कि इस लिहाज से इम्फाल वेस्ट जिले के डीएम ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन किया है, जिसके खिलाफ शीर्ष अदालत में कन्टेम्प्ट पिटिशन भी दायर की गई है.


वीडियो- कांवड़ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट और केंद्र ने UP सरकार को क्या साफ संकेत दे दिया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मुंबई में बारिश से बड़ा हादसा, चेंबूर में दीवार गिरने से 17 की मौत

विक्रोली में भी 6 की मौत, पीएम ने दुख जताया, मुआवजे की घोषणा की.

टी-सीरीज़ वाले भूषण कुमार पर रेप का आरोप लगा, मुंबई में रिपोर्ट दर्ज

मुंबई के डीएन थाने में तीस साल की महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई.

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, तालिबान ने किया था हमला

दानिश सिद्दीकी अपनी तस्वीरों के लिए फेमस थे, 2018 में Pulitzer अवार्ड भी मिला था.

MP के विदिशा में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, 13 लापता, 19 बचाए गए

बच्चा कुएं में गिरा, तो बड़ी संख्या में ग्रामीण कुएं की छत पर चढ़ गए थे.

'नदिया के पार' जैसी बड़ी फ़िल्मों में काम कर चुकीं एक्ट्रेस सविता बजाज की हताशा, "मेरा गला घोंट दो"

इलाज के लिए पैसे नहीं हैं.

PM मोदी ने वाराणसी में जिस रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का उद्घाटन किया, वो है क्या?

योगी सरकार के लिए क्या बोले PM?

कांवड़ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट ने दिखाई सख्ती, लेकिन यूपी सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं?

योगी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री के बयान से तो कुछ ऐसा ही लग रहा.

पीएम मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में ऐसा क्या हुआ कि महाराष्ट्र बीजेपी में उथल-पुथल मच गई?

क्या पंकजा मुंडे की नाराजगी महाराष्ट्र बीजेपी को भारी पड़ेगी?

पंजाबी सिंगर मनमीत सिंह का शव बरामद हुआ, भारी बारिश के बाद बह गए थे

एक नाला पार करते वक्त गिर गए थे मनमीत सिंह.

कोंगु नाडु: मोदी कैबिनेट का विस्तार तमिलनाडु के विभाजन से जुड़े इस पुराने मुद्दे को कैसे हवा दे गया?

तमिल मीडिया के एक हिस्से में इसे लेकर काफी गर्मजोशी दिखाई जा रही है.