Submit your post

Follow Us

चेतन भगत को सड़क पर किताब बेचने वाले ने उन्हीं की क़िताब बेच दी

402
शेयर्स

कौन लेखक नहीं चाहता कि एक दिन उसे सड़क पर उसकी ही क़िताब लिए कोई सेल्समैन मिले. और बात तब और मज़ेदार हो जब वो आपको आपकी ही क़िताब चिपकाना चाहता हो, लेकिन इस सत्य से पूर्णरूपेण अनभिज्ञ हो कि वो साक्षात रचनाकार के सामने ही खड़ा है. देखिए जिस तरह से पिछली लाइन में मैंने अपनी हिंदी का जलवा दिखाकर आपको दिमाग़ भिड़ाने पर मजबूर कर दिया, लोगबाग इसी  को ‘दिखास’ कहते हैं. जैसे छपने छापने की ताबड़तोड़ इच्छा को ‘छपास’ कहते हैं, ठीक वैसे देखने  दिखने की ख़्वाहिश को ‘दिखास’ कहते हैं.

अच्छा ये सब तो हो गई फालतू बातें. थोड़ा माइंड की वर्जिश भी ज़रूरी है न. आदमी सुबह उठकर दौड़ता है तो कहीं आने-जाने के लिए थोड़ी ना दौड़ता है. बस दौड़ने के लिए दौड़ता है.

# अब असल मुद्दा

चेतन भगत. नई उमर वालों के फ़ेमस लेखक हैं. बच्चे ख़ूब पढ़ते हैं. इन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से एक मज़ेदार ट्वीट किया. ट्वीट में एक वीडियो था. वीडियो में एक क़िताब बेचने वाला दिख रहा है. हाथ में ढेर सारी किताबों का एक गट्ठर है. सड़क चौराहे पर अक्सर रेड लाइट के बीच आपकी गाड़ी ऑटोरिक्शा के पास जो बेचने वाले आते हैं. उन्हीं में से एक. ये क़िताब बेचने वाले जानते हैं कि कौन सी क़िताब ज़्यादा बिकती है. तो किताबवाले ने चेतन भगत को एक नई क़िताब दिखाई. क़िताब चेतन भगत की ही थी. क़िताब बेचने वाला तब तक नहीं जानता था कि यही भाई साहब रचनाकार हैं.

चेतन मज़ाक मस्ती करने लगे. पूछने लगे ये लेखक है किसी काम का कि नहीं. किताबवाले ने फट से कहा ‘ख़ूब बिकती है ये क़िताब’

अब लेखक के सामने कोई कहे कि भाई सा’ब क़िताब ख़ूब बिक रही है तो लेखक को मज़ा आएगा ही.

पहले वीडियो देख लीजिए-

चेतन ने हालांकि ये भी पूछा कि ये क़िताब असली है कि नहीं. अब सड़क पर कहां से असली क़िताब आ जाए. क़िताब वाले ने सच भी बोला कि ऑनलाइन की कॉपी है. चेतन ने भाई को शुक्रिया कहा. हाथ मिलाया और बताया कि ‘मैं ही चेतन भगत हूं’

ये सुनकर क़िताब बेचने वाले के चेहरे पर जो क्यूट सा एक्सप्रेशन आया वही असल में इस वीडियो की जमा पूंजी है. क़िताब बेचने वाला भी कहां जानता था कि एक रोज़ चेतन भगत सामने आ जाएंगे.


वीडियो देखें:

नरेंद्र मोदी ने भारत रत्न से पहले प्रणब मुखर्जी से क्या अफसोस जताया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

28 सितंबर को दिल्ली में इंडिया टुडे का 'माइंड रॉक्स', फिल्मी हस्तियां समेत कई दिग्गज होंगे शामिल

रजिस्ट्रेशन करने का तरीका समझ लें, सीधा अपने नेताओं से सवाल करने का मौका मिलने वाला है.

जिस परिवार पर 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' बनी थी, उसमें असल में पंगा हो गया

'फैजल खान' के भांजों ने अपना अलग गैंग बना लिया है.

ईद 2020 की रिलीज़ पर अक्षय-सलमान में जो लफड़ा हो रखा था, उसमें एक और ट्विस्ट आ गया

सलमान ने गोल-मोल ट्वीट करके सबको उलझा दिया है.

क्रिकेटर हर्शेल गिब्स ने आलिया भट्ट को नहीं पहचाना, आलिया ने जवाब दे दिया

हर्शेल गिब्स यानी 6 गेंदों में 6 छक्के और आलिया यानी गली बॉय की सफ़ीना.

प्रेगनेंट औरत 20 किलोमीटर पैदल चलकर डॉक्टर के पास पहुंची, लेकिन घर ज़िंदा न आ सकी

बेशक बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, लेकिन मां को न भूल जाओ.

'पति झगड़ता ही नहीं, मुझे तलाक़ चाहिए': एक ऐसा डिवोर्स केस जिसने जज को कन्फ्यूज कर दिया

दोनों तरफ की दलीलें सुनकर सर पकड़ लेंगे.

सौरव दादा ने दिवंगत नेता को शुभकामनाएं दे डालीं, ट्रोलर्स बोले,'हमें भी यही वाला स्टफ चाहिए'

'दादा, 2003 के वर्ल्ड कप में फील्डिंग चुनने के बाद ये आपकी दूसरी बड़ी ग़लती है.'

बीकानेर: रेप किया, फिर बॉडी जलाकर नहर में फेंक दी

रेप करने वाला कथित तौर पर सरपंच का रिश्तेदार है, इसलिए पुलिस चुप है.

क्रिकेटर संदीप पाटिल फेसबुक यूज़ नहीं करते, फिर भी उनके साथ फेसबुक पर कांड हो गया

हमें ये खबर इसलिए जाननी चाहिए क्यूंकि बहुत संभावन है कि ऐसा फ्रॉड हमारे-आपके साथ भी हो सकता है.

पतंजलि के प्रवक्ता ने कहा, अरुण जेटली को दुःख भरा प्रणाम कर रहा था, मेरा फोन चोरी हो गया

अमित शाह से कहा, मेरा फोन इस जगह है. पकड़ सकते हैं तो पकड़ लें.